बोर्ड की परीक्षा हो या प्रवेश परीक्षा बेहतर प्रदर्शन के लिए ध्यान रखें इन बातों का

बोर्ड की परीक्षा हो या प्रवेश परीक्षा बेहतर प्रदर्शन के लिए ध्यान रखें इन बातों का
बोर्ड की परीक्षा हो या प्रवेश परीक्षा बेहतर प्रदर्शन के लिए ध्यान रखें इन बातों का

नई दिल्ली। यह वह समय है जिसमें छात्र और अभिभवावक दोनों को परीक्षा के दबाव का सामना करना पड़ता है। जहां एक तरफ परीक्षा नजदीक आ रही है वहीं होली का त्योहार भी सिर पर है। कई बार छात्रों पर बेहतर प्रदर्शन के दबाव की वजह से अपने स्वस्थ का खयाल नहीं रख पाते हैं, लेकिन पढ़ाई के साथ-साथ स्वास्थ्य को लेकर भी संतुलित पहल करने की जरूरत होती है। संतुलित पहल से छात्रों के स्मरणशक्ति में इजाफा और पढ़े हुए पाठ को याद रखने में आसानी होती है।

These Tips Will Help You To Score More In Board Exams And Entrance Exam Preparation :

परीक्षा के समय ध्यान रखें इन बातों का

नियमित व्यायाम: शारीरिक गतिविधि शैक्षणिक प्रदर्शन सुधारने के लिए महत्वपूर्ण कारक है। ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय में हुए अध्ययन में बताया गया है कि प्रत्येक दिन एरोबिक व्यायाम करने से दिमाग के उस भाग का विकास होता है, जिसमें मौखिक स्मरण और सीखने की क्षमता होती है। व्यायाम करने से दिमाग में ऑक्सीजन का प्रवाह होता है जिससे छात्रों के स्मरण और सोचने की क्षमता भी बेहतर होती है।

स्वस्थ आहार: स्वस्थ आहार को अपनी दिनचर्या में शामिल करना एक अच्छी आदत है, लेकिन परीक्षा के समय में इसकी महत्ता और बढ़ जाती है। परीक्षा के समय सब्जियों, फलों, साबुत अनाज, दूध, मछली का सेवन को एक अच्छा आहार माना जाता है। इससे अच्छा प्रदर्शन करने के लिए छात्रों की सभी पोषक जरूरतें पूरी होती हैं। दिमागी गतिविधि और स्मरण की क्षमता विकास के लिए पोषक से भरपूर आहार की जरूरत होती है।

स्वस्थ खान पान भी है जरूरी

प्रतिदिन के आहार में उचित आयुर्वेद (हर्ब) को शामिल करना: आयुर्वेद और आधुनिक अध्ययन के अनुसार, ब्रह्मी स्मृति, बुद्धिमत्ता और सतर्कता को बढ़ाता है। यह एक शक्तिशाली मानसिक टॉनिक है जो स्मृति बढ़ाने, सोच में स्पष्टता लाने का दावा करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से मानसिक दक्षता को बढ़ावा मिलता है जिससे छात्रों को उनका लक्ष्य पाने में मदद मिलती है।

पर्याप्त नींद लेना: परीक्षा के दौरान सबसे जरूरी चीजों में पर्याप्त नींद लेना शामिल है, जिसमें अक्सर छात्र लापरवाही बरतते हैं। परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को अच्छे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए।

हार्वर्ड विश्वविद्यालय में किए गए एक शोध के अनुसार जो छात्र पर्याप्त नींद लेते हैं, उनके ग्रेड कम नींद लेने वाले छात्रों की तुलना में ज्यादा थे।

