यूपी के इन दो गांवों को मिली सूबे में पहली इंटरनेट कनेक्टविटी

लखनऊ। केन्द्र सरकार द्वारा गांवों को इंटरनेट कनेक्टविटी से जोड़ने की योजना के तहत कुशीनगर के कप्तानगंज ब्लॉक के दो गांवों मगडीहा और बोदरवार को शनिवार को आप्टिकल फाईबर नेटवर्क से जुड़ने का गौरव प्राप्त हुआ है। उत्तर प्रदेश में ये दोनों पहले ऐसे गांव हैं जहां ब्रॉडबैंड कनेक्टविटी शनिवार से उपलब्ध हो चुकी है। बीएसएनएल और बीबीएनएल के संयुक्त प्रयास से जोड़े गये दोनों गांव के प्रधानों से कुशीनगर के सांसद राजेश पाण्डेय ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग से बात करके इस नई सेवा का शुभारंभ किया। इन दोनों गांवों के साथ ही उ0प्र0 पर्यटन निगम के होटल पथिक निवास में फ्री वाई फाई की सुविधा भी शुरू की गई है।




मिली जानकारी के मुताबिक कसया के मालती पाण्डेय इंटर कॉलेज में आयोजित एक कार्यक्रम में शिलापट्ट का अनावरण करके सांसद राजेश पाण्डेय ने आॅप्टिकल फाइवर नेटवर्क योजना का शुभारंभ किया। सांसद ने बताया कि गांव को विकास की मुख्य धारा में लाने के लिये केन्द्र सरकार ने गांव को आप्टीकल फाईवर नेटवर्क से जोड़ने की योजना की शुरुआत की है। ये गर्व की बात है कि यूपी में इस योजना की शुरूआत कुशीनगर के मगडीहा और बोदरवार गांव से हुई है।




इस योजना के तहत मगडीहा और बोदरवार गांव में संयुक्त सिस्टम लगाया गया। इस सुविधा के शुरू होने केे बाद सरकारी अफसर सीधे ग्राम प्रधानों से वीडियो कॉलिंग के जरिए सीधे रूबरू हो सकेंगे। गांव के लोग देश विदेश की नवीनतम तकनीकि और खेती से जुड़ी तमाम जानकारियों का लाभ भी ले सकेंगे।




गांवों के लोगों को भी उम्मीद है कि आने वाले समय में इंटरनेट के माध्यम से गांवों के युवाओं और आने वाली पीढ़ियों को बेहद लाभ मिलेगा। धीरे—धीरे इस सुविधा से गांवों में शिक्षा का स्तर सुधरने के साथ तमाम त​कनीकि सुविधाएं मिल सकेंगी जिनके लिए इंटरनेट बेहद जरूरी होता है।

Loading...