इन फूड्स को करें रिप्लेस, लंबी उम्र तक बुढ़ापे से रहेंगे दूर

इन फूड्स को करें रिप्लेस, लंबी उम्र तक बुढ़ापे से रहेंगे दूर
इन फूड्स को करें रिप्लेस, लंबी उम्र तक बुढ़ापे से रहेंगे दूर

लखनऊ।कई बार हम टेस्ट के चक्कर में तो कई बार भूख मिटाने के लिए अपनी पसंद का खाना खाते हैं। ऐसे में हमारा ध्यान इस बात पर अधिक रहता है कि ऐसे में हमारे लिए क्या खाना बेहतर है। आपको भी यह जानकर हैरानी होगी कि किसी जमाने में हेल्दी माने जानेवाले कुछ फूड्स हमें तेजी से बूढ़ा दिखाने का काम करते हैं। आइए जानते हैं ऐसे कुछ फूड्स के बारे में जिन्हे हमें रिप्लेस करने की जरूरत है….

These 9 Foods May Responsible For Your Premature Or Early Aging :

पोटेटो से स्वीट पोटेटो

अगर आपको पोटेटो खाने ही हैं फ्राइड पोटेटोज की जगह बेक किए हुए स्वीट पोटेटो यानी शकरकंद खाएं। ये ऐंटीएजिंग कॉपर से भरपूर होते हैं। जो हमारी स्किन में कॉलेजन की मात्रा बढ़ाने का काम करता है। कॉलेजन हमारी स्किन को यंग और फ्लॉलेस बनाता है।

वाइट ब्रेड खाना

हम सभी के लिए सबसे आसान नाश्ता होता है कि बटर में ब्रेट सेक लिए और नाश्ता तैयार है। या ब्रेड सैंडविच बना लिया और नाश्ता कंप्लीट। ऐसा करके हम दिन की शुरुआत के साथ ही अपने शरीर को हार्मफुल टॉक्सिन्स से भरने लगते हैं।
रिफाइंड कार्ब्स को जब प्रोटीन के साथ मिलाकर तैयार किया जाता है तो यह तेजी से स्किन को डल बनाने का काम करता है।

वाइट ब्रेड नहीं स्प्राउट ब्रेड

अगर आपके पास नाश्ता बनाने का वक्त नहीं होता और आप ब्रेड खाकर ही खुश रहना चाहते हैं तो वाइट ब्रेड की जगह स्प्राउट्स ब्रेड खाना शुरू करें। वाइड ब्रेड बॉडी में इंफ्लामेशन बढ़ाने का काम करती है।
जिसका सीधा संबंध बढ़ती उम्र से होता है, जबकि स्प्राउट ब्रेड में ऐंटिऑक्सीडेंट्स होते हैं। जो स्किन को युवा बनाए रखने का काम करते हैं।

बटर

बटर में सैचुरेटेड फैट और ट्रांस फैट दोनों होते हैं।
बटर का टेस्ट बढ़ाने का काम करता है मार्जरीन और मार्जरीन में ओमेगा-6 फैटी एसिड बहुत अधिक होता है, जबकि हमारी बॉडी की इसकी बेहद कम जरूरत होती है।
ओमेगा-6 फैटी एसिड बॉडी में इंफ्लामेशन यानी सूजन बढ़ाने का काम करता है।

ईजी टु कुक फूड

माइक्रोवेव में फटाफट तैयार किया गया खाना आमतौर पर सॉल्ट और फैट से रिच होता है।
प्रॉसेस्ड फूड और फास्ट फूड में तो सोडियम भरपूर मात्रा में होता है।
डायट में अधिक सोडियम लेना हमारी बॉडी में पानी की कमी को बढ़ाता है।
हमारी बॉडी को ब्लॉटेड और पफी बनाता है, जो उम्र से पहले बूढ़ा दिखाने का काम करते हैं।

वाइट शुगर से बनाए दूरी

शुगर के अधिक इनटेक से स्किन पर ऐक्ने की समस्या बढ़ जाती है।
ऐक्ने और पिंपल हमारी स्किन के भद्दा बनाते हैं और स्किन सेल्स को डैमेज करते हैं, इसलिए बेहतर होगा कि अपनी डायट में शुगर को हनी यानी शहद से रिप्लेस कर दें।

कॉफी का सेवन

अगर आप सोडा और कॉफी पीने के शौकीन हैं तो जान लीजिए कि इन दोनों में ही कैफीन बहुत अधिक मात्रा में होता है।
जो आपके स्लीप पैटर्न को डिस्टर्ब करता है।
अगर नींद पूरी ना हो तो स्किन पर डलनेस लगातार बढ़ती रहती है और आप वक्त से पहले बूढ़े दिखने लगते हैं।

तेज आंच पर ना बनाएं खाना

कुछ पॉलिअनसैचुरेटेड ऑइल्स में ओमेगा- 6 फैटी एसिड होता है, जैसे, कॉर्न और सनफ्लॉवर ऑइल।
अगर आप इन तेलों में बना खाना हर रोज तेज आंच पर पकाएंगे या फ्राई करेंगे तो शरीर में सूजन और रेडिकल्स की दिक्कत बढ़ सकती है।
इस परेशानी से बचने के लिए ऑलिव ऑइल और वेजिटेबल ऑइल्स का उपयोग कर सकते हैं।