सुबह में पढ़ें सबसे कठिन विषय

  • विशेषज्ञों के अनुसार सुबह-सुबह का समय पढ़ने के लिए सबसे अच्छा होता है। इस समय पढ़ी गई चीजें ज्यादा याद रहती हैं। कई अध्ययनों के मुताबिक सुबह पढ़ी गई चीजें छात्रों को लंबे समय तक याद रहती हैं।
  • परीक्षा की तैयारी करते समय समय-समय पर ब्रेक लेना जरूरी है। यह ब्रेक आपके मेमोरी को बेहतर करने में भी मददगार होता है। आम तौर पर छात्रों को अपनी पढ़ाई के बीच 10 से 15 मिनट का ब्रेक लेते रहना चाहिए।
नई दिल्ली। यह वह समय है जिसमें छात्र और अभिभवावक दोनों को परीक्षा के दबाव का सामना करना पड़ता है। जहां एक तरफ परीक्षा नजदीक आ रही है वहीं होली का त्योहार भी सिर पर है। कई बार छात्रों पर बेहतर प्रदर्शन के दबाव की वजह से अपने स्वस्थ का खयाल नहीं रख पाते हैं, लेकिन पढ़ाई के साथ-साथ स्वास्थ्य को लेकर भी संतुलित पहल करने की जरूरत होती है। संतुलित पहल से छात्रों के स्मरणशक्ति में इजाफा और पढ़े हुए पाठ को याद रखने में आसानी होती है।परीक्षा के समय ध्यान रखें इन बातों कानियमित व्यायाम: शारीरिक गतिविधि शैक्षणिक प्रदर्शन सुधारने के लिए महत्वपूर्ण कारक है। ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय में हुए अध्ययन में बताया गया है कि प्रत्येक दिन एरोबिक व्यायाम करने से दिमाग के उस भाग का विकास होता है, जिसमें मौखिक स्मरण और सीखने की क्षमता होती है। व्यायाम करने से दिमाग में ऑक्सीजन का प्रवाह होता है जिससे छात्रों के स्मरण और सोचने की क्षमता भी बेहतर होती है।स्वस्थ आहार: स्वस्थ आहार को अपनी दिनचर्या में शामिल करना एक अच्छी आदत है, लेकिन परीक्षा के समय में इसकी महत्ता और बढ़ जाती है। परीक्षा के समय सब्जियों, फलों, साबुत अनाज, दूध, मछली का सेवन को एक अच्छा आहार माना जाता है। इससे अच्छा प्रदर्शन करने के लिए छात्रों की सभी पोषक जरूरतें पूरी होती हैं। दिमागी गतिविधि और स्मरण की क्षमता विकास के लिए पोषक से भरपूर आहार की जरूरत होती है। स्वस्थ खान पान भी है जरूरीप्रतिदिन के आहार में उचित आयुर्वेद (हर्ब) को शामिल करना: आयुर्वेद और आधुनिक अध्ययन के अनुसार, ब्रह्मी स्मृति, बुद्धिमत्ता और सतर्कता को बढ़ाता है। यह एक शक्तिशाली मानसिक टॉनिक है जो स्मृति बढ़ाने, सोच में स्पष्टता लाने का दावा करता है। इसके रोजाना इस्तेमाल से मानसिक दक्षता को बढ़ावा मिलता है जिससे छात्रों को उनका लक्ष्य पाने में मदद मिलती है।पर्याप्त नींद लेना: परीक्षा के दौरान सबसे जरूरी चीजों में पर्याप्त नींद लेना शामिल है, जिसमें अक्सर छात्र लापरवाही बरतते हैं। परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को अच्छे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए।हार्वर्ड विश्वविद्यालय में किए गए एक शोध के अनुसार जो छात्र पर्याप्त नींद लेते हैं, उनके ग्रेड कम नींद लेने वाले छात्रों की तुलना में ज्यादा थे। सुबह में पढ़ें सबसे कठिन विषय
  • विशेषज्ञों के अनुसार सुबह-सुबह का समय पढ़ने के लिए सबसे अच्छा होता है। इस समय पढ़ी गई चीजें ज्यादा याद रहती हैं। कई अध्ययनों के मुताबिक सुबह पढ़ी गई चीजें छात्रों को लंबे समय तक याद रहती हैं।
  • परीक्षा की तैयारी करते समय समय-समय पर ब्रेक लेना जरूरी है। यह ब्रेक आपके मेमोरी को बेहतर करने में भी मददगार होता है। आम तौर पर छात्रों को अपनी पढ़ाई के बीच 10 से 15 मिनट का ब्रेक लेते रहना चाहिए।