इस जर्मन नागरिक ने Google Map को बनाया ऐसा बेवकूफ, कारण जान कंपनी के उड़े होश

map
इस जर्मन नागरिक ने Google Map को बनाया ऐसा बेवकूफ, कंपनी के उड़े होश

नई दिल्ली। कहीं भी जल्दी पहुंचने के लिए आप गूगल मैप (Google Map) हो सबसे भरोसेमंद मानते हैं. बस लोकेशन सेट कीजिए और गूगल तुरंत आपको जल्दी और शार्टकट रास्ता आपको बता देता है। लेकिन जर्मनी में एक आम नागरिक ने ऐसा काम किया कि खुद गूगल के होश उड़ गए हैं।  शख्स ने किसी का पर्सनल गूगल अकाउंट नहीं बल्कि Google Map हैक कर लिया और वो भी 99 पुराने स्मार्टफोन्स की मदद से। यह हैकिंग ऐसी है जो शायद ही किसी के दिमाग में आए और इसके लिए इस शख्स ने गूगल की ही सर्विसेस का फायदा उठाया है।  

This German Citizen Made Google Map Such An Idiot The Company Was Blown Away :

Simon Weckert नाम के इस व्यक्ति ने महज 99 स्मार्टफोन्स की मदद से गूगल मैप पर ट्रैफिक की स्थिति पूरी तरहे से बदलकर रख दी। मसलन जिस सड़क पर कुछ भी ट्रैफिक नहीं था वहां भी इस व्यक्ति ने रेड सिग्नल दिखा दिया। इसके लिए ना तो उसने कोई सॉफ्टवेयर यूज किया और ना ही ट्रैफिक या गूगल का कोई अकाउंट हैक किया। इतना ही नहीं उसने अपनी इस पूरी हैकिंग का वीडियो भी सोशल मीडिया में शेयर किया है जो आपको हैरान कर देगा।

गूगल मैप पर ट्रैफिक का बदल दिया हाल

दरअसल, इस शख्स ने गगल मैप को हैक करने के लिए 99 स्मार्टफोन्स लिए। इन स्मार्टफोन्स को उसने एक कार्ट में रखा और उन सड़कों से गुजरने लगा जहां ट्रैफिक बिलकुल ही कम था या ना के बराबर था। सिमोन वेकर्ट ने इन सभी स्मार्टफोन्स में गूगल मैप को ऑन किया और कार्ट को लेकर अलग-अलग रास्तों से गुजरने लगे। उन्होंने जो वीडियो शेयर किया है उसमें साफ देखा जा सकता है कि जिन रास्तों से सिमोन गुजरे वहां गूगल मैप पर ट्रैफिक की स्थिति बदलती नजर आ रही है और ग्रीन से रेड होता जा रहा है।

इस तरह किया हैक

सिमोन ने यह सब करने के लिए गूगल की ही तकनीक का अलग तरीके से उपयोग किया। दरअसल, गूगल मैप किसी भी जगह है ट्रैफिक की स्थिति दिखाने के लिए उस एरिया में मौजूद स्मार्टफोन्स की लोकेशन का यूज करता है। साथ ही यह उस जगह मौजूद अन्य स्मार्टफोन के डेटा का भी उपयोग करता है ताकि वहां के ट्रैफिक की स्थिति पता लग सके।

जैसे ही सिमोन इन खाली रास्तों में 99 मोबाइल से भरी कार्ट लेकर गुजरने लगे तो गूगल ने इन सारे स्मार्टफोन की लोकेशन एक ही जगह पाई और मैप पर यह दिखाने लगा कि वहां इतने सारे लोग गुजर रहे हैं जिसका मतलब है कि वहां ट्रैफिक काफी ज्यादा बढ़ गया है। इसका मतलब सिमोन ने इन 99 स्मार्टफोन्स की मदद से वर्चुअल ट्रैफिक जाम दिखाया जो कि वास्तव में था ही नहीं। आप भी इस वीडियो को देखेंगे तो समझ आएगा कि कैसे सिमोन की छोटी सी ट्रिक ने बड़ी हैकिंग को अंजाम दिया।

