1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. ये है असली याराना: कोरोना के डर से अमृत का सब ने छोड़ा साथ, अंतिम सांस तक याकूब ने निभाई दोस्ती

ये है असली याराना: कोरोना के डर से अमृत का सब ने छोड़ा साथ, अंतिम सांस तक याकूब ने निभाई दोस्ती

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

भोपाल: एक और जहां पूरा देश कोरोना संकट के बीच परिवार अपनों का साथ छोड़ दे रहे हैं वहीं, इस बीच दोस्ती और इंसानियत की मिसाल देखने को मिली जिसे जानने के बाद आपकी आंखे नम हो जाएंगी। मध्य प्रदेश के शिवपुरी में याकूब ने दोस्ती की मिसाल पेश की है। दरअसल, जब उसके दोस्त अमृत की तबीयत बिगड़ने पर सबने उसका साथ छोड़ दिया, तब याकूब ही था जो अकेला उसके साथ खड़ा रहा।

जानकारी के अनुसार, कोरोना संदिग्ध 24 वर्षीय अमृत गुजरात के सूरत से यूपी के बस्ती जिला स्थित अपने घर एक ट्रक से लौट रहा था। उस ट्रक में कई और लोग सवार थे। ट्रक जब मध्य प्रदेश के शिवपुरी-झांसी फोरलेन से गुजर रहा था, तभी अमृत की तबियत बिगड़ने लगी। ट्रक में सवार लोगों को लगा कि अमृत को कोरोना हो गया है, इसलिए डरकर लोगों ने उसे ट्रक से उतरवाने का फैसला किया। लोगों ने अमृत को ट्रक से उतार दिया और आगे बढ़ गए लेकिन इन सबके बीच याकूब मोहम्मद भी ट्रक से उतर गया।

उसने अपने दोस्त अमृत के साथ रहने का फैसला किया। इधर अमृत की तबियत लगातार बिगड़ते जा रही थी तो याकूब ने उसका सिर अपनी गोद में रख लिया। लोगों ने उसे देखा तो उसकी मदद की। लोगों की मदद से अमृत को लेकर याकूब उसको लेकर जिला अस्पताल तक पहुंचा। अमृत की गंभीर हालत देखते हुए डॉक्टरों ने उसे तुरंत वेंटीलेटर पर रखा, लेकिन उपचार के दौरान अमृत ने दम तोड़ दिया।

शिवपुरी के जिला अस्पताल में 23 वर्षीय मोहम्मद याकूब ने बताया कि हम दोनों गुजरात के सूरत स्थित फैक्ट्री में मशीन से कपड़ा बुनने का काम करते थे। लॉकडाउन के कारण फैक्ट्री बंद हो गई। सूरत से ट्रक में चार-चार हजार रुपए किराया देकर नासिक, इंदौर होते हुए कानपुर लौट रहे थे। सफर के दौरान अचानक अमृत की हालत बिगड़ गई। अमृत को तेज बुखार आया और उल्टी जैसी स्थित बनने लगी। ट्रक में बैठे 55-60 लोग विरोध करने लगे और अमृत को उतारने की जिद करने लगे।

ट्रकवाले ने अमृत को उतार दिया तो अमृत का ख्याल रखने के लिए मैं भी उतर गया। इस मामले में शिवपुरी जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. पीके खरे ने बताया कि 24 वर्षीय अमृत पुत्र रामचरण सूरत गुजरात से यूपी के जिला बस्ती जा रहा था। खरे ने बताया है कि मृतक अमृत और उसके साथी का कोरोना टेस्ट कराया गया है। फिलहाल रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...