ये हैं दुनिया की सबसे ख़तरनाक लेडी गैंगेस्टर

अभी तक तो आप लोगो ने ने क्राइम की दुनिया के बेताज बादशाहो के बारे में ही सुना होगा। लेकिन क्या आप इन लेडी गेंगस्टरो के बारे में सुना है जिन्होंने ने क्राइम की दुनिया में कदम ही नहीं रखा बल्कि इनके नाम न जाने कितने ही मामले दर्ज है और ये लेडी गेंगस्टरो के रूप में पूरी दुनिया में मशहूर हो चुकी है। तो आइये जानते है इन लेडी गेंगस्टरो के बारे में……

क्लाउडिया ओचाओ फेलिक्स –

{ यह भी पढ़ें:- महज 2 सेकेंड में हो गया चमत्कार, देखें वीडियो की सच्चाई }

क्लाउडिया ओचाओ फेलिक्स को मेक्सिको की ऐसी पहली महिला ड्रग लार्ड हैं, जिन्होंने खुद अपनी क्राइम फैमिली स्टार्ट की है। खूबसूरत डॉन क्लाउडिया को ‘मेक्सिको की किम करदाशियां’ के नाम से भी जाना जाता है। साल 1987 में जन्मीं क्लाउडिया को बेरहम कातिल के बतौर जाना जाता है। क्लाउडिया सोशल मीडिया पर भी खूब मशहूर हैं और फेसबुक और ट्विटर पर अपनी सेल्फी पोस्ट करती रहती हैं।

गैंगस्टर, सांद्रा –

मेक्सिको की सबसे बड़ी ड्रग डीलर के रूप में मशहूर रहीं गैंगस्टर सांद्रा को ‘क्वीन ऑफ़ पेसेफिक’ के नाम से भी जाना जाता है। 11 अक्टूबर 1960 को पैदा हुई सांद्रा का ड्रग साम्राज्य इतना बड़ा था कि एक वक़्त पर उसे मेक्सिको की सबसे अमीर औरत के रूप में भी जाना जाने लगा था। सांद्रा ने दो बार शादी की और उसके दोनों ही पति एक्स पुलिसमैन थे, जो बाद में ड्रग डीलर बने। इन दोनों की ही हत्या हुई और शक भी सांद्रा पर ही जताया जाता है।

{ यह भी पढ़ें:- महिला आरक्षी के साथ रंगरेलियां मना रहा था इंस्पेक्टर, पति ने छुपकर बना लिया वीडियो }

मेलिसा काल्डेरोन –

मेलिसा काल्डेरोन को फिलहाल दुनिया के सबसे बेरहम गैंगस्टर्स में से एक माना जाता है। एक अनुमान के मुताबिक मेलिसा अब तक 150 लोगों को मौत के घाट उतार चुकी है। मेलिसा को अंडरवर्ल्ड में ‘La China’ के नाम से भी जाना जाता है, जबकि उसके गैंग का नाम ‘Las Fuerzas Especiales de Los Dámaso’ है। पुलिस के मुताबिक मेलिसा के गैंग में 300 से ज्यादा लोग हैं। 32 साल की मेलिसा फिलहाल ड्रग ट्रैफिकिंग और सुपारी किलिंग में उस्ताद माना जाता है। 20 सितंबर 2015 को मेक्सिकन पुलिस ने एंटी ड्रग मूवमेंट के तहत मेलिसा को गिरफ्तार कर लिया था और वो फिलहाल भी जेल में ही है।

सेमैंथा ल्यूथवेट –

‘व्हाइट विडो’ नाम से कुख्यात ब्रिटेन की महिला आतंकवादी सेमैंथा ल्यूथवेट पर 400 लोगों की हत्या करने के आरोप हैं। इसके साथ ही वह सोमालिया और केन्या में आतंकवादी कार्रवाई, आत्मघाती हमले और कार बम विस्फोटों में भी शामिल रही है। 32 वर्षीय सेमैंथा ने सोमालिया के आतंकवादी समूह अल शबाब में शामिल होने के बाद 400 लोगों की हत्या की। उस पर केन्या विश्वविद्यालय पर भी हमला करने का आरोप है, जिसमें 148 लोगों की मौत हो गई थी। सेमैंथा चार बच्चों की मां भी है।

{ यह भी पढ़ें:- ये है सबसे कम उम्र में WWE टाइटल जीतने वाली महिला रेसलर, देखें तस्वीरें }