जीरे और गुड़ के सेवन से आपको छू नहीं सकती हैं यह बीमारियां, जानिए क्या-क्या हैं फायदे

jira
जीरे और गुड़ के सेवन से आपको छू नहीं सकती हैं यह बीमारियां, जानिए क्या-क्या हैं फायदे

लखनऊ। स्वास्थ्य को लेकर हम लोग काफी चिंतित रहते हैं। मौजूद स्थिति में हर व्यक्ति स्वास्थ्य को लेकर तरह—तरह के काम करने में जुटा हुआ है। हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे घरेलू उपाय जिसे घाने से कई बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है। दरअसल, वह है जीरा और गुड़, जिसका नियमित सेवन करने से कई फायदे होते हैं।

These Diseases Cannot Touch You With The Consumption Of Cumin And Jaggery Know What Are The Benefits :

जीरा हमारे घर में प्रतिदिन किसी न किसी रूप में खाने के लिए जरूर प्रयोग किया जाता है।इसका इस्तेमाल हम मुख्य रूप से दाल और सब्जी में जरूर करते हैं। वहीं, गुड़ का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के पकवानों को बनाने में या फिर सामान्य रूप से खाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। आइए जानते हैं इनके फायदे…

1.​वजन घटाने में मदद करता है। जीरे के पानी को उबालकर गुड़ के साथ इसका सेवन किया जाए तो वजन घटाने में प्रभावी रूप से मदद मिलती है। आप चाहें तो जीरे को भूनकर गुड़ के साथ खाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। क

2. ​एनीमिया के खतरे को कम करने में उपयोगी। शरीर में खून की कमी को एनीमिया के नाम से जाना जाता है। यह समस्या मुख्य रूप से गर्भावस्था में महिलाओं को सबसे ज्यादा परेशान करती है। जबकि गुड़ में मौजूद आयरन की भरपूर मात्रा का सेवन उचित मात्रा में किया जाए तो एनीमिया के खतरे को कई गुना तक कम किया जा सकता है। वहीं, जीरे को गुड़ के साथ खाने से ब्लड सर्कुलेशन भी काफी बेहतरीन हो जाता है।

3. ​हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में कारगर। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को हाइपरटेंशन के नाम से भी जाना जाता है। इसके कारण हृदय रोग से जुड़ी कई प्रकार की बीमारियां और स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है। जबकि जीरा और गुड़ में मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम की मात्रा हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कम करने के लिए प्रभावी रूप से कार्य कर सकती है।

4. हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए प्रमुख रूप से कैल्शियम पोषक तत्वों की जरूरत होती है। जबकि जीरा और गुड़ का सेवन भी हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए काफी मददगार साबित हो सकता है।

5. हृदय रोग के कारण कई लोग हर साल अपनी जान गंवाते हैं। भारत में ऐसे लोगों की संख्या काफी ज्यादा है। वहीं, गुड़ और जीरे का सेवन हृदय रोग से बचे रहने के लिए भी काफी लाभदायक असर दिखाता है।

6. ​रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने के लिए जीरे और गुड़ का सेवन काफी लाभदायक असर दिखाता है। इन दोनों खाद्य पदार्थों में एंटी ऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसका सीधा असर इम्यून सेल्स को मजबूत करने के लिए प्रेरित करता है।

7. जीरा और गुड़ पेट के स्वास्थ्य का ध्यान रखने में काफी मदद करता है। इसके लिए जीरा और गुड़ प्रभावी रूप से मददगार साबित होंगे क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा पाई जाती है। फाइबर पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने का कार्य करता है और पेट से जुड़ी कई प्रकार की समस्याओं से भी निजात दिलाता है।

8. सर्दी, खांसी और फ्लू से परेशान लोगों के लिए जीरा और गुड़ रामबाण औषधि की तरह कार्य करेगा। गुड़ की तासीर गर्म होती है। गर्म तासीर वाले खाद्य पदार्थ सर्दी और खांसी की समस्या से निजात दिलाने के लिए काफी प्रभावकारी माने जाते हैं।

