सुहागरात से पहले हर लड़की के मन में मचलती हैं ये बातें

लव मैरिज हो या अरेंज मैरिज, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन सुहागरात को लेकर हर किसी के मन में घबराहट सी होती है। सभी की जिंदगी में शादी की पहली रात एक बार ही आती है। सुहागरात को लेकर नई नवेली दुल्‍हनों के मन में कई तरह की बातें चल रही होती हैं।

This Girl Moves In The Heart Of Every Girl Before Honeymake :

मन में मचलती है ये बातें:
कोई भी लड़की कितनी भी फिट क्‍यों ना हो, उसे आईने में खुद को देखकर यह जरूर लगता है कि कहीं वो इस ड्रेस में मोटी तो नहीं लग रही हैं। वेडिंग नाइट से ठीक पहले भी नई नवेली दुल्‍हनों के मन में अकसर ऐसी बात आती है।

बॉलीवुड फिल्‍मों में सुहागरात को लेकर जो मापदंड तय कर दिए गए हैं उसे देखकर लड़कियां भी यही सोचती हैं कि उनकी सुहागरात भी फिल्‍मों की तरह ही होगी। उन्‍हें भी घूंघट डालकर बैड पर बैठना होगा और उनका पति घूंघट उठाएगा।

फिल्‍मों में सुहागरात का सीन देखकर दुल्‍हनों के मन में यह सवाल उठता है कि क्‍या उन्‍हें भी दूध का गिलास लेकर कमरे में जाना होगा और अगर वो दूध का गिलास लेकर गईं तो उसे रखेंगी कहां।

लड़कियों को सबसे ज्‍यादा टेंशन इस बात की होती है कि इतनी सारी हेयर पिंस, गहने, जूड़े और लहंगे को वो अकेले कैसे निकाल पाएंगीं। उन्‍हें लगता है कि बालों की हेयर पिंस निकालने में ही उन्‍हें पूरी रात निकल जाएगी।

सुहागरात के लिए खास लॉन्‍जरी भी लाती हैं और उनके मन में यह सवाल रहता है कि क्‍या उनके पति को ये लॉन्‍जरी पंसद आएगी।

इसके अलावा लड़कियां सोचती हैं कि क्‍या उनका पार्टनर कण्डोम यूज़ करेगा। लड़कियों को लगता है कि सेक्‍स के बारे में उन्‍हें ज्‍यादा तो पता नहीं है। क्‍या यह उनके लिए तकलीफदेह होगा।

क्‍या अगले दिन सबुह सभी लोग मुझसे यही सवाल पूछेंगें कि तुम्‍हारी पहली रात कैसी रही। अगर हां तो मैं उन्‍हें क्‍या और कैसे जवाब दूंगीं। क्‍या मुझे उन्‍हें सब बता देना चाहिए या सब कुछ छिपाकर रखना चाहिए।

लव मैरिज हो या अरेंज मैरिज, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन सुहागरात को लेकर हर किसी के मन में घबराहट सी होती है। सभी की जिंदगी में शादी की पहली रात एक बार ही आती है। सुहागरात को लेकर नई नवेली दुल्‍हनों के मन में कई तरह की बातें चल रही होती हैं। मन में मचलती है ये बातें: कोई भी लड़की कितनी भी फिट क्‍यों ना हो, उसे आईने में खुद को देखकर यह जरूर लगता है कि कहीं वो इस ड्रेस में मोटी तो नहीं लग रही हैं। वेडिंग नाइट से ठीक पहले भी नई नवेली दुल्‍हनों के मन में अकसर ऐसी बात आती है। बॉलीवुड फिल्‍मों में सुहागरात को लेकर जो मापदंड तय कर दिए गए हैं उसे देखकर लड़कियां भी यही सोचती हैं कि उनकी सुहागरात भी फिल्‍मों की तरह ही होगी। उन्‍हें भी घूंघट डालकर बैड पर बैठना होगा और उनका पति घूंघट उठाएगा। फिल्‍मों में सुहागरात का सीन देखकर दुल्‍हनों के मन में यह सवाल उठता है कि क्‍या उन्‍हें भी दूध का गिलास लेकर कमरे में जाना होगा और अगर वो दूध का गिलास लेकर गईं तो उसे रखेंगी कहां। लड़कियों को सबसे ज्‍यादा टेंशन इस बात की होती है कि इतनी सारी हेयर पिंस, गहने, जूड़े और लहंगे को वो अकेले कैसे निकाल पाएंगीं। उन्‍हें लगता है कि बालों की हेयर पिंस निकालने में ही उन्‍हें पूरी रात निकल जाएगी। सुहागरात के लिए खास लॉन्‍जरी भी लाती हैं और उनके मन में यह सवाल रहता है कि क्‍या उनके पति को ये लॉन्‍जरी पंसद आएगी। इसके अलावा लड़कियां सोचती हैं कि क्‍या उनका पार्टनर कण्डोम यूज़ करेगा। लड़कियों को लगता है कि सेक्‍स के बारे में उन्‍हें ज्‍यादा तो पता नहीं है। क्‍या यह उनके लिए तकलीफदेह होगा। क्‍या अगले दिन सबुह सभी लोग मुझसे यही सवाल पूछेंगें कि तुम्‍हारी पहली रात कैसी रही। अगर हां तो मैं उन्‍हें क्‍या और कैसे जवाब दूंगीं। क्‍या मुझे उन्‍हें सब बता देना चाहिए या सब कुछ छिपाकर रखना चाहिए।