लखनऊ।कई बार हम टेस्ट के चक्कर में तो कई बार भूख मिटाने के लिए अपनी पसंद का खाना खाते हैं। ऐसे में हमारा ध्यान इस बात पर अधिक रहता है कि ऐसे में हमारे लिए क्या खाना बेहतर है। आपको भी यह जानकर हैरानी होगी कि किसी जमाने में हेल्दी माने जानेवाले कुछ फूड्स हमें तेजी से बूढ़ा दिखाने का काम करते हैं। आइए जानते हैं ऐसे कुछ फूड्स के बारे में जिन्हे हमें रिप्लेस करने की जरूरत है.... पोटेटो से स्वीट पोटेटो अगर आपको पोटेटो खाने ही हैं फ्राइड पोटेटोज की जगह बेक किए हुए स्वीट पोटेटो यानी शकरकंद खाएं। ये ऐंटीएजिंग कॉपर से भरपूर होते हैं। जो हमारी स्किन में कॉलेजन की मात्रा बढ़ाने का काम करता है। कॉलेजन हमारी स्किन को यंग और फ्लॉलेस बनाता है। वाइट ब्रेड खाना हम सभी के लिए सबसे आसान नाश्ता होता है कि बटर में ब्रेट सेक लिए और नाश्ता तैयार है। या ब्रेड सैंडविच बना लिया और नाश्ता कंप्लीट। ऐसा करके हम दिन की शुरुआत के साथ ही अपने शरीर को हार्मफुल टॉक्सिन्स से भरने लगते हैं। रिफाइंड कार्ब्स को जब प्रोटीन के साथ मिलाकर तैयार किया जाता है तो यह तेजी से स्किन को डल बनाने का काम करता है। वाइट ब्रेड नहीं स्प्राउट ब्रेड अगर आपके पास नाश्ता बनाने का वक्त नहीं होता और आप ब्रेड खाकर ही खुश रहना चाहते हैं तो वाइट ब्रेड की जगह स्प्राउट्स ब्रेड खाना शुरू करें। वाइड ब्रेड बॉडी में इंफ्लामेशन बढ़ाने का काम करती है। जिसका सीधा संबंध बढ़ती उम्र से होता है, जबकि स्प्राउट ब्रेड में ऐंटिऑक्सीडेंट्स होते हैं। जो स्किन को युवा बनाए रखने का काम करते हैं। बटर बटर में सैचुरेटेड फैट और ट्रांस फैट दोनों होते हैं। बटर का टेस्ट बढ़ाने का काम करता है मार्जरीन और मार्जरीन में ओमेगा-6 फैटी एसिड बहुत अधिक होता है, जबकि हमारी बॉडी की इसकी बेहद कम जरूरत होती है। ओमेगा-6 फैटी एसिड बॉडी में इंफ्लामेशन यानी सूजन बढ़ाने का काम करता है। ईजी टु कुक फूड माइक्रोवेव में फटाफट तैयार किया गया खाना आमतौर पर सॉल्ट और फैट से रिच होता है। प्रॉसेस्ड फूड और फास्ट फूड में तो सोडियम भरपूर मात्रा में होता है। डायट में अधिक सोडियम लेना हमारी बॉडी में पानी की कमी को बढ़ाता है। हमारी बॉडी को ब्लॉटेड और पफी बनाता है, जो उम्र से पहले बूढ़ा दिखाने का काम करते हैं। वाइट शुगर से बनाए दूरी शुगर के अधिक इनटेक से स्किन पर ऐक्ने की समस्या बढ़ जाती है। ऐक्ने और पिंपल हमारी स्किन के भद्दा बनाते हैं और स्किन सेल्स को डैमेज करते हैं, इसलिए बेहतर होगा कि अपनी डायट में शुगर को हनी यानी शहद से रिप्लेस कर दें। कॉफी का सेवन अगर आप सोडा और कॉफी पीने के शौकीन हैं तो जान लीजिए कि इन दोनों में ही कैफीन बहुत अधिक मात्रा में होता है। जो आपके स्लीप पैटर्न को डिस्टर्ब करता है। अगर नींद पूरी ना हो तो स्किन पर डलनेस लगातार बढ़ती रहती है और आप वक्त से पहले बूढ़े दिखने लगते हैं। तेज आंच पर ना बनाएं खाना कुछ पॉलिअनसैचुरेटेड ऑइल्स में ओमेगा- 6 फैटी एसिड होता है, जैसे, कॉर्न और सनफ्लॉवर ऑइल। अगर आप इन तेलों में बना खाना हर रोज तेज आंच पर पकाएंगे या फ्राई करेंगे तो शरीर में सूजन और रेडिकल्स की दिक्कत बढ़ सकती है। इस परेशानी से बचने के लिए ऑलिव ऑइल और वेजिटेबल ऑइल्स का उपयोग कर सकते हैं।