ये देश बना YouTube का सबसे बड़ा बाजार

youtube
ये देश बना YouTube का सबसे बड़ा बाजार

नई दिल्ली। भारत YouTube का सबसे बड़ा बाजार बन चुका है। आंकड़ों के मुताबिक हर महीने 26.5 करोड़ भारतीय यूजर्स इस वीडियो शेयरिंग ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं। YouTube की सीईओ सुजान वोजिस्की का कहना है कि ”भारत में हमारे पास सबसे अधिक दर्शक हैं। इनकी संख्या दुनिया के मुकाबले यहां बेहद तेजी से बढ़ रही है। YouTube आज कंटेंट कंज्यूम करने का पहला चैनल बन चुका है। फिर बात मनोरंजन की हो या सूचना की, यूजर्स की प्राथमिकता YouTube है। हर तरह के ब्रांड्स के लिए यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफार्म बनकर उभरा है जो तेजी से बढ़ रहा है।”

This Country Is Youtubes Largest Market :

दरअसल, वोजिस्की ने बताया, ”पिछले एक साल में मोबाइल पर यूट्यूब का उपयोग 85 फीसदी बढ़ा है। वीडियो देखे जाने का 60 प्रतिशत समय भारत के छह बड़े शहरों के उपभोक्ताओं का है। यूट्यूब पर ऐसे 1,200 भारतीय हैं जिनके बनाए चैनल्स पर 10 लाख से ज्यादा यूजर्स जुड़े हुए हैं। पांच साल पहले तक इनकी संख्या केवल दो थी।”

साथ ही ग्रुप एशिया पैसिफिक के सीईओ मार्क पैटरसन का कहना है कि ”उपभोक्ताओं का व्यवहार तेजी से मोबाइल वीडियो की ओर जा रहा है। यह बाजार के लिए एक बड़ा अवसर है। भारत में यूट्यूब की बढ़त, बाजार के लिए एक बेहतर संकेत है। यहां आप कहानियां कह सकते हैं, आगे बढ़ सकते हैं और क्रॉस चैनल प्लानिंग भी कर सकते हैं।”

यही नहीं बजाज ऑटो के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर राकेश शर्मा ने कहा, ”ऑटो यूजर्स के लिए यूट्यूब एक बेहतर माध्यम साबित हो सकता है क्योंकि यहां दर्शक इस विषय के प्रति समझ को और विकसित कर सकते हैं। इसके जरिए हम दर्शकों तक बेहतर ढंग से पहुंच सकते है। यहां और भी ज्यादा मार्केटिंग की जा सकती है।”

बता दें , गूगल के ग्लोबल हेड बेन जोन्स ने कहा, ”ज्यादातर  विज्ञापनकर्ताओं के साथ समस्या है कि ऐसे लोगों के साथ कैसे जुड़ा जाए जो अक्सर मोबाइल के साथ जुड़े रहते हैं? 70 फीसदी कैंपेन केवल क्रिएटिविटी के बूते ही सफल होते हैं। गूगल में हम सालों से इस पर काम कर रहे हैं कि आखिर किस तरह ब्रांड के मैसेज के साथ लोगों को जोड़ा रखा जा सके।”

नई दिल्ली। भारत YouTube का सबसे बड़ा बाजार बन चुका है। आंकड़ों के मुताबिक हर महीने 26.5 करोड़ भारतीय यूजर्स इस वीडियो शेयरिंग ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं। YouTube की सीईओ सुजान वोजिस्की का कहना है कि ''भारत में हमारे पास सबसे अधिक दर्शक हैं। इनकी संख्या दुनिया के मुकाबले यहां बेहद तेजी से बढ़ रही है। YouTube आज कंटेंट कंज्यूम करने का पहला चैनल बन चुका है। फिर बात मनोरंजन की हो या सूचना की, यूजर्स की प्राथमिकता YouTube है। हर तरह के ब्रांड्स के लिए यूट्यूब एक ऐसा प्लेटफार्म बनकर उभरा है जो तेजी से बढ़ रहा है।''

दरअसल, वोजिस्की ने बताया, ''पिछले एक साल में मोबाइल पर यूट्यूब का उपयोग 85 फीसदी बढ़ा है। वीडियो देखे जाने का 60 प्रतिशत समय भारत के छह बड़े शहरों के उपभोक्ताओं का है। यूट्यूब पर ऐसे 1,200 भारतीय हैं जिनके बनाए चैनल्स पर 10 लाख से ज्यादा यूजर्स जुड़े हुए हैं। पांच साल पहले तक इनकी संख्या केवल दो थी।''

साथ ही ग्रुप एशिया पैसिफिक के सीईओ मार्क पैटरसन का कहना है कि ''उपभोक्ताओं का व्यवहार तेजी से मोबाइल वीडियो की ओर जा रहा है। यह बाजार के लिए एक बड़ा अवसर है। भारत में यूट्यूब की बढ़त, बाजार के लिए एक बेहतर संकेत है। यहां आप कहानियां कह सकते हैं, आगे बढ़ सकते हैं और क्रॉस चैनल प्लानिंग भी कर सकते हैं।''

यही नहीं बजाज ऑटो के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर राकेश शर्मा ने कहा, ''ऑटो यूजर्स के लिए यूट्यूब एक बेहतर माध्यम साबित हो सकता है क्योंकि यहां दर्शक इस विषय के प्रति समझ को और विकसित कर सकते हैं। इसके जरिए हम दर्शकों तक बेहतर ढंग से पहुंच सकते है। यहां और भी ज्यादा मार्केटिंग की जा सकती है।''

बता दें , गूगल के ग्लोबल हेड बेन जोन्स ने कहा, ''ज्यादातर  विज्ञापनकर्ताओं के साथ समस्या है कि ऐसे लोगों के साथ कैसे जुड़ा जाए जो अक्सर मोबाइल के साथ जुड़े रहते हैं? 70 फीसदी कैंपेन केवल क्रिएटिविटी के बूते ही सफल होते हैं। गूगल में हम सालों से इस पर काम कर रहे हैं कि आखिर किस तरह ब्रांड के मैसेज के साथ लोगों को जोड़ा रखा जा सके।''