1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. योगी सरकार की ‘जीरो टॉलरेंस नीति’ को पलीता लगा रहे हैं ​ये जिलाधिकारी महोदय, यूपी कैसे बनेगा ‘उत्तम प्रदेश’?

योगी सरकार की ‘जीरो टॉलरेंस नीति’ को पलीता लगा रहे हैं ​ये जिलाधिकारी महोदय, यूपी कैसे बनेगा ‘उत्तम प्रदेश’?

यूपी (UP) की योगी सरकार (Yogi Government)  'जीरो टॉलरेंस नीति' पर कार्य कर रही है, लेकिन पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक जिलाधिकारी महोदय सरकार की नीतियों की धज्जियां उड़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी (UP) की योगी सरकार (Yogi Government)  ‘जीरो टॉलरेंस नीति’ पर कार्य कर रही है, लेकिन पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक जिलाधिकारी महोदय सरकार की नीतियों की धज्जियां उड़ाने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

पढ़ें :- सीएम योगी बोले-कभी सफल नहीं होगी अवैध धर्मांतरण वालों की मंशा, जाग चुका है देश

बगैर कमीशन किसी भी योजना को आगे नहीं बढ़ने देते हैं जिलाधिकारी महोदय 

उक्त जिले में कार्य करने वाली एजेंसियों का कहना है कि जिलाधिकारी महोदय बगैर कमीशन किसी भी योजना को आगे नहीं बढ़ने देते हैं। यदि कोई एजेंसी ऐसा नहीं करती है तो उस जांच बैठाकर उसको प्र​ताड़ित करने का खेल शुरू कर देते हैं।इससे साबित होता है कि इस जिले में इंस्पेक्टर राज अभी भी धड़ल्ले से चल रहा है।

ये जिलाधिकारी महोदय क्षत्रिय बिरादरी से आते हैं। इसलिए कोई भी एजेंसी इनकी शिकायत यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) से करने की हिम्मत भी नहीं जुटा पा रहे हैं। अब सवाल उठता है कि जब ऐसे ही अधिकारी रहेंगे तो योगी सरकार यूपी को ‘उत्तम प्रदेश’ बनाने का सपना कैसे साकार हो पाएगा?

यूपी को ‘उत्तम प्रदेश’ बनाने में पूरी क्षमता से जुटे हुए हैं योगी आदित्यनाथ 

पढ़ें :- Asaram Bapu News: आसाराम बापू को लगा बड़ा झटका, शिष्या से दुष्कर्म मामले में दोषी करार

जबकि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath)  यूपी को ‘उत्तम प्रदेश’ बनाने में पूरी क्षमता से जुटे हुए हैं। योगी आदित्यनाथ अपनी हर सभा में अक्सर कहते रहते हैं कि यूपी में 2017 से पहले जंगल राज था। इसके चलते आम लोगों की जिंदगी दूभर हो गई थी, लेकिन अब राज्य में बदलाव हुआ है। पहले उद्यमी पलायन करते थे, लेकिन अब ऐसा माहौल है कि लोग स्टार्टअप करने की भी सोच रहे हैं। इसकी वजह प्रदेश सरकार की ‘जीरो टॉलरेंस नीति’ है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...