1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. हौंसले और मेहनत का कोई विकल्प नहीं…प्रदीप मेहरा का मिशन इंडियन आर्मी है,जानें पूरी कहानी

हौंसले और मेहनत का कोई विकल्प नहीं…प्रदीप मेहरा का मिशन इंडियन आर्मी है,जानें पूरी कहानी

सोशल मीडिया आज हर किसी के अच्छे कार्य को पहचान दिलाने का एक अच्छा माध्यम बन चुका है। इस समय सोशल मीडिया पर 19 साल लड़के का वीडियो तेजी से वायरल है। इस वीडियो में लड़का तेजी दौड़ते हुए घर जा रहा है। लड़के का नाम प्रदीप मेहरा है। वह मैकडॉनल्ड कंपनी में काम करता है। इसका मिशन इंडियन आर्मी में जाना है। प्रदीप मेहरा कहते हैं कि रात को जब शिफ्ट खत्म होती है तो वह रोजाना 10 किमी दूर अपने घर दौड़कर जाता है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। सोशल मीडिया आज हर किसी के अच्छे कार्य को पहचान दिलाने का एक अच्छा माध्यम बन चुका है। इस समय सोशल मीडिया पर 19 साल लड़के का वीडियो तेजी से वायरल है। इस वीडियो में लड़का तेजी दौड़ते हुए घर जा रहा है। लड़के का नाम प्रदीप मेहरा है। वह मैकडॉनल्ड कंपनी में काम करता है। इसका मिशन इंडियन आर्मी में जाना है। प्रदीप मेहरा कहते हैं कि रात को जब शिफ्ट खत्म होती है तो वह रोजाना 10 किमी दूर अपने घर दौड़कर जाता है।

पढ़ें :- Taau Dance Video: अपनी पत्नी को देख ताऊ करने लगे चूं चें चूं चें चें, देख आप नहीं रोक पायेंगे हंसी

 

इस वीडियो को फिल्म मेकर विनोद कापड़ी ने सोशल मीडिया पर ट्वीट किया है। विनोद कापड़ी कहा कि वह रात 12 बजे गाड़ी से गुजर रहे थे, इसी दौरान उनकी नजर एक दौड़ते हुए लड़के पर पड़ी, जो कंधे पर बैग लिए तेज रफ्तार से दौड़ रहा था। कापड़ी ने उसे गाड़ी से घर छोड़ने का ऑफर दिया, लेकिन उसने लिफ्ट लेने से इंकार कर दिया।

पढ़ें :- Jammu-Kashmir : सेना और पुलिस ने कुपवाड़ा में LoC के पास दो आतंकवादियों को मार गिराया

प्रदीप के वीडियो पर पूर्व सैन्य अफसर ने उसकी ट्रेनिंग की व्यवस्था की बात की है। इसी तरह उत्तराखंड के पूर्व मंत्री ने इनकी मां के इलाज की बात कही है। उद्योगपति आनंद महिंद्रा, रालोद अध्यक्ष जयंत चौधरी जैसे लोगों ने भी प्रदीप के जज्बे को सराहा है।

सेना में जाने के लिए दौड़ रहा हूं

विनोद के सवाल दौड़ क्यों रहे हो? प्रदीप दौड़ते हुए ही जवाब देता है कि सेना में जाना है, इसलिए मैं रोज अपनी शिफ्ट के बाद घर तक दौड़कर जाता हूं। सुबह 8 बजे ड्यूटी पर जाना होता है। टाइम नहीं मिलता है, इसलिए शिफ्ट खत्म होने के बाद दौड़ते हुए घर जाना है। खाना बनाना होता है, इसलिए इस वक्त दौड़कर जाता हूं। मम्मी का इलाज चल रहा है।

प्रदीप कहता है कि मैं अपने सपने को पूरा करने के लिए भाग रहा हूं। मेरा घर उत्तरखंड के अल्मोड़ा जिले में है। यहां नोएडा के बरौला में भाई के साथ रह रहा हूं। विनोद कापड़ी कहते हैं कि बच्चे वीडियो वायरल हो जाएगा। इस पर प्रदीप कहता है कि कोई गलत काम थोड़े कर रहा है, वायरल हो जाने दीजिए। मुझे कौन पहचान रहा है?

