पाकिस्तान के इस नेता ने गाया ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा’, वीडियो वायरल

altaf-hussain
पाकिस्तान के इस नेता ने गाया 'सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा', VIDEO VIRAL

नई दिल्ली। केंद्र में मोदी सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के फैसले के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जम्मू-कश्मीर पर रोजाना बयान बदल रहे हैं। वो कश्मीर के लोगों के समर्थन में भड़काऊ बयानबाजी भी कर चुके हैं। इस बीच पाकिस्तान के एक नेता ने भारत को समर्पित गीत गाया है।

This Leader Of Pakistan Sang Saare Jahan Se Achcha Hindostan Hamara Video Viral :

दरअसल, पाकिस्तान के कराची में राजनीतिक रूप से मजबूत पकड़ रखने वाले मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (MQM) के संस्थापक अल्ताफ हुसैन का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वो ‘सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा’ गाना गाते नजर आ रहे हैं।

वहीं, अल्ताफ को पाकिस्तान विरोधी भाषण देने के लिए जाना जाता है। सूत्रों के हवाले से ये भी पता चला है कि जून 2019 में हुसैन पाकिस्तान विरोधी भाषण को लेकर गिरफ्तार हो चुके हैं। तब उनकी गिरफ्तारी लंदन स्थित उनके घर से हुई थी। आरोप था कि निर्वासित नेता हुसैन ने 2016 में एक विवादित भाषण दिया था। हालांकि, इसके बाद उन्होंने माफी मांग ली थी।

बता दें, हुसैन ने अपने भाषण में पाकिस्तान को ‘आतंकवाद का केंद्र’ और ‘पूरी दुनिया के लिए एक कैंसर’ बताया था।’ इतना ही नहीं अल्ताफ की पार्टी का कराची में करीब 30 साल तक राजनीतिक रूप से दबदबा रहा है। अल्ताफ को मुहाजिरों का समर्थन प्राप्त है जो पाकिस्तान में रहते हैं। ये मुहाजिर उन मुस्लिमों के वंशज हैं जो 1947 में विभाजन के दौरान भारत से पाकिस्तान चले गए थे।

नई दिल्ली। केंद्र में मोदी सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटाए जाने के फैसले के बाद से पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जम्मू-कश्मीर पर रोजाना बयान बदल रहे हैं। वो कश्मीर के लोगों के समर्थन में भड़काऊ बयानबाजी भी कर चुके हैं। इस बीच पाकिस्तान के एक नेता ने भारत को समर्पित गीत गाया है। दरअसल, पाकिस्तान के कराची में राजनीतिक रूप से मजबूत पकड़ रखने वाले मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट (MQM) के संस्थापक अल्ताफ हुसैन का एक वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में वो 'सारे जहां से अच्छा हिन्दोस्तां हमारा' गाना गाते नजर आ रहे हैं। वहीं, अल्ताफ को पाकिस्तान विरोधी भाषण देने के लिए जाना जाता है। सूत्रों के हवाले से ये भी पता चला है कि जून 2019 में हुसैन पाकिस्तान विरोधी भाषण को लेकर गिरफ्तार हो चुके हैं। तब उनकी गिरफ्तारी लंदन स्थित उनके घर से हुई थी। आरोप था कि निर्वासित नेता हुसैन ने 2016 में एक विवादित भाषण दिया था। हालांकि, इसके बाद उन्होंने माफी मांग ली थी। बता दें, हुसैन ने अपने भाषण में पाकिस्तान को 'आतंकवाद का केंद्र' और 'पूरी दुनिया के लिए एक कैंसर' बताया था।' इतना ही नहीं अल्ताफ की पार्टी का कराची में करीब 30 साल तक राजनीतिक रूप से दबदबा रहा है। अल्ताफ को मुहाजिरों का समर्थन प्राप्त है जो पाकिस्तान में रहते हैं। ये मुहाजिर उन मुस्लिमों के वंशज हैं जो 1947 में विभाजन के दौरान भारत से पाकिस्तान चले गए थे। https://www.youtube.com/watch?v=aeeceE48duc