1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. बिहार में ऐसे हालात नहीं कि लॉकडाउन पर करना पड़े विचार : मंगल पांडेय

बिहार में ऐसे हालात नहीं कि लॉकडाउन पर करना पड़े विचार : मंगल पांडेय

कोरोना की दूसरी लहर की तेज वापसी कर चुकी है। इसके बीच सतर्क बिहार सरकार ने आज कहा कि प्रदेश में स्थिति वैसी नहीं है कि लॉकडाउन पर विचार किया जाए।स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कोरोना के बढ़ रहे मामलों को लेकर राज्य सरकार पूरी तरह से सतर्क है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

पटना। कोरोना की दूसरी लहर की तेज वापसी कर चुकी है। इसके बीच सतर्क बिहार सरकार ने आज कहा कि प्रदेश में स्थिति वैसी नहीं है कि लॉकडाउन पर विचार किया जाए।

पढ़ें :- सीएम योगी बोले-कभी सफल नहीं होगी अवैध धर्मांतरण वालों की मंशा, जाग चुका है देश

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि कोरोना के बढ़ रहे मामलों को लेकर राज्य सरकार पूरी तरह से सतर्क है। मरीजों की जांच और स्वास्थ्य की देखभाल की सुविधा बढ़ा दी गई है। उन्होंने कहा कि 75 हजार के लगभग कोरोना की जांच प्रतिदिन हो रही है।

श्री पांडेय ने कहा कि एक लाख सैंपल की प्रतिदिन जांच हो इस लक्ष्य पर राज्य सरकार काम कर रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में आज समीक्षा बैठक हो रही है, जिसमें सभी जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक और सिविल सर्जन भाग ले रहे हैं। केंद्र सरकार लगातार राज्य सरकार के साथ मिलकर मामले की मॉनिटरिंग कर रही है।

मंत्री ने लॉकडाउन के संबंध में पूछे गए सवाल पर कहा कि राज्य में हालात अभी वैसी नहीं हुई है इसलिए लॉकडाउन पर राज्य सरकार अभी विचार नहीं कर रही है। लॉकडाउन के बजाय परिस्थिति ठीक हो इस पर सरकार काम कर रही है।

बता दें कि बिहार में कोरोना ने एक बार फिर रफ्तार पकड़ ली है।  इसके बावजूद  लोग लापरवाही बरत रहे हैं। हालांकि राज्य सरकार की ओर से इसके लिए कई दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। एहतियात के तौर पर स्कूल, कॉलेज तथा शिक्षण संस्थानों को बंद कर दिया गया है।

पढ़ें :- Asaram Bapu News: आसाराम बापू को लगा बड़ा झटका, शिष्या से दुष्कर्म मामले में दोषी करार

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...