1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. Hyundai Verna में आया ये कमाल का फीचर, कंपनी ने किया बड़ा बदलाव

Hyundai Verna में आया ये कमाल का फीचर, कंपनी ने किया बड़ा बदलाव

Hyundai Verna की बिक्री में पिछले कुछ महीनों से गिरावट देखने को मिली है। ऐसा 5वीं जेनरेशन Honda City के कारण हो रहा है। पिछले माह जहां हुंडई वरना की 2,552 यूनिट्स बिकी थीं, वहीं होंडा सिटी की 3,128 यूनिट्स को ग्राहकों ने खरीदा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

This Amazing Feature Came In Hyundai Verna The Company Made A Big Change

नई दिल्ली। Hyundai Verna की बिक्री में पिछले कुछ महीनों से गिरावट देखने को मिली है। ऐसा 5वीं जेनरेशन Honda City के कारण हो रहा है। पिछले माह जहां हुंडई वरना की 2,552 यूनिट्स बिकी थीं, वहीं होंडा सिटी की 3,128 यूनिट्स को ग्राहकों ने खरीदा।

पढ़ें :- खास सेग्मेंट में आने वाली है हुंडई Alcazar, आप भी देखें

ऐसे में दक्षिण कोरिया की कार मेकर हुंडई दोनों गाड़ियों की बिक्री के इस गैप को कम करना चाहती है। यही वजह है कि कंपनी ने इसमें कुछ बदलाव किए हैं। कंपनी ने इसमें कुछ शानदार फीचर्स तो जोड़े ही हैं, साथ ही Verna S petrol वेरिएंट को बंद भी कर दिया है। ऐसा शायर वेरिएंट की कम डिमांड के चलते किया गया है।

अब मिलेगी वायरलेस स्मार्टफोन कनेक्टिविटी

बता दें कि कंपनी ने हुंडई वरना के S+ और SX वेरिएंट्स में वायरलेस एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कार प्ले का फीचर जोड़ दिया है। बता दें कि पहले ये दोनों वेरिएंट वायर्ड एंड्रॉइड ऑटो और एप्पल कार प्ले के साथ आते थे। इसका सीधा मतलब है कि हुंडई वरना अपने सेगमेंट के अकेली सेडान कार बन गई है, जो वायरलेस स्मार्टफोन कनेक्टिविटी के साथ आएगी।

वायरलेस स्मार्टफोन कनेक्टिविटी के अलावा Hyundai Verna S+ वेरिएंट में वॉइस रिकग्निशन के साथ 8-इंच टचस्क्रीन सिस्टम, Arkamys साउंड, स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल, रियर एसी वेंट, रिवर्स पार्किंग सेंसर जैसे फीचर्स भी दिए गए हैं। इसी तरह SX+ वेरिएंट में हाइट एडजस्टेबल फ्रंट सीटबेल्ट, प्रोजेक्टर हेडलैंप, फुली डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर, हाइट एडजस्टेबल ड्राइवर सीट, 8 इंच टचस्क्रीन, इलेक्ट्रिक सनरूफ, क्रूज कंट्रोल जैसे फीचर्स मिलते हैं।

पढ़ें :- कोरोना की दूसरी लहर से भारत के 'कार बाजार' को कितना नुकसान हुआ?

कार का इंजन

हुंडई वरना दो पेट्रोल इंजन- 1.5-लीटर नैचुरली एस्पिरेटेड और 1.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड के साथ उपलब्ध है। 1.5-लीटर पेट्रोल इंजन 113 बीएचपी और 144 एनएम टॉर्क जेनरेट करता है। इसे 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स या IVT ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ जोड़ा गया है। इसी तरह 1.0-लीटर टर्बोचार्ज्ड पेट्रोल इंजन 118 बीएचपी और 172 एनएम टॉर्क जेनरेट करता है। यह केवल 7-स्पीड डीसीटी ऑटोमैटिक के साथ उपलब्ध है और इसमें पैडल शिफ्टर्स मिलते हैं। कार 1.5-लीटर डीज़ल इंजन के साथ भी आती है। यह 113 बीएचपी और 250 एनएम पीक टॉर्क देती है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X