1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. पीरियड्स के दर्द की तरह ही हैं ये 5 फैक्ट्स, जानने के बाद आप भी जान जाएंगे क्यों होता है मासिक धर्म

पीरियड्स के दर्द की तरह ही हैं ये 5 फैक्ट्स, जानने के बाद आप भी जान जाएंगे क्यों होता है मासिक धर्म

These 5 Factors Are Like The Pain Of Periods After Knowing You Will Also Know Why Menstruation Happens

By आराधना शर्मा 
Updated Date

लखनऊ: हर महिला को पीरियड्स के दर्द से हर महीने गुजरना पड़ता है। इस बात मे कोई दो राय नहीं है कि मासिक धर्म का दर्द बड़ा असहनीय होता है। लेकिन इससे जुड़ी जो जरूरी सच्चाई है उसके बारे में शायद ही किसी को महिला को मालूम होगा।

पढ़ें :- बाल झड़ने की समस्या कर रही है परेशान, डाइट मे शामिल करें ये 4 सुपर फूड्स...

ये बात भी है कि शायद ही कोई इस पहलू पर ध्यान देता होगा, या आपको सच में नहीं पता हो इन जरूरी सच्चाईयों के बारे में… तो कोई नहीं आज जान लीजिए। आज हम आपको इससे जुड़ी 5 महत्वपूर्ण बातों के बारे में बताते हैं, जिन्हें जानकर आप सोचेंगे कि क्या सच में ऐसा होता है? आइये जानतें हैं…

इस वजह होता है पीरियड

पीरियड की वजह से आपके शरीर में आयरन की कमी भी हो सकती है। अगर प्रवाह ज्यादा है तो आपको यह परेशानी होती है, जिसकी वजन से आप थकावट महसूस करती हैं।

जरूरी है बॉडी फैट

मासिक धर्म के लिए बॉडी फैट(वसा) होना जरूरी है। अगर आपके शरीर में उपस्थित वसा 8-12 प्रतिशत कम हो जाता है तो आपके पीरियड अचानक से बंद हो जाने की संभावनाएं बढ़ जाएंगी। महिलाओं में उपस्थित वसा कोशिकाएं एस्ट्रोजिन लेवल से संबंधित हैं, इसलिए यह प्रजनन और मासिक धर्म दोनों के लिए जरूरी है

दिखते हैं ऐसे लक्षण

जब आपको पीरियड होने वाले होते हैं तो आपके शरीर में गर्भावस्था जैसे लक्षण दिखने लगते हैं। चिड़चिड़ापन, पेट फूलना, मुंहांसे आना, शरीर के तरल पदार्थों का रुकना आदि ये सब चीजें गर्भावस्था के दौरान होती हैं तो अगर ये सब आप पीरियड के दौरान महसूस करती हैं तो चिंता मत करिए, ये स्वाभाविक है।

पढ़ें :- स्किन बनानी है चमकदार या हेल्थ की हो कोई समस्या, ये एक ड्रिंक आपकी हर समस्या को करेगी दूर

ठंड में पीरियड का प्रभाव

ठंड के महीनों में पीरियड के प्रभाव और ज्यादा बढ़ जाते हैं और ज्यादा कष्टप्रद हो जाते हैं। जैसे दर्द का बढ़ना, रक्त प्रवाह का बढ़ना और यहां तक कि गर्मी की तुलना में पीरियड की अवधि यानि कि दिन भी बढ़ जाते हैं।

समकालिक पीरियड का वैज्ञानिक प्रमाण नहीं

हम हमेशा बात करते हैं कि हमारा पीरियड हमारे आस-पास की महिलाओं के साथ ताल-मेल बैठा के आता है, पर ऐसा नहीं है। समकालिक पीरियड अबतक वैज्ञानिक तौर पर प्रमाणित नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...