नई दिल्ली। कहीं भी जल्दी पहुंचने के लिए आप गूगल मैप (Google Map) हो सबसे भरोसेमंद मानते हैं. बस लोकेशन सेट कीजिए और गूगल तुरंत आपको जल्दी और शार्टकट रास्ता आपको बता देता है। लेकिन जर्मनी में एक आम नागरिक ने ऐसा काम किया कि खुद गूगल के होश उड़ गए हैं।  शख्स ने किसी का पर्सनल गूगल अकाउंट नहीं बल्कि Google Map हैक कर लिया और वो भी 99 पुराने स्मार्टफोन्स की मदद से। यह हैकिंग ऐसी है जो शायद ही किसी के दिमाग में आए और इसके लिए इस शख्स ने गूगल की ही सर्विसेस का फायदा उठाया है।   Simon Weckert नाम के इस व्यक्ति ने महज 99 स्मार्टफोन्स की मदद से गूगल मैप पर ट्रैफिक की स्थिति पूरी तरहे से बदलकर रख दी। मसलन जिस सड़क पर कुछ भी ट्रैफिक नहीं था वहां भी इस व्यक्ति ने रेड सिग्नल दिखा दिया। इसके लिए ना तो उसने कोई सॉफ्टवेयर यूज किया और ना ही ट्रैफिक या गूगल का कोई अकाउंट हैक किया। इतना ही नहीं उसने अपनी इस पूरी हैकिंग का वीडियो भी सोशल मीडिया में शेयर किया है जो आपको हैरान कर देगा। गूगल मैप पर ट्रैफिक का बदल दिया हाल दरअसल, इस शख्स ने गगल मैप को हैक करने के लिए 99 स्मार्टफोन्स लिए। इन स्मार्टफोन्स को उसने एक कार्ट में रखा और उन सड़कों से गुजरने लगा जहां ट्रैफिक बिलकुल ही कम था या ना के बराबर था। सिमोन वेकर्ट ने इन सभी स्मार्टफोन्स में गूगल मैप को ऑन किया और कार्ट को लेकर अलग-अलग रास्तों से गुजरने लगे। उन्होंने जो वीडियो शेयर किया है उसमें साफ देखा जा सकता है कि जिन रास्तों से सिमोन गुजरे वहां गूगल मैप पर ट्रैफिक की स्थिति बदलती नजर आ रही है और ग्रीन से रेड होता जा रहा है। इस तरह किया हैक सिमोन ने यह सब करने के लिए गूगल की ही तकनीक का अलग तरीके से उपयोग किया। दरअसल, गूगल मैप किसी भी जगह है ट्रैफिक की स्थिति दिखाने के लिए उस एरिया में मौजूद स्मार्टफोन्स की लोकेशन का यूज करता है। साथ ही यह उस जगह मौजूद अन्य स्मार्टफोन के डेटा का भी उपयोग करता है ताकि वहां के ट्रैफिक की स्थिति पता लग सके। जैसे ही सिमोन इन खाली रास्तों में 99 मोबाइल से भरी कार्ट लेकर गुजरने लगे तो गूगल ने इन सारे स्मार्टफोन की लोकेशन एक ही जगह पाई और मैप पर यह दिखाने लगा कि वहां इतने सारे लोग गुजर रहे हैं जिसका मतलब है कि वहां ट्रैफिक काफी ज्यादा बढ़ गया है। इसका मतलब सिमोन ने इन 99 स्मार्टफोन्स की मदद से वर्चुअल ट्रैफिक जाम दिखाया जो कि वास्तव में था ही नहीं। आप भी इस वीडियो को देखेंगे तो समझ आएगा कि कैसे सिमोन की छोटी सी ट्रिक ने बड़ी हैकिंग को अंजाम दिया।