1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. फूलन देवी पर भाजपा प्रवक्ता के इस बयान से बढ़ी सियासी हलचल, अखिलेश बोले-निषाद समाज का किया घोर अपमान

फूलन देवी पर भाजपा प्रवक्ता के इस बयान से बढ़ी सियासी हलचल, अखिलेश बोले-निषाद समाज का किया घोर अपमान

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Assembly Election 2022) के करीब आते ही विपक्ष हर मुद्दे पर सरकार को घेरने में जुट गया है। मुद्दा मिलते ही विपक्ष भाजपा सरकार (BJP government) पर हमलावर हो जाता है। इस बीच फूलनदेवी (Phoolan Devi) को लेकर भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) द्वारा दिए गए एक बयान को लेकर सियासत तेज हो गयी है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) के इस बयान को ट्वीट कर उन पर हमला बोला है।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव 2022 (UP Assembly Election 2022) के करीब आते ही विपक्ष हर मुद्दे पर सरकार को घेरने में जुट गया है। मुद्दा मिलते ही विपक्ष भाजपा सरकार (BJP government) पर हमलावर हो जाता है। इस बीच फूलनदेवी (Phoolan Devi) को लेकर भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) द्वारा दिए गए एक बयान को लेकर सियासत तेज हो गयी है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) के इस बयान को ट्वीट कर उन पर हमला बोला है। साथ ही कहा कि भाजपा सरकार निषाद समाज की विरोधी है। विधानसभा चुनाव 2022 में निषाद समाज BJP को हरा देगा।

पढ़ें :- UP Election 2022 : बीजेपी का एक और विधायक कमल का साथ छोड़ साइकिल पर हुआ सवार

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के साथ ही सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) ने भी भाजपा सरकार को घेरा है। बता दें कि, एक टीवी​ डिबेट पर भाजपा प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) और सपा प्रवक्ता के बीच चर्चा चल रही थी। इस दौरान भाजपा प्रवक्ता ने सपा प्रवक्ता से कहा कि, ‘फूलन देवी क्या थीं? ऑफिशियली डकैत थीं न? जिसके ऊपर 20-20 लोगों को खड़े करके गोली मारने का आरोप था। उसपे से सारे मुकदमे वापस लेकर सांसद बनाया।

वहीं, सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) के इस बयान पर सपा प्रवक्ता ने पलटवार करते हुए उन्हें जवाब दिया। साथ ही कहा कि फूलन देवी पर अत्याचार हुआ है। उनके साथ बीस लोगों ने मिलकर गैंगरेप किया। उन अत्याचारों पर ये उनका प्रतिकार था। इसपर त्रिवेदी ने कहा कि क्या- अत्याचार का बदला लेने के लिए 20 लोगों को खड़े करके गोली मार दी जाएगी?

वहीं, इस बयान के वीडियो को ट्वीट करते हुए अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने लिखा है कि, भाजपा की दलित और महिला विरोधी सोच उनके प्रवक्ताओं के मुंह पर आ ही जाती है। स्व. फूलनदेवी जी के ख़िलाफ़ अपशब्द बोलकर भाजपा प्रवक्ता ने संपूर्ण निषाद समाज का घोर अपमान करने की कोशिश की परन्तु सपा के प्रवक्ता ने उनकी बोलती बंद कर दी। 22 के चुनाव में निषाद समाज भाजपा को हरा देगा।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...