1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. कोरोना के चलते हालात खराब, पर हुआ ऐसा सकारात्मक बदलाव जिसका सपना देख रहे थे कई राष्ट्र

कोरोना के चलते हालात खराब, पर हुआ ऐसा सकारात्मक बदलाव जिसका सपना देख रहे थे कई राष्ट्र

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

लखनऊ: कोरना वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचाकर रखा है। तमाम प्रयासों के बावजूद रोजाना बड़ी संख्या में लोग इसकी चपेट में आ रहे हैं। यह वायरस अभी तक पूरी दुनिया में करीब 19,000 लोगों की जान ले चुका है। इतने तांडव के बाद भी इस वायरस के चलते हमारी धरती पर एक ऐसा सकारात्मक बदलाव देखने को मिल रहा है जिसका सपना भारत समेत कई राष्ट्र देख रहे थे। यूरोपियन स्पेस एजेंसी द्वारा जारी जानकारी के मुताबिक, कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनिया में प्रदूषण का स्तर काफी गिर गया है। जिस प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए भारत, चीन और अमेरिका जैसे देश सालों से जुटे थे, कोरोना ने पलक झपकते ही उसका सफाया कर दिया है।

यूरोपियन स्पेस एजेंसी द्वारा जारी जानकारी के मुताबिक, कोरोना वायरस के चलते पूरी दुनिया में प्रदूषण का स्तर काफी गिर गया है। जिस प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए भारत, चीन और अमेरिका जैसे देश सालों से जुटे थे, कोरोना ने पलक झपकते ही उसका सफाया कर दिया है। बता दें कि इस जहरीली गैल का कारण सड़कों पर चलने वाले वाहन और फैक्ट्रियां और थर्मल पावर स्टेशन थे जो पिछले काफी समय से बंद पड़े हैं।

यूरोपियन स्पेस एजेंसी ने खुद इसकी तस्वीरें जारी की हैं। यूरोप की यह तस्वीर कॉपरनिकस सेंटिनेल-5पी सैटेलाइन के जरिए जनवरी में ली गई थी। इस जहरीली गैस का असर इटली में सबसे ज्यादा दिखाई दे रहा है, जबकि 11 मार्च को ली गई इस तस्वीर में इटली जहरीली गैस से मुक्त दिखाई दे रहा है। इटली में यह परिवर्तन क्वारनटीन होने की वजह से हुआ है। यह तस्वीर इटल के वेनेटियन कैनल्स की है। यहां पानी की गहराई में तैरती मछलियां एकदम साफ दिख रही हैं। क्वारनटीन होने के बाद से इस जगह पर बोटिंग बंद हो चुकी है।

अमेरिकी की अंतरिक्ष अनुसंधान एजेंसी ने हाल ही में वुहान में नाइट्रोजन डाईऑक्साइड में कमी देखने की बात कही थी। स्पेस एजेंसी का दावा था कि शहर में लॉकडाउन होने के बाद से जहरीली गैस में काफी गिरावट आई है। कोरोना वायरस की महामारी के चलते अब तक तकरीबन 19,000 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 4 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं। भारत में इसके खतरे को देखते हुए 21 दिन के लिए पूर्ण रूप से लॉकडाउन कर दिया गया है। सबसे ज्यादा नुकसान इटली में हुआ है जहां 6,820 लोगों की मौत हो चुकी है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...