एक बार के चार्ज में चलेगी 900 किमी, जानें इस नई इलेक्ट्रिक कार की अन्य खासियत

helia electric car
एक बार के चार्ज में चलेगी 900 किमी, जानें इस नई इलेक्ट्रिक कार की अन्य खासियत

नई दिल्ली। दुनिया के इस बदलते दौर में वाहन कंपनियां अब पेट्रोल डीजल कारों पर नहीं बल्कि इलेक्ट्रिक कारों पर काम कर रहीं हैं। अब तक आपने कई ऐसी इलेक्ट्रिक कारों के बारे में सुना होगा, लेकिन हम आपको जिस Electric Car के बारे में बताने जा रहे हैं इसकी रेंज सबसे अधिक है। इस इलेक्ट्रिक कार को कैम्ब्रिज यूनिविर्सिटी के स्टूडेंट्स द्वारा बनाया गया है। यह इलेक्ट्रिक कार एक बार चार्ज होकर लंबी दूरी तय कर सकती है।

This New Electric Car Will Run 900 Km In A One Time Charge Know The Other Specialty Of This New Electric Car :

दरअसल, इस इलेक्ट्रिक कार का नाम है हेलिया(Helia) है, जिसे 120 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम स्पीड से चला सकते हैं और केतली को उबालने के लिए जरूरी पावर का इस्तेमाल करते हुए 4 पैसेंजर के साथ 80 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चल सकते हैं। यह कार आमतौर पर बिकने वाली इलेक्ट्रिक कारों की ऊर्जा की तुलना में दसवां हिस्सा खपत करती है। इसके अलावा हेलिया में टेस्ला की डबल रेंज है और यह रेंज इसके छत के सौर पैनलों का उपयोग किए बिना है। इस कार की बैटरी को एक स्टेंडर्ड इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जर से चार्ज किया जा सकता है।

वहीं, हेलिया को बनाने का आइडिया कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी इको रेसिंग टीम का है, जिसमें 20 ग्रेजुएट स्टूडेंट्स और प्रोग्राम के डायरेक्ट शियाओफैंग झांग शामिल हैं। इस इलेक्ट्रिक कार को कई ब्रिटिश कार निर्माताओं और इंजीनियरिंग फर्मों के साथ पार्टनरशिप में तैयार किया गया है, जिसमें फॉर्मैप्लेक्स, डेल्टा मोटरस्पोर्ट और 8 डी क्लोजर्स शामिल हैं। हेलिया को बनाने में कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी इको रेसिंग टीम ने 2 साल का समय लिया। 19 अगस्त, 2019 को लंदन साइंस म्यूजियम में एक प्रोग्राम के दौरान हेलिया को पहली बार दिखाया गया था।

बता दें, हेलिया की बैटरी रेंज इतनी बेहरतरीन है कि एक बार चार्ज करने पर यह इलेक्ट्रिक कार 559 मील यानि कि 900 किमी की दूरी तय कर सकती है। इस इलेक्ट्रिक कार की अधिकतम रफ्तार 120 किमी प्रति घंटा है। कर्ब वेट 550 किलो और इस कार को कार्बन फाइबर चैसिस से बनाया गया है। सीटिंग कैपेसिटी की बात करें तो इस इलेक्ट्रिक कार में 4 लोग बैठ सकते हैं।

नई दिल्ली। दुनिया के इस बदलते दौर में वाहन कंपनियां अब पेट्रोल डीजल कारों पर नहीं बल्कि इलेक्ट्रिक कारों पर काम कर रहीं हैं। अब तक आपने कई ऐसी इलेक्ट्रिक कारों के बारे में सुना होगा, लेकिन हम आपको जिस Electric Car के बारे में बताने जा रहे हैं इसकी रेंज सबसे अधिक है। इस इलेक्ट्रिक कार को कैम्ब्रिज यूनिविर्सिटी के स्टूडेंट्स द्वारा बनाया गया है। यह इलेक्ट्रिक कार एक बार चार्ज होकर लंबी दूरी तय कर सकती है। दरअसल, इस इलेक्ट्रिक कार का नाम है हेलिया(Helia) है, जिसे 120 किलोमीटर प्रति घंटे की अधिकतम स्पीड से चला सकते हैं और केतली को उबालने के लिए जरूरी पावर का इस्तेमाल करते हुए 4 पैसेंजर के साथ 80 किमी प्रति घंटे की स्पीड से चल सकते हैं। यह कार आमतौर पर बिकने वाली इलेक्ट्रिक कारों की ऊर्जा की तुलना में दसवां हिस्सा खपत करती है। इसके अलावा हेलिया में टेस्ला की डबल रेंज है और यह रेंज इसके छत के सौर पैनलों का उपयोग किए बिना है। इस कार की बैटरी को एक स्टेंडर्ड इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जर से चार्ज किया जा सकता है। वहीं, हेलिया को बनाने का आइडिया कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी इको रेसिंग टीम का है, जिसमें 20 ग्रेजुएट स्टूडेंट्स और प्रोग्राम के डायरेक्ट शियाओफैंग झांग शामिल हैं। इस इलेक्ट्रिक कार को कई ब्रिटिश कार निर्माताओं और इंजीनियरिंग फर्मों के साथ पार्टनरशिप में तैयार किया गया है, जिसमें फॉर्मैप्लेक्स, डेल्टा मोटरस्पोर्ट और 8 डी क्लोजर्स शामिल हैं। हेलिया को बनाने में कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी इको रेसिंग टीम ने 2 साल का समय लिया। 19 अगस्त, 2019 को लंदन साइंस म्यूजियम में एक प्रोग्राम के दौरान हेलिया को पहली बार दिखाया गया था। बता दें, हेलिया की बैटरी रेंज इतनी बेहरतरीन है कि एक बार चार्ज करने पर यह इलेक्ट्रिक कार 559 मील यानि कि 900 किमी की दूरी तय कर सकती है। इस इलेक्ट्रिक कार की अधिकतम रफ्तार 120 किमी प्रति घंटा है। कर्ब वेट 550 किलो और इस कार को कार्बन फाइबर चैसिस से बनाया गया है। सीटिंग कैपेसिटी की बात करें तो इस इलेक्ट्रिक कार में 4 लोग बैठ सकते हैं।