एक लीटर पेट्रोल में 121 किमी की दूरी तय करेगी ये शानदार कार, जानें खासियत

121-km-mileage-car
एक लीटर पेट्रोल में 121 किमी की दूरी तय करेगी ये शानदार कार, जानें खासियत

नई दिल्ली। विज्ञान आज इतना आगे बढ़ चुका है कि इंजीनियरिंग के छात्र-छात्राएं नए-नए आविष्कार की ओर अग्रसर हो रहें हैं। ऐसा ही एक आविष्कार चेन्नई स्थित SRM यूनिवर्सिटी के ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग के 31 छात्रों की टीम ने किया है। उन्होंने एक ऐसी सिंगल सीटर बाइक कार है, जो 1 लीटर पेट्रोल में 121 किलोमीटर तक का सफर तय कर सकती है।

This Superb Car Will Cover A Distance Of 121 Km In One Liter Petrol Know The Specialty :

दरअसल, इन छात्रों ने इस कार का प्रोटोटाइप मॉडल तैयार कर लिया है और इसे 19 से 22 नवंबर तक बेंगलुरू में आयोजित होने जा रही शैल इको मैराथन इंडिया में पेश करेगी। इस प्रतियोगिता में कार की क्षमता को परखा जाएगा और अगर इसे अच्छी प्रतिक्रियाएं मिली और सफल हुई तो इसे यह कार एशिया शैल ईको मैराथन का प्रतिनिधित्व करेगी। फ्यूल एफिशियंसी को बढ़ाने के लिए 31 छात्रों की टीम ने इसे डिजाइन करने में पूरा एक साल लगाया है।

जानकारी मिली है कि इस कार को बनाने की लागत करीब ढाई से तीन लाख रुपये आई है और इसे बनाने के लिए टीम ने प्रतियगिता में हिस्सा लेने के लिए पॉकेट मनी से राशि जोड़ी है। बता दें इस कार की बॉडी पर हल्के कार्बन फाइबर और एल्यूमीनियम का इस्तेमाल किया गया है और इसे पिछले साल जनवरी महीने में डिजाइन करना शुरू किया गया था। इसमें 50 cc का इंजन दिया गया है और यह सिर्फ प्लेट सड़कों पर चलने में सक्षम है।

इतना ही नहीं इस कार को बनाने के लिए छात्रों की टीम के कैप्टेन मोहम्मद सलीम सुबह से शाम तक रोजाना इसे बनाने में जुट जाते थे। हालांकि, कई बार इसे बनाने में असफल भी हुए, पर अब यह कार बनकर तैयार हो गई है। चार डोमेन व्हीकल डायनामिक्स, पार्टरेन, इलेक्ट्रिकल और कॉर्पोरेट बनाकर सबको अलग-अलग जिम्मेदारी के साथ इस प्रोजेक्ट को पूरा किया गया है। इन्हीं टीम के एम मेंबर हरदित्य सिंह ने कहा कि पूरी टीम का अहम योगदान रहा है और इस कार को बनाने में रॉलकेज, स्टीयरिंग, ब्रैक और शैल आदि के पार्ट इस्तेमाल किया गए हैं, जिसमें से इन्हें स्टीयरिंग की जिम्मेदारी मिली थी।

नई दिल्ली। विज्ञान आज इतना आगे बढ़ चुका है कि इंजीनियरिंग के छात्र-छात्राएं नए-नए आविष्कार की ओर अग्रसर हो रहें हैं। ऐसा ही एक आविष्कार चेन्नई स्थित SRM यूनिवर्सिटी के ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग के 31 छात्रों की टीम ने किया है। उन्होंने एक ऐसी सिंगल सीटर बाइक कार है, जो 1 लीटर पेट्रोल में 121 किलोमीटर तक का सफर तय कर सकती है। दरअसल, इन छात्रों ने इस कार का प्रोटोटाइप मॉडल तैयार कर लिया है और इसे 19 से 22 नवंबर तक बेंगलुरू में आयोजित होने जा रही शैल इको मैराथन इंडिया में पेश करेगी। इस प्रतियोगिता में कार की क्षमता को परखा जाएगा और अगर इसे अच्छी प्रतिक्रियाएं मिली और सफल हुई तो इसे यह कार एशिया शैल ईको मैराथन का प्रतिनिधित्व करेगी। फ्यूल एफिशियंसी को बढ़ाने के लिए 31 छात्रों की टीम ने इसे डिजाइन करने में पूरा एक साल लगाया है। जानकारी मिली है कि इस कार को बनाने की लागत करीब ढाई से तीन लाख रुपये आई है और इसे बनाने के लिए टीम ने प्रतियगिता में हिस्सा लेने के लिए पॉकेट मनी से राशि जोड़ी है। बता दें इस कार की बॉडी पर हल्के कार्बन फाइबर और एल्यूमीनियम का इस्तेमाल किया गया है और इसे पिछले साल जनवरी महीने में डिजाइन करना शुरू किया गया था। इसमें 50 cc का इंजन दिया गया है और यह सिर्फ प्लेट सड़कों पर चलने में सक्षम है। इतना ही नहीं इस कार को बनाने के लिए छात्रों की टीम के कैप्टेन मोहम्मद सलीम सुबह से शाम तक रोजाना इसे बनाने में जुट जाते थे। हालांकि, कई बार इसे बनाने में असफल भी हुए, पर अब यह कार बनकर तैयार हो गई है। चार डोमेन व्हीकल डायनामिक्स, पार्टरेन, इलेक्ट्रिकल और कॉर्पोरेट बनाकर सबको अलग-अलग जिम्मेदारी के साथ इस प्रोजेक्ट को पूरा किया गया है। इन्हीं टीम के एम मेंबर हरदित्य सिंह ने कहा कि पूरी टीम का अहम योगदान रहा है और इस कार को बनाने में रॉलकेज, स्टीयरिंग, ब्रैक और शैल आदि के पार्ट इस्तेमाल किया गए हैं, जिसमें से इन्हें स्टीयरिंग की जिम्मेदारी मिली थी।