सेक्टर-16 से बरौला 10 किमी है। इतना दौड़ता हूं। खाना कब खाओगे? प्रदीप बोलता है- जाकर बनाऊंगा। विनोद कहते हैं कि चलो मेरे घर वहां खिलाता हूं। प्रदीप बोलता है कि भाई भूखा रह जाएगा। उसकी नाइट ड्यूटी है। चलो गाड़ी से छोड़ देता हूं? जवाब आता है कि मैं चला जाऊंगा, मेरी रनिंग बिगड़ जाएगी।

पढ़ें :- ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत ने जीता दूसरा मुकाबला, अब सीरीज जीतने पर रहेगी नज़र

मेहनत के आगे तो दुनिया झुकती है

इसके अगले दिन 11 बजे रात को विनोद कापड़ी फिर मैकडॉनल्ड रेस्त्रां पहुंचे। प्रदीप शिफ्ट खत्म करके बाहर निकल रहा है। विनोद कहते हैं कि मैंने कहा था न कि वीडियो वायरल हो जाएगा। प्रदीप कहता है कि हो जाने दीजिए, कौन सा गलत काम कर रहा हूं। दौड़ ही तो लगा रहा हूं। कुछ लोग उलटा भी बोल रहे हैं। दो-तीन कमेंट देखे मैंने- लिखा है- इसे कश्मीर में दौड़ाओ इसे, दौड़ना भूल जाएगा।

मेरे गांव से मेरे कई दोस्तों का फोन आ रहा है कि भाई तूने तो आग लगा दी। विनोद पूछते हैं कि देश के लोगों को क्या कहना चाहते हो? प्रदीप कहता है कि मेहनत के आगे तो दुनिया झुकती है। अभी मैं फिर दौड़ूंगा। रनिंग बीच में रोकना ठीक नहीं होता है। क्योंकि पैरों में दर्द होता है।

सेना में भर्ती के लिए की बात: लेफ्टिनेंट जनरल सतीश दुआ

भारतीय सेना के लेफ्टिनेंट जनरल सतीश दुआ ने प्रदीप की मदद का भरोसा दिया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि प्रदीप का जोश प्रशंसनीय है। उनकी योग्यता के आधार पर भर्ती परीक्षा पास करने में मदद करने के लिए मैंने कुमाऊं रेजिमेंट के कर्नल, पूर्वी सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल राणा कलिता के साथ बातचीत की है। वह अपनी रेजिमेंट में भर्ती के लिए लड़के को प्रशिक्षित करने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं।

आनंद महिंद्रा को मिल गया सोमवार मोटिवेशन

पढ़ें :- संजय सिंह बोले- बीजेपी देश को जवाब दे कि उसने 10 लाख करोड़ का क़र्ज़ माफ़ करने में कितनी दलाली खाई है?

एक यूजर ने वायरल वीडियो पोस्ट किया और आनंद महिंद्रा को टैग कर उनसे पूछा कि क्या किसी तरह से युवक की मदद की जा सकती है? महिंद्रा ने इसे रीट्वीट करते हुए लिखा कि यह वाकई में प्रेरक है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि मेरा मंडे मोटिवेशन क्या है? ये फैक्ट कि वह कितना इंडीपेंडेंट है और राइड के ऑफर को मना कर रहा है। उसे किसी की मदद नहीं चाहिए। वह आत्मनिर्भर है!’

हरभजन और केविन पीटरसन ने भी की तारीफ

प्रदीप मेहरा के प्रशंसकों में इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन और पूर्व भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह भी शामिल हो गए हैं। प्रदीप की तारीफ में हरभजन सिंह ने लिखा कि चैम्पियंस इसी तरह बनते हैं, फिर चाहे वो स्पोर्टस फील्ड पर हो या फिर जिंदगी में। वह एक विजेता ही साबित होगा। इसी तरह केविन पीटरसन ने लिखा- ये वीडियो आपकी सोमवार की सुबह बेहतर बना देगी। क्या लड़का है?

लक्ष्य में फ़ोकस रहने दे और परेशान न करें: विनोद कापड़ी

फिल्म मेकर विनोद कापड़ी ने कहा कि मेहनत सुनसान होनी चाहिए, कामयाबी का शोर होना चाहिए। ये कहते हुए प्रदीप मेहरा ने मीडिया से अपील की है कि वो उसे उसके लक्ष्य में फ़ोकस रहने दे और परेशान न करें।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...