1. हिन्दी समाचार
  2. क्रिकेट
  3. सौरव गांगुली के खिलाफ गेंदबाजी करने वाला ये क्रिकेटर आज दाल पूड़ी बेच रहा

सौरव गांगुली के खिलाफ गेंदबाजी करने वाला ये क्रिकेटर आज दाल पूड़ी बेच रहा

क्रिकेट ही नहीं, बल्कि खेल की दुनिया में हर किसी को सफलता मिले, ये मुमकिन नहीं है। यहां तक कि पैसों की वजह से कई बार सफलता की सीढ़ी चढ़ने से पहले आपको अपने पैर पीछे खींचने पड़ जाते हैं।

By प्रिन्स राज 
Updated Date

This Cricketer Who Bowled Against Sourav Ganguly Is Selling Dal Puri Today

नई दिल्ली। क्रिकेट ही नहीं, बल्कि खेल की दुनिया में हर किसी को सफलता मिले, ये मुमकिन नहीं है। यहां तक कि पैसों की वजह से कई बार सफलता की सीढ़ी चढ़ने से पहले आपको अपने पैर पीछे खींचने पड़ जाते हैं। ऐसा ही कुछ हुआ है असम के लिए रणजी क्रिकेट खेल चुके प्रकाश भगत के साथ, जिन्हें अब अपना गुजारा करने के लिए चाय और दाल पूड़ी बेचने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

पढ़ें :- क्रिकेट टीम का कप्तान किया गया गिरफ्तार, जानें क्या है पूरा मामला

प्रकाश भगत असम राज्य के लिए विभिन्न राष्ट्रीय और स्टेट लेवल के टूर्नामेंट में हिस्सा ले चुके हैं। भगत असम की टीम के लिए तीन रणजी मैच खेल चुके हैं। टीम के सदस्य के तौर पर उन्होंने 2010 और 2011 में रणजी ट्रॉफी में रेलवे, जम्मू-कश्मीर और गोवा के खिलाफ मुकाबले खेले हैं। प्रकाश भगत ने बताया है कि उन्होंने साल 2003 में बेंगलुरु स्थित राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) में ट्रेनिंग ली थी।

भगत ने न्यूज एजेंसी आइएएनएस से फोन पर बात करते हुए कहा, “एनसीए ट्रेनिंग के दौरान मैंने सौरव गांगुली को गेंदबाजी की थी। उस समय मुझे सचिन तेंदुलकर, जहीर खान, हरभजन सिंह और वीरेंद्र सहवाग से मिलने का मौका मिला था।” सौरव गांगुली इसलिए इस गेंदबाज से गेंदबाजी कराना चाहते थे, क्योंकि गांगुली एक ऐसा स्पिनर चाह रहे थे जो न्यूजीलैंड के डेनियल विटोरी की तरह गेंदबाजी करता हो।

उन्होंने कहा, “मुझे अपने पिता के निधन के बाद 2011 में क्रिकेट छोड़ना पड़ा। भगत ने कहा, “क्रिकेट छोड़ने के बाद मैंने परिवार चलाने के लिए एक मोबाइल कंपनी में काम करना शुरू किया, लेकिन कोरोना के कारण लागु हुए लॉकडाउन में मैंने पिछले साल अपनी नौकरी खो दी।” पूर्व रणजी खिलाड़ी मनिमय रॉय ने कहा कि वित्तीय सहायता की कमी के कारण पूर्वोत्तर के ज्यादातर खिलाड़ियों खेल को छोड़ रहे हैं।

 

पढ़ें :- पूर्व भारतीय विकेटकीपर ने कहा, धोनी को मिलना ही चाहिए था उनकी जगह मौका

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X