1. हिन्दी समाचार
  2. सिर्फ सलाद बेच महीने का 1 लाख कमाती है ये महिला, व्हाट्सएप से शुरू की थी मार्केटिंग

सिर्फ सलाद बेच महीने का 1 लाख कमाती है ये महिला, व्हाट्सएप से शुरू की थी मार्केटिंग

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

This Woman Earns 1 Lakh A Month Just By Selling Salad Marketing Was Started With Whatsapp

लखनऊ: खाने के साथ सलाद खाना एक अच्छी आदत होता है। फिर आजकल तो लोग हेल्थ को लेकर ज्यादा जागरूक भी हो गए हैं, ऐसे में सलाद अधिक खाते हैं। होटल में जो तो सब्जी रोटी के साथ सलाद मुफ़्त में मिल जाती है। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी महिला से मिलाने जा रहे हैं जिन्होंने सलाद बेच बेच कर लाखों रुपए की कमाई कर ली है। पुणे में रहने वाली मेघा बाफ़ना का सलाद का बिजनेस है। उन्होंने सलाद के मेन्यू को लेकर कई तरह के प्रयोग किए और अब वे रोजाना कई लोगों को स्वादिष्ट सलाद खिला अच्छे खासे पैसा कमा रही हैं।

पढ़ें :- आपके स्किन को हेल्दी रखने में मदद कर सकते है 8 प्लांट बेस्ड फूड्स

मेघना ने अपना बिजनेस 2017 में शुरू किया था। तब वे रियल स्टेट में जॉब भी करती थी। हालांकि उन्हें जीवन में कुछ अलग करना था। ऐसे में उन्हें सलाद बेचने का आइडिया आया। इसके लिए उन्होंने 3500 रुपए खर्च कर अपना बिजनेस शुरू किया। शुरुआत में वे व्हाट्सएप पर अपनी बनाई सलाद की तस्वीरें शेयर किया करती थी। ऐसे में पहले दिन उन्हें 5 ऑर्डर आए। यह उनके दोस्तों के ही थे। उनके स्टार्टअप का नाम ‘कीप गुड शेप’ (Keep Good Shape) है।धीरे धीरे लोगों तक मेघा का टैस्टी सलाद फेमस होने लगा। उनके ऑर्डर बढ़ने लगे। जल्द ही उन्होंने अपना स्टाफ भी बढ़ा लिया। पहले वे अकेले काम करती थी, लेकिन अब उन्होंने सब्जियां काटने के लिए 9 महिलाएं और डिलीवरी करने के लिए 10 डिलीवरी एजेंट रखे हुए हैं।

मेघा इस बिजनेस से महीने के 75 हजार रुपए से लेकर 1.25 लाख रुपए तक का नेट प्रॉफ़िट कमा लेती हैं। बीते तीन-चार सालों में वे 22 लाख रुपए की कमाई सिर्फ सलाद बेचकर ही कर चुकी हैं। हालांकि ये सब इतना आसान भी नहीं था। इसके लिए वे रोज़ सुबह साढ़े चार बजे उठती थी और फिर सलाद के पैकेट तैयार करने में जुट जाती थी। ऊपर से बच्चों को संभालना, घर की देख रेख, सब्जियां लाना ये सब भी चलता था। हालांकि अपना स्टाफ बढ़ा लेने के बाद उन्हें काफी हेल्प मिल गई है।

लॉकडाउन के पहले तक उनके पास 200 रेगुलर कस्टमर्स थे। उन्हें इस बिजनेस को स्टार्ट करने के बाद कई बार घाटा भी हुआ। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और लगातार काम करती रहीं। ये उनकी मेहनत का ही नतीजा है कि आज वे सलाद बेच लोगों से पैसा कमा रही हैं। मेघा अपना सलाद का मेन्यू रोजाना चेंज करती रहती हैं। वे डायबिटीज या अन्य बीमारी से पीड़ित मरीज के लिए स्पेशल सलाद भी तैयार करती हैं।

पढ़ें :- मुरादाबाद:नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान पर लगा मनरेगा में धांधली का आरोप,बिना मजदूरों के लगाई जाती हैं हाज़िरी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X