1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी विधानसभा में CM Yogi Adityanath और शिवपाल यादव की बातचीत पर लगा ठहाका

यूपी विधानसभा में CM Yogi Adityanath और शिवपाल यादव की बातचीत पर लगा ठहाका

यूपी विधानसभा के बजट सत्र (UP Assembly Budget Session) में बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अपनी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए जहां नेता प्रतिपक्ष व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर कटाक्ष किए। वहीं उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) पर विनम्र रहे । योगी ने कहा कि हम आपके संघर्षों का सम्मान करते हैं। आपके साथ अन्याय हुआ है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी विधानसभा के बजट सत्र (UP Assembly Budget Session) में बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने अपनी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए जहां नेता प्रतिपक्ष व सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) पर कटाक्ष किए। वहीं उनके चाचा शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) पर विनम्र रहे । योगी ने कहा कि हम आपके संघर्षों का सम्मान करते हैं। आपके साथ अन्याय हुआ है।

पढ़ें :- स्वामी प्रसाद मौर्य का भाजपा पर हमला, कहा-नीरव मोदी, ललित मोदी और मेहुल चौकसी में से कोई भी पिछड़ी जाति का नहीं

मुख्यमंत्री योगी ने सिंचाई योजना का उल्लेख करते हुए अपनी सरकार में किए गए कार्य का वर्णन किया। उन्हें बीच में ही टोकते हुए शिवपाल ने कहा कि अगर हम हटाए न जाते तो योजना पूरी कर देते । हमने करीब-करीब 90 फीसदी काम पूरा कर दिया था। जिस पर योगी बोले, जनता को पता था कि आप नहीं कर पाएंगे इसलिए हमें चुना गया जिस पर शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) बोले कि अगर हटाए न जाते तो पूरा कर देते।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हम तो जानते हैं कि आप विकास करना चाहते थे पर काम नहीं करने दिया गया। अगर हमारी तरफ होते तो अच्छा होता। इस पर शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने कहा कि हम तीन साल तक आपसे संपर्क में रहे।  योगी बोले, ‘हम अब भी संपर्क में हैं’। योगी ने कहा कि अब किसी को कंफ्यूजन नहीं होना चाहिए। इस पर सदन ठहाकों से गूंज उठा।

योगी के भाषण के दौरान शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav)  ने कई बार उन्हें टोंकते हुए खुद के मंत्री रहते हुए कराए गए विकास कार्यों का जिक्र किया। इस पर योगी ने कहा कि आप संघर्षों से बढ़े हैं। हमारे यहां संघर्षों का सम्मान होता है। सदन में नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) मौजूद नहीं थे।

पढ़ें :- लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर अखिलेश का नया समीकरण, राहुल गांधी के बहाने कांग्रेस से की ये बड़ी मांग
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...