1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. …तो यूपी में सबसे पहले इनको लगाया जाएगा कोरोना का टीका

…तो यूपी में सबसे पहले इनको लगाया जाएगा कोरोना का टीका

Then They Will Be Given Corona Vaccine First In Up

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

बलरामपुर. कोविड-19 की रोकथाम के लिए केन्द्र व राज्य सरकारों के साथ स्वास्थ्य विभाग भी लगातार प्रयास कर रहा है। इसी को लेकर जिले में कोरोना वायरस से बचाव के टीकाकरण की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। टीका (वैक्सीन) आने के बाद प्रथम चरण में सबसे पहले इसका लाभ सरकारी और निजी अस्पतालों में कार्यरत तकनीकी और गैर तकनीकी स्वास्थ्यकर्मियों को होगा। जिले में स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयार की जाने वाली इस सूची की तैयारी अंतिम चरण में है। इसके बाद स्टाफ का डाटा बेस टीकाकरण के लिए ऑनलाइन कर दिया जाएगा।

पढ़ें :- स्वास्थ्य मंत्री व उनकी पत्नी ने दिल्ली हार्ट एंड लंग इंस्टीट्यूट में लगवाया टीका

जिलाधिकारी कृष्णा करुणेश ने बताया कि चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के निर्देश पर जिले के सभी एलोपैथी, आयुर्वेदिक, यूनानी व होम्योपैथ पद्धित के चिकित्सक, तकनीकी स्टाफ, गैर तकनीकी स्टाफ, सरकारी और निजी अस्पतालों में कार्यरत सभी प्रकार के स्वास्थ्यकर्मियों का डाटा बेस तैयार किया जा रहा है। इस डाटा बेस को तैयार कराने का उद्देश्य ये है कि कोविड-19 वैक्सीन बनने के बाद जिले इसी सूची के आधार पर सबसे पहले प्रथम चरण में स्वास्थ्य से जुड़े सभी प्रकार के कर्मियों को इसका लाभ दिया जा सके और दूसरे चरण में आवश्यकता पड़ने पर जनसमुदाय के टीकाकरण में मेडिकल स्टाफ की सहायता भी ली जा सके।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. घनश्याम सिंह ने बताया कि सभी सरकारी और गैर सरकारी अस्पतालों के प्रबंधकों को सूची तैयार करने का निर्देश जारी किया जा चुका है। अस्पताल के अधीक्षकों, प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों तथा निजी अस्पतालों के संचालकों की अलग-अलग बैठक में उन्हें दिशा-निर्देश दिया है कि यह कार्य प्राथमिकता के साथ होना चाहिए। उन्होंने बताया कि शासन और जिलाधिकारी से प्राप्त दिशा निर्देश के अनुसार जनपद में कार्यरत समस्त मेडिकल, पैरामेडिकल एवं नॉन मेडिकल स्टाफ को सूचीबद्ध किया जा रहा है। इस सूची में नियमित कर्मचारियों के अलावा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संविदा और आउटसोर्सिंग के कर्मचारी भी शामिल होंगे। जिले में क्रियाशील राज्य और मंडल स्तरीय कार्यालयों में कार्यरत विभागीय कर्मचारियों, सरकारी एवं निजी मेडिकल व पैरामेडिकल कॉलेज के शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक स्टाफ, विद्यार्थियों और निजी अस्पतालों के समस्त स्टाफ को सूचीबद्ध किया जाएगा। जनपद के केंद्रीय स्वास्थ्य संगठनों को इस सूची से बाहर रखा गया है। सीएमओ ने बताया की जिला प्रशिक्षण अधिकारी डॉ. अरुण कुमार की देखरेख में अंतिम चरण में सूची तैयार की जा रही है।

सीवीबीएम सिस्टम पर अपडेट होगा सभी का डेटाबेस
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. अरुण कुमार ने बताया कि भारत सरकार के निर्देश पर एकत्र की गई सभी सूचियों को कोविड वैक्सीनेसन बेनीफिशियरी मैनेजमेंट सिस्टम (सीवीबीएमएस) पर अपडेट किया जाएगा। उन्होंने बताया कि 31 अक्टूबर तक यह सूची अपडेट कर दी जाएगी। वैक्सीन उपलब्ध हो जाने पर सूची के अनुसार टीकाकरण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त जनपद में वैक्सीन स्टोरेज की क्षमता भी बढ़ाई जा रही है ताकि भंडारण की समस्या उत्पन्न न हो।

पढ़ें :- पीएम मोदी के Corona vaccine लगवाने पर विपक्ष-सत्तापक्ष में छिड़ी जुबानी जंग

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...