1. हिन्दी समाचार
  2. खबरें
  3. गावस्कर के वो 10,000 रन आज के 16,000 के बराबर हैं : इंजमाम उल हक

गावस्कर के वो 10,000 रन आज के 16,000 के बराबर हैं : इंजमाम उल हक

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इंजमाम उल हक ने टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर सुनील गावस्कर की जमकर तारीफ की है। टेस्ट क्रिकेट में सबसे पहले 10,000 रनों का आंकड़ा छूने का रिकॉर्ड गावस्कर के नाम ही दर्ज है। टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के नाम दर्ज हैं। सचिन के खाते में 15921 टेस्ट रन दर्ज हैं। इंजमाम का मानना है कि गावस्कर के वो 10,000 रन आज के 16,000 या उससे ज्यादा रनों के बराबर है।

इंजमाम ने कहा कि गावस्कर से पहले भी कई महान बल्लेबाज हुए हैं। जावेद मियांदाद और विव रिचर्ड्स जैसे दिग्गज बल्लेबाज खेले, लेकिन इनमें से कोई भी 10,000 टेस्ट रनों के आंकड़े तक नहीं पहुंच सका। इंजमाम ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा, ‘उनके समय में तमाम दिग्गज बल्लेबाज थे और उनसे पहले भी कई दिग्गज बल्लेबाज हुए हैं। जावेद मियांदाद, विव रिचर्ड्स, गैरी सोबर्स और सर डॉन ब्रैडमैन में से कोई भी इस आंकड़े तक नहीं पहुंच सका। बल्कि आज भी जब बहुत ज्यादा टेस्ट मैच खेले जाते हैं, तब भी मुश्किल से लोग इस आंकड़े तक पहुंच पाते हैं।’

मार्च 1987 में गावस्कर टेस्ट क्रिकेट में 10,000 रनों का आंकड़ा छूने वाले दुनिया के पहले क्रिकेटर बने थे। अहमदाबाद टेस्ट में पाकिस्तान के खिलाफ उन्होंने यह आंकड़ा छुआ था। इंजमाम ने कहा कि आज के समय में गावस्कर खेलते तो उनके रन कहीं ज्यादा होते। उन्होंने कहा, ‘अगर आप मुझसे पूछेंगे तो मैं कहूंगा कि सुनील के 10,000 रन उस समय के आज के 15,000 से 16,000 रन के बराबर होते, इससे ज्यादा भी हो सकते हैं, लेकिन इससे कम बिल्कुल नहीं।’ इंजमाम भी दुनिया के टॉप बल्लेबाजों में गिने जाते हैं, उन्होंने 120 टेस्ट मैच में 8,830 रन बनाए हैं।

उन्होंने कहा, ‘अगर एक बल्लेबाज की फॉर्म अच्छी होती है, तो वो 1000 से 1500 रन एक सीजन में बना सकता है। लेकिन जब सुनील बैटिंग करते थे, तब हालात अलग थे। आज के समय में पूरी तरह से बैटिंग विकेट तैयार किए जाते हैं, जिससे आप रन बना सकें। आईसीसी चाहता है कि बल्लेबाज रन बनाएं, जिससे लोगों का खूब मनोरंजन हो। लेकिन पहले विकेट बहुत मुश्किल होते थे बल्लेबाजी के लिए। खासकर जब आप सब-कॉन्टिनेंट से बाहर बल्लेबाजी कर रहे हों।’ गावस्कर के रिटायरमेंट के बाद कुल 12 बल्लेबाज 10,000 टेस्ट रनों का आंकड़ा पार कर सके हैं।

टेस्ट क्रिकेट में सचिन तेंदुलकर (15,921), रिकी पोंटिंग (13,378), जैकस कालिस (13,289), राहुल द्रविड़ (13,288), एलिस्टेयर कुक (12,472), कुमार संगकारा (12,400), ब्रायन लारा (11,953), शिवनारायण चंद्रपॉल (11,867), महेला जयवर्धने (11,814), एलेन बॉर्डर (11,174), स्टीव वॉ (10,927), सुनील गावस्कर (10,122) और यूनिस खान (10,099) ही ऐसे बल्लेबाज हैं, जो 10,000 से ज्यादा टेस्ट रन बना चुके हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...