पीरियड्स के असहनीय दर्द से राहत दिलाएंगे ये 5 घरेलू नुस्खे

periods-pain-1575959528

नई दिल्ली: आमतौर पर महिलाओ को पीरियड्स के दौरान असहनीय दर्द होता है। पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग दर्द निवारक दवाओं का सहारा लेना पड़ता है, जो हमारे शरीर को नुकसान पहुँचती है। आज हम आप को कुछ ऐसे घरेलु नुस्खे बताने जा रहे है जिनको अपनाकर आप इस दर्द से राहत पा सकती हो।

These 5 Home Remedies Will Give Relief From Unbearable Pain Of Periods :

मेथी
मेथी मोटापा को कम करने के साथ-साथ किडनी, लिवर आदि को स्वस्थ रखती है। साथ ही यह पीरियड्स के दर्द को कम करने में काफी मदद करता है। इसके लिए एक गिलास में एक चम्मच मेथी डालकर भिगो दें और दूसरे दिन इस पानी का सेवन कर लें।

सिकाई
पेट में सिकाई करने से भी आपको पीरियड के दर्द में आराम मिलता है। इसके लिए आप हीट बैग या फिर एक बोतल में गर्म पानी भरकर उससे सिकाई कर सकती हैं।

तिल का तेल से मसाज
तिल के तेल का इस्तेमाल पारंपरिक अभ्यंग में किया जाता है। इससे आर्युवेद में मसाज के रुप में किया जाता है। तिल के तेल में भरपूर मात्रा में लिनोलिक एसिड, और एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटीऑक्सिडेंट गुण पाए जाते है। आयुर्वेदिक एक्सपर्ट के अनुसार पीरियड्स के समय तिल का थोड़ा सा तेल लेकर अपने पेट के निचले भाग में हल्के हाथों मसाज करें। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा।

जीरा
आप चाहे तो दर्द से निजात पाने के लिए जीरा का इस्तेमाल चाय बनाने में कर सकती हैं। जीरा में एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी स्पासमोडिक नामक तत्व पाए जाते हैं।

अदरक-काली मिर्च की चाय
आयुर्वेद के अनुसार हर्बल टी जैसे सुखी हुए अदरक और काली मिर्च आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। आप टेस्ट के लिए थोड़ी सी चीनी डाल लें। लेकिन दूध का इस्तेमाल न करें। अदरक आपको दर्द से निजात दिलाने में मदद करेगा क्योंकि यह प्रोस्टाग्लैंडिंस के स्टेज को कम करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

नई दिल्ली: आमतौर पर महिलाओ को पीरियड्स के दौरान असहनीय दर्द होता है। पीरियड्स के दर्द से छुटकारा पाने के लिए अलग अलग दर्द निवारक दवाओं का सहारा लेना पड़ता है, जो हमारे शरीर को नुकसान पहुँचती है। आज हम आप को कुछ ऐसे घरेलु नुस्खे बताने जा रहे है जिनको अपनाकर आप इस दर्द से राहत पा सकती हो। मेथी मेथी मोटापा को कम करने के साथ-साथ किडनी, लिवर आदि को स्वस्थ रखती है। साथ ही यह पीरियड्स के दर्द को कम करने में काफी मदद करता है। इसके लिए एक गिलास में एक चम्मच मेथी डालकर भिगो दें और दूसरे दिन इस पानी का सेवन कर लें। सिकाई पेट में सिकाई करने से भी आपको पीरियड के दर्द में आराम मिलता है। इसके लिए आप हीट बैग या फिर एक बोतल में गर्म पानी भरकर उससे सिकाई कर सकती हैं। तिल का तेल से मसाज तिल के तेल का इस्तेमाल पारंपरिक अभ्यंग में किया जाता है। इससे आर्युवेद में मसाज के रुप में किया जाता है। तिल के तेल में भरपूर मात्रा में लिनोलिक एसिड, और एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटीऑक्सिडेंट गुण पाए जाते है। आयुर्वेदिक एक्सपर्ट के अनुसार पीरियड्स के समय तिल का थोड़ा सा तेल लेकर अपने पेट के निचले भाग में हल्के हाथों मसाज करें। इससे आपको काफी लाभ मिलेगा। जीरा आप चाहे तो दर्द से निजात पाने के लिए जीरा का इस्तेमाल चाय बनाने में कर सकती हैं। जीरा में एंटी-इंफ्लामेट्री और एंटी स्पासमोडिक नामक तत्व पाए जाते हैं। अदरक-काली मिर्च की चाय आयुर्वेद के अनुसार हर्बल टी जैसे सुखी हुए अदरक और काली मिर्च आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती है। आप टेस्ट के लिए थोड़ी सी चीनी डाल लें। लेकिन दूध का इस्तेमाल न करें। अदरक आपको दर्द से निजात दिलाने में मदद करेगा क्योंकि यह प्रोस्टाग्लैंडिंस के स्टेज को कम करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।