1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जितना काम वाराणसी में पिछले 7 साल में हुआ है, उतना पिछले कई दशकों में नहीं हुआ : पीएम मोदी

जितना काम वाराणसी में पिछले 7 साल में हुआ है, उतना पिछले कई दशकों में नहीं हुआ : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm modi) सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कई योजनाओं का काशी की जनता को तोहफा दिया। सिद्धार्थनगर के बाद वाराणसी (Varanasi) पहुंचे पीएम मोदी (Pm Modi) ने आत्मनिर्भर स्वस्थ्य भारत योजना का शुभारंभ किया है। इसके साथ उन्होंने पूर्वांचल को 5189 करोड़ रुपए की परियोजनाओं की सौगात दी। पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना देश की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Pm modi) सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कई योजनाओं का काशी की जनता को तोहफा दिया। सिद्धार्थनगर के बाद वाराणसी (Varanasi) पहुंचे पीएम मोदी (Pm Modi) ने आत्मनिर्भर स्वस्थ्य भारत योजना का शुभारंभ किया है। इसके साथ उन्होंने पूर्वांचल को 5189 करोड़ रुपए की परियोजनाओं की सौगात दी। पीएम आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना देश की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है।

पढ़ें :- किसानों की एक और मांग को मोदी सरकार ने माना, अब पराली जलाना नहीं होगा अपराध

इस योजना के तहत सरकार पांच साल में 64,180 करोड़ रुपये खर्च करने जा रही है। पीएम मोदी ने कहा कि, देश ने कोरोना महामारी से अपनी लड़ाई में 100 करोड़ वैक्सीन डोज के बड़े पड़ाव को पूरा किया है। बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से, मां गंगा के अविरल प्रताप से, काशीवासियों के अखंड विश्वास से, सबको वैक्सीन-मुफ्त वैक्सीन का अभियान सफलता से आगे बढ़ रहा है।

उन्होंने कहा कि, आज़ादी के बाद के लंबे कालखंड में आरोग्य पर, स्वास्थ्य सुविधाओं पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितनी देश को जरूरत थी। देश में जिनकी लंबे समय तक सरकारें रहीं, उन्होंने देश के हेल्थकेयर सिस्टम के संपूर्ण विकास के बजाय, उसे सुविधाओं से वंचित रखा। पीएम मोदी (Pm modi) ने कहा कि, देश के हेल्थ सेक्टर के अलग-अलग गैप्स को एड्रेस करने के लिए आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के 3 बड़े पहलू हैं।

पहला, डाइअग्नास्टिक और ट्रीटमेंट के लिए विस्तृत सुविधाओं के निर्माण से जुड़ा है। इसके तहत गांवों और शहरों में हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर खोले जा रहे हैं, जहां बीमारियों को शुरुआत में ही डिटेक्ट करने की सुविधा होगी। इन सेंटरों में फ्री मेडिकल कंसलटेशन, फ्री टेस्ट, फ्री दवा जैसी सुविधाएं मिलेंगी।

पीएम मोदी (Pm modi) ने कहा कि, योजना का दूसरा पहलू, रोगों की जांच के लिए टेस्टिंग नेटवर्क से जुड़ा है। इस मिशन के तहत, बीमारियों की जांच, उनकी निगरानी कैसे हो, इसके लिए ज़रूरी इंफ्रास्ट्रक्चर का विकास किया जाएगा। यूपी में जिस तेजी के साथ नए मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं, उसका बहुत अच्छा प्रभाव मेडिकल की सीटों और डॉक्टरों की संख्या पर पड़ेगा।

पढ़ें :- Corona virus: कोरोना संक्रमण ने फिर डराया, 24 घंटे में 8 हजार से ज्यादा मिले संक्रमित

ज्यादा सीटें होने की वजह से अब गरीब माता-पिता का बच्चा भी डॉक्टर बनने का सपना देख सकेगा और उसे पूरा कर सकेगा। पीएम मोदी ने कहा कि, आज काशी का हृदय वही है, मन वही है, लेकिन काया को सुधारने का ईमानदारी से प्रयास हो रहा है। जितना काम वाराणसी में पिछले 7 साल में हुआ है, उतना पिछले कई दशकों में नहीं हुआ।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...