शराब के नशे में धुत दोस्तों से चली गोली, टाइल्स कारोबारी की मौत

lucknow police murder, इंदिरानगर हत्या
शराब के नशे में धुत दोस्तों से चली गोली, टाइल्स कारोबारी की मौत

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित इंदिरानगर इलाके में गुरुवार शाम बाराबंकी से आए एक टाइल्स कारोबारी ने अपने दो दोस्तों के साथ जमकर शराब पी। नशे में होने के बाद उनमें से एक ने असलहा निकालकर लोड किया और फिर उससे खिलवाड़ करने लगे। इसी दौरान तमंचे से गोली चल गई। गोली टाइल्स कारोबारी को लगी और वो वही लहूलुहान होकर गिर पड़ा। घबराए साथियो ने उसे पहले लोहिया पहुंचाया और फिर ट्रामा लेकर गए। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। फ़िलहाल पुलिस ने मृतक के दोनों साथियो को गिरफ्तार कर तमंचा बरामद कर लिया है।

Tiles Artisan Shot Dead In Lucknow :

मूल रूप से बाराबंकी, देवा के मऊ निवासी राजेश सिंह का 22 वर्षीय बेटा नीरज रावत टाइल्स का काम करता था। गुरुवार वह राजधानी के चिनहट क्षेत्र में निजी काम से आया था। देर शाम नीरज खून से लथपथ हालात में मुरलीपुरवा क्षेत्र में पड़ा हुआ था। बताया जा रहा है कि इसी बीच अमन और मोहित नाम के युवकों ने उसे खून से लथपथ देख इन्दिरानगर पुलिस को सूचना दी। इन्दिरानगर पुलिस की मदद से नीरज को लोहिया अस्पताल में ले गये। उसकी हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वहीं पुलिस ने अमन और मोहित को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पता चला कि ये सभी आपस में दोस्त हैं। गुरुवार रात इन लोगो ने साथ में बैठकर शराब पी और इसके बाद पास रखा असलहा निकालकर उसके साथ खिलवाड़ करने लगे। इसी दौरान ज्यादा नशे में होने के चलते फायर हो गया और गोली नीरज को लग गई। दोस्त को लहूलुहान देख अमन और मोहित के होश उड़ गए। वो लोग पहले तो उसे लेकर लोहिया पहुंचे। नीरज की हालत नाजुक देख डाक्टरों ने उसे ट्रामा रेफर कर दिया। जहां नीरज की इलाज के दौरान मौत हो गई।

फिलहाल इस मामले में इंदिरानगर पुलिस ने आरोपियों के पास से दो अवैध तमंचे, जिन्दा कारतूस और एक खोखा बरामद कर लिया है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के लखनऊ स्थित इंदिरानगर इलाके में गुरुवार शाम बाराबंकी से आए एक टाइल्स कारोबारी ने अपने दो दोस्तों