यह कैसी प्रथा, यहां बेटी के विवाह में उपहार के तौर पर दिए जाते हैं 21 जहरीले सांप

4167Here_21_poisonous_snakes_are_given_as_gifts_in_daughters_marriage,_the_recognition_behind_this_is_surprising

नई दिल्ली: बेटी की धूमधाम से शादी हर पिता का सपना होता है। एक पिता बेटी की खुशी के लिए आशीर्वाद के साथ हर वो उपहार देना चाहता है जिससे उसका जीवन खुशी से गुजर सके, लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि कोई पिता अपनी बेटी की शादी में उपहार के तौर पर जहरीले सांप देता है। चौंक गए ना, पर यह बात बिल्कुल सत्य है।
प्रतीकात्मक तस्वीर

This Type Of Practice Here 21 Poisonous Snakes Are Given As A Gift In The Marriage Of A Daughter :

ऐसी प्रथा हमारे ही देश में मध्य प्रदेश के एक विशेष समुदाय में आज भी चल रही है। यहां के गौरिया समुदाय के लोग अपने दामाद को दहेज में 21 जहरीले सांप देते हैं। इस समुदाय में यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। मान्यता है कि अगर इस समुदाय से जुड़ा कोई शख्स अपनी बेटी को शादी में सांप नहीं देता तो उसकी बेटी की शादी जल्दी ही टूट जाती है।
सांप

कहते हैं कि बेटी की शादी तय होते ही पिता अपने दामाद को तोहफा देने के लिए सांप पकड़ना शुरू कर देते हैं। इनमें गेंहुअन जैसे जहरीले सांप भी होते हैं। यहां के बच्चों को भी उन जहरीले सांपों से डर नहीं लगता बल्कि वो उनके साथ आराम से खेलते नजर आते हैं।
प्रतीकात्मक तस्वीर

दरअसल, इस समुदाय के लोगों का मुख्य पेशा सांप पकड़ना है और वो उन्हें लोगों को दिखाकर पैसा कमाते हैं। यही वजह है कि पिता अपनी दामाद को दहेज में सांप देता है, ताकि वो इन सांपों के जरिए कमाई कर सके और परिवार का पेट पाल सके। इस समुदाय में सांपों को सुरक्षित रखने के लिए कड़ा नियम भी बनाया गया है। कहते हैं कि अगर सांप इनके पिटारे में मर जाता है तो पूरे परिवार के लोगों को मुंडन कराना पड़ता है। साथ ही समुदाय के सभी लोगों को भोज करना पड़ता है।

नई दिल्ली: बेटी की धूमधाम से शादी हर पिता का सपना होता है। एक पिता बेटी की खुशी के लिए आशीर्वाद के साथ हर वो उपहार देना चाहता है जिससे उसका जीवन खुशी से गुजर सके, लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि कोई पिता अपनी बेटी की शादी में उपहार के तौर पर जहरीले सांप देता है। चौंक गए ना, पर यह बात बिल्कुल सत्य है। प्रतीकात्मक तस्वीर ऐसी प्रथा हमारे ही देश में मध्य प्रदेश के एक विशेष समुदाय में आज भी चल रही है। यहां के गौरिया समुदाय के लोग अपने दामाद को दहेज में 21 जहरीले सांप देते हैं। इस समुदाय में यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। मान्यता है कि अगर इस समुदाय से जुड़ा कोई शख्स अपनी बेटी को शादी में सांप नहीं देता तो उसकी बेटी की शादी जल्दी ही टूट जाती है। सांप कहते हैं कि बेटी की शादी तय होते ही पिता अपने दामाद को तोहफा देने के लिए सांप पकड़ना शुरू कर देते हैं। इनमें गेंहुअन जैसे जहरीले सांप भी होते हैं। यहां के बच्चों को भी उन जहरीले सांपों से डर नहीं लगता बल्कि वो उनके साथ आराम से खेलते नजर आते हैं। प्रतीकात्मक तस्वीर दरअसल, इस समुदाय के लोगों का मुख्य पेशा सांप पकड़ना है और वो उन्हें लोगों को दिखाकर पैसा कमाते हैं। यही वजह है कि पिता अपनी दामाद को दहेज में सांप देता है, ताकि वो इन सांपों के जरिए कमाई कर सके और परिवार का पेट पाल सके। इस समुदाय में सांपों को सुरक्षित रखने के लिए कड़ा नियम भी बनाया गया है। कहते हैं कि अगर सांप इनके पिटारे में मर जाता है तो पूरे परिवार के लोगों को मुंडन कराना पड़ता है। साथ ही समुदाय के सभी लोगों को भोज करना पड़ता है।