Whatsapp में आया ये नया फीचर, Security के लिए होगा खास

whatsapp
Whatsapp में आया ये नया फीचर, Security के लिए होगा खास

नई दिल्ली। दिग्गज सोशल मीडिया और इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप Whatsapp अपने एंड्रॉइड बीटा यूजर्स के लिए नया फीचर रोल-आउट कर रहा है। एक नई रिपोर्ट के अनुसार, Whatsapp डेवलपर्स ने ऐप के लेटेस्ट बीटा वर्जन में Fingerprint Lock फीचर को रोल-आउट कर दिया है। इस फीचर को 8 महीने पहले स्पॉट किया गया था। अब 8 महीने बाद, यह बीटा टेस्टिंग वर्जन में आया है। यह उन कई फीचर्स में से एक है, जिस पर डेवलपर्स काम कर रहे हैं। बता दें, कंपनी ने Whatsapp के iOS बीटा यूजर्स के लिए इस फीचर को 3 महीने पहले ही उपलब्ध करवा दिया था।

This New Feature In Whatsapp Will Be Special For Security :

दरअसल, WhatsApp fingerprint lock फीचर डिटेल्स की बात करें तो कंपनी ने अपने डेवलपमेंट के समय, फिंगरप्रिंट लॉक फीचर को कई नाम दिए है। जैसे की पहले रिपोर्ट किया गया था, इस फीचर को पहले ऑथेंटिकेशन कहा गया था। इसके बाद इसे स्क्रीन लॉक का नाम मिला। Whatsapp यह सुनिश्चित करना चाहता था की इसे ऐसे नाम दिया जाए, जो इसके फीचर को एकदम ठीक से परिभाषित करे।

मिली जानकारी के मुताबिक यह फीचर अब एंड्रॉइड बीटा यूजर्स के ऐप वर्जन 2.19.221 में उपलब्ध है। अगर आप Whatsapp बीटा यूजर हैं, तो आप ऐप इन्फो में जाकर चेक कर सकते हैं। अगर आपका Whatsapp वर्जन 2.19.221 नहीं है, तो प्ले स्टोर पर अपडेट्स के लिए चेक करें। सही वर्जन के होने के बाद भी अगर आपको यह फीचर ना मिले, तो ऐप को दोबारा इनस्टॉल करें। ऐप को रीइंस्टॉल करने से पहले चैट का बैकअप जरूर ले लें। अब जब आपके पाससही वर्जन आ जाए, तो आपको यह नया फीचर Whatsapp सेटिंग में अकाउंट के अंदर प्राइवेसी सेक्शन में मिल जाएगा।

बता दें, Whatsapp Fingerprint Lock फीचर को चालू करने के बाद आपसे फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेट करने के लिए बोला जाएगा। रिपोर्ट में यह कन्फर्म किया गया है की यूजर्स लॉक के बावजूद नोटिफिकेशन्स से रिप्लाई और कॉल्स रिसीव कर पाएंगे। ऐसा इसलिए, क्योंकि यह फीचर ऐप को लॉक करने के लिए है। यह फीचर ऐप को ऑटोमेटिकली लॉक के 3 विकल्प के साथ आता है। पहला विकल्प- तुरंत, दूसरा- 1 मिनट के बाद और तीसरा- 30 मिनट के बाद है। साथ ही रिपोर्ट में यह भी कन्फर्म किया गया है की Whatsapp के पास ऑथेंटिकेशन के लिए आपके फिंगरप्रिंट डाटा का एक्सेस नहीं होगा।

नई दिल्ली। दिग्गज सोशल मीडिया और इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप Whatsapp अपने एंड्रॉइड बीटा यूजर्स के लिए नया फीचर रोल-आउट कर रहा है। एक नई रिपोर्ट के अनुसार, Whatsapp डेवलपर्स ने ऐप के लेटेस्ट बीटा वर्जन में Fingerprint Lock फीचर को रोल-आउट कर दिया है। इस फीचर को 8 महीने पहले स्पॉट किया गया था। अब 8 महीने बाद, यह बीटा टेस्टिंग वर्जन में आया है। यह उन कई फीचर्स में से एक है, जिस पर डेवलपर्स काम कर रहे हैं। बता दें, कंपनी ने Whatsapp के iOS बीटा यूजर्स के लिए इस फीचर को 3 महीने पहले ही उपलब्ध करवा दिया था। दरअसल, WhatsApp fingerprint lock फीचर डिटेल्स की बात करें तो कंपनी ने अपने डेवलपमेंट के समय, फिंगरप्रिंट लॉक फीचर को कई नाम दिए है। जैसे की पहले रिपोर्ट किया गया था, इस फीचर को पहले ऑथेंटिकेशन कहा गया था। इसके बाद इसे स्क्रीन लॉक का नाम मिला। Whatsapp यह सुनिश्चित करना चाहता था की इसे ऐसे नाम दिया जाए, जो इसके फीचर को एकदम ठीक से परिभाषित करे। मिली जानकारी के मुताबिक यह फीचर अब एंड्रॉइड बीटा यूजर्स के ऐप वर्जन 2.19.221 में उपलब्ध है। अगर आप Whatsapp बीटा यूजर हैं, तो आप ऐप इन्फो में जाकर चेक कर सकते हैं। अगर आपका Whatsapp वर्जन 2.19.221 नहीं है, तो प्ले स्टोर पर अपडेट्स के लिए चेक करें। सही वर्जन के होने के बाद भी अगर आपको यह फीचर ना मिले, तो ऐप को दोबारा इनस्टॉल करें। ऐप को रीइंस्टॉल करने से पहले चैट का बैकअप जरूर ले लें। अब जब आपके पाससही वर्जन आ जाए, तो आपको यह नया फीचर Whatsapp सेटिंग में अकाउंट के अंदर प्राइवेसी सेक्शन में मिल जाएगा। बता दें, Whatsapp Fingerprint Lock फीचर को चालू करने के बाद आपसे फिंगरप्रिंट ऑथेंटिकेट करने के लिए बोला जाएगा। रिपोर्ट में यह कन्फर्म किया गया है की यूजर्स लॉक के बावजूद नोटिफिकेशन्स से रिप्लाई और कॉल्स रिसीव कर पाएंगे। ऐसा इसलिए, क्योंकि यह फीचर ऐप को लॉक करने के लिए है। यह फीचर ऐप को ऑटोमेटिकली लॉक के 3 विकल्प के साथ आता है। पहला विकल्प- तुरंत, दूसरा- 1 मिनट के बाद और तीसरा- 30 मिनट के बाद है। साथ ही रिपोर्ट में यह भी कन्फर्म किया गया है की Whatsapp के पास ऑथेंटिकेशन के लिए आपके फिंगरप्रिंट डाटा का एक्सेस नहीं होगा।