ट्यूशन मास्टर ने पहले छात्रा से की झूंठी मोहब्बत फिर उतारा मौत के घाट

murder
ट्यूशन मास्टर ने पहले छात्रा से की झूंठी मोहब्बत फिर उतारा मौत के घाट

नई दिल्ली। एक टयूशन मास्टर ने पहले अपनी ही स्टूडेंट से झूंठी मोहब्बत का नाटक किया और जब छात्रा ने उससे शादी करने की जिद की तो ट्यूटर ने अपने साले के साथ मिलकर उसे मौत के घाट उतार दिया। दिल्ली पुलिस ने इस हत्या का खुलासा करते हुए ट्यूटर समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। लड़की की हत्या बीते 26 सितम्बर को की गयी थी, हत्या करके उसके शव को एक बैग में भरकर नाले में फेंक दिया गया था।

The Tuition Master First Lured The Student To Death And Then Died :

पकड़े गये आरोपी टीचर का नाम नौशाद है, उसने बताया कि वो पेशे से एक ट्यूटर है और 8 से 12वीं क्लास के बच्चों को ट्यूशन पढ़ाता है। मृतका आफरीन दिल्ली के शास्त्री पार्क इलाके की रहने वाली थी। वह भी पहले नौशाद से ट्यूशन पढ़ती थी और फिर धीरे-धीरे दोनों की नजदीकियां बढ़ गयीं। काफी दिनो तक दोनो का रिश्ता चलता रहा फिर नौशाद का कहना है कि आफरीन उससे शादी करने की जिद करने लगी थी इसी वजह से उसने आफरीन की हत्या कर दी।

पुलिस का कहना है कि आफरीन 26 सितम्बर को लापता हुई थी, 29 सितंबर की सुबह पुलिस को जानकारी मिली कि एक शव करावल नगर के गंदे नाले में पड़ा हुआ है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पंहुची, शव की सिनाख्त नही हुई तो शव को म्युर्चरी मे रखवा दिया गया था जहां आफरीन के भाई ने उसकी सिनाख्त 2 अक्टूबर को की। पुलिस ने तुरन्त हत्या का मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। पुलिस आरोपी नौशाद तक सर्विलान्स के माध्यम से पंहुची। हत्या मेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेें नोशाद का साला राजिक भी शामिल था।

नई दिल्ली। एक टयूशन मास्टर ने पहले अपनी ही स्टूडेंट से झूंठी मोहब्बत का नाटक किया और जब छात्रा ने उससे शादी करने की जिद की तो ट्यूटर ने अपने साले के साथ मिलकर उसे मौत के घाट उतार दिया। दिल्ली पुलिस ने इस हत्या का खुलासा करते हुए ट्यूटर समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है। लड़की की हत्या बीते 26 सितम्बर को की गयी थी, हत्या करके उसके शव को एक बैग में भरकर नाले में फेंक दिया गया था। पकड़े गये आरोपी टीचर का नाम नौशाद है, उसने बताया कि वो पेशे से एक ट्यूटर है और 8 से 12वीं क्लास के बच्चों को ट्यूशन पढ़ाता है। मृतका आफरीन दिल्ली के शास्त्री पार्क इलाके की रहने वाली थी। वह भी पहले नौशाद से ट्यूशन पढ़ती थी और फिर धीरे-धीरे दोनों की नजदीकियां बढ़ गयीं। काफी दिनो तक दोनो का रिश्ता चलता रहा फिर नौशाद का कहना है कि आफरीन उससे शादी करने की जिद करने लगी थी इसी वजह से उसने आफरीन की हत्या कर दी। पुलिस का कहना है कि आफरीन 26 सितम्बर को लापता हुई थी, 29 सितंबर की सुबह पुलिस को जानकारी मिली कि एक शव करावल नगर के गंदे नाले में पड़ा हुआ है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पंहुची, शव की सिनाख्त नही हुई तो शव को म्युर्चरी मे रखवा दिया गया था जहां आफरीन के भाई ने उसकी सिनाख्त 2 अक्टूबर को की। पुलिस ने तुरन्त हत्या का मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। पुलिस आरोपी नौशाद तक सर्विलान्स के माध्यम से पंहुची। हत्या मेेेेेेेेेेेेेेेेेेेेें नोशाद का साला राजिक भी शामिल था।