लखनऊ। स्वास्थ्य को लेकर हम लोग काफी चिंतित रहते हैं। मौजूद स्थिति में हर व्यक्ति स्वास्थ्य को लेकर तरह—तरह के काम करने में जुटा हुआ है। हम आपको बताने जा रहे हैं ऐसे घरेलू उपाय जिसे घाने से कई बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है। दरअसल, वह है जीरा और गुड़, जिसका नियमित सेवन करने से कई फायदे होते हैं। जीरा हमारे घर में प्रतिदिन किसी न किसी रूप में खाने के लिए जरूर प्रयोग किया जाता है।इसका इस्तेमाल हम मुख्य रूप से दाल और सब्जी में जरूर करते हैं। वहीं, गुड़ का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के पकवानों को बनाने में या फिर सामान्य रूप से खाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। आइए जानते हैं इनके फायदे... 1.​वजन घटाने में मदद करता है। जीरे के पानी को उबालकर गुड़ के साथ इसका सेवन किया जाए तो वजन घटाने में प्रभावी रूप से मदद मिलती है। आप चाहें तो जीरे को भूनकर गुड़ के साथ खाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं। क 2. ​एनीमिया के खतरे को कम करने में उपयोगी। शरीर में खून की कमी को एनीमिया के नाम से जाना जाता है। यह समस्या मुख्य रूप से गर्भावस्था में महिलाओं को सबसे ज्यादा परेशान करती है। जबकि गुड़ में मौजूद आयरन की भरपूर मात्रा का सेवन उचित मात्रा में किया जाए तो एनीमिया के खतरे को कई गुना तक कम किया जा सकता है। वहीं, जीरे को गुड़ के साथ खाने से ब्लड सर्कुलेशन भी काफी बेहतरीन हो जाता है। 3. ​हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में कारगर। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को हाइपरटेंशन के नाम से भी जाना जाता है। इसके कारण हृदय रोग से जुड़ी कई प्रकार की बीमारियां और स्ट्रोक का खतरा भी बढ़ जाता है। जबकि जीरा और गुड़ में मौजूद पोटैशियम और मैग्नीशियम की मात्रा हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कम करने के लिए प्रभावी रूप से कार्य कर सकती है। 4. हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए प्रमुख रूप से कैल्शियम पोषक तत्वों की जरूरत होती है। जबकि जीरा और गुड़ का सेवन भी हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए काफी मददगार साबित हो सकता है। 5. हृदय रोग के कारण कई लोग हर साल अपनी जान गंवाते हैं। भारत में ऐसे लोगों की संख्या काफी ज्यादा है। वहीं, गुड़ और जीरे का सेवन हृदय रोग से बचे रहने के लिए भी काफी लाभदायक असर दिखाता है। 6. ​रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने के लिए जीरे और गुड़ का सेवन काफी लाभदायक असर दिखाता है। इन दोनों खाद्य पदार्थों में एंटी ऑक्सीडेंट की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इसका सीधा असर इम्यून सेल्स को मजबूत करने के लिए प्रेरित करता है। 7. जीरा और गुड़ पेट के स्वास्थ्य का ध्यान रखने में काफी मदद करता है। इसके लिए जीरा और गुड़ प्रभावी रूप से मददगार साबित होंगे क्योंकि इसमें फाइबर की मात्रा पाई जाती है। फाइबर पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने का कार्य करता है और पेट से जुड़ी कई प्रकार की समस्याओं से भी निजात दिलाता है। 8. सर्दी, खांसी और फ्लू से परेशान लोगों के लिए जीरा और गुड़ रामबाण औषधि की तरह कार्य करेगा। गुड़ की तासीर गर्म होती है। गर्म तासीर वाले खाद्य पदार्थ सर्दी और खांसी की समस्या से निजात दिलाने के लिए काफी प्रभावकारी माने जाते हैं।