1. हिन्दी समाचार
  2. ये फिल्में देख ताजा हो जाती हैं ‘कारगिल विजय दिवस’ की यादें

ये फिल्में देख ताजा हो जाती हैं ‘कारगिल विजय दिवस’ की यादें

These Movies Are Fresh To See The Memories Of Kargil Vijay Divas

By पर्दाफाश समूह 
Updated Date

मुंबई। स्वतंत्र भारत के लिये ‘कारगिल विजय दिवस’ एक महत्वपूर्ण दिवस है। इसे हर साल 26 जुलाई को मनाया जाता है। कारगिल युद्ध लगभग 60 दिनों तक चला। ये लड़ाई 3 मई 1999 से शुरू हुई और 26 जुलाई 1999 को खत्म हुई। इस युद्ध में भारत की विजय हुई। इस युद्ध में भारत के सैकड़ों वीर सपूतों ने हंसते हंसते अपनी जान कुर्बान कर दी थी। जिसके चलते हर साल 26 जुलाई को शहीद जवानों के सम्मान के लिए इस दिवस को मनाया जाने लगा।

पढ़ें :- Discovering an Cheap Papers Rewiew

वहीं, कारगिल युद्ध को लेकर बॉलीवुड की कई फिल्में ऐसी हैं, जिसे देखते ही कारगिल दिवस की यादें ताजा हो जाती हैं।बता दें कि कारगिल युद्ध में भारत के 527 जवान शहीद हुए थे। जिनके अमर होने की कहानी आज भी बॉलीवुड फिल्मों में ज़िंदा है। आइये जानते हैं कौनसी फिल्म है जो कार्गिल युद्ध की याद दिलाती है।

2003 में आई फिल्म ‘LOC कारगिल’:

इस फिल्म को डायरेक्टर जेपी दत्ता ने डायरेक्ट किया था। इस फिल्म के जरिए कारगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों की कुर्बानी को बड़े पर्दे पर पेश किया गया था। फिल्म को  ‘एलओसी कारगिल’ नाम दिया गया। इस फिल्म में जे.पी. दत्ता ने उन सभी ऑफिसर्स को दिखाया है जिनकी बदौलत हम पाकिस्तान को खदेड़ने में सफल हुए थे। फिल्म में संजय दत्त, अजय देवगन, सैफ अली खान, सुनील शेट्टी, संजय कपूर, अभिषेक बच्चन, अक्षय खन्ना मोहनीश बहल, नागार्जुन अक्कीनेनी, आशोतोष राना, रानी मुखर्जी, करन नाथ, मनोज वाजपेयी, करीना कपूर, रवीना टंडन और महिमा चौधरी ने मुख्य भूमिका निभाई थी। यह बॉलीवुड की सबसे लंबी फिल्मों में से एक है। मगर इसे बड़ी खूबसूरती से बनाया गया है। फिल्म का नाम पहले मिशन विजय रखा गया था, बाद में इसे बदलकर एलओसी कारगिल कर दिया गया।

ये बताया गया है कि जब जेपी दत्ता ने इस फिल्म को बनाना शुरू किया था तो उन्हें कथित तौर पर पाकिस्तान से धमकियां मिल रही थी। इसके बावजूद जेपी दत्ता फिल्म बनाई और दिसंबर 2003 में ‘एलओसी कारगिल’ रिलीज हुई।

पढ़ें :- जब बिना कपड़ों के इंस्टा पर दिखीं अनुषा दांडेकर, फैंस के उड़े होश... जरा संभल कर देखें तस्वीरें

2004 में आई फिल्म ‘लक्ष्‍य’:

इस फिल्म में 1999 कारगिल युद्ध के कुछ अंश दिखाए गए हैं। फिल्म में दिखाया गया है कि किस तरह से एक इंडियन आर्मी ऑफिसर युद्ध जीतने को ही अपने जीवन का लक्ष्य बना लेता है। इस फिल्म में रितिक रोशन ने लेफ्टिनेंट करण शेरगिल की भूमिका निभाई थी। जिन्होंने अपनी टीम का नेतृत्व कर आतंकवादियों पर फतह हासिल की थी। फिल्‍म को बॉलीवुड निर्देशक और एक्‍टर फरहान अख्‍तर ने डायरेक्‍ट किया था। इस फिल्म में अमिताभ बच्‍चन, रितिक रोशन, प्रीति जिंटा, ओम पुरी और बोमन ईरानी मुख्य भूमिका में नज़र आए थे।

2005 में आई फिल्म ‘टैंगो चार्ली’:

इस फिल्म में मुख्य भूमिका अजय देवगन, संजय दत्त, सुनील शेट्टी और बॉबी देओल ने निभाई थी। इस फिल्म में भी कार्गिल युद्ध के कुछ अंश दिखाए गए हैं। इस फिल्म में एक अलग तरह की लड़ाई को दिखाया गया है, जो पुलिस भर्ती की यात्रा को ट्रैक करते हैं।

2003 में आई फिल्म ‘धूप’:

यह फिल्म 1999 में कारगिल के युद्ध में शहीद हुए अनुज नैय्यर के परिवार से प्रेरित है। जिनकी उम्र 22 साल थी। फिल्म में नैय्यर के पिता की भूमिका में ओम पुरी और मां की भूमिका रेवती ने निभाई है। फिल्म इस नैय्यर जोड़े के भारतीय न्यायिक प्रणाली में भ्रष्टाचार के संघर्ष को दिखाती है। जब उन्हें सरकार द्वारा पेश किए गए पेट्रोल पंप फ्रेंचाइजी को अपने बेटे की मौत के मुआवजे के रूप में दिया जाता है। हालांकि, बहुत संघर्ष के बाद, प्रधान मंत्री इस मामले में हस्तक्षेप करते हैं और दुखी परिवार को राहत मिलती है।

2011 में आई फिल्म ‘मौसम’:

फिल्म मौसम एक ऐसी फिल्म है जो कारगिल युद्ध में कई बाधाओं के खिलाफ़ अपने प्यार के लिए लड़ते हुए दिखाए दिये हैं। ये फिल्म दो प्रेमियों की कहानी है जो कारगिल युद्ध के दौरान अपने प्यार को बचाने में लगे रहते हैं। फिल्म में शाहिद कपूर और सोनम कपूर मुख्य भूमिका में दिखाए गए हैं।

पढ़ें :- IPL 2020: जब बोल्ड होने के बाद धोनी ने अपने इस काम से जीता सबका दिल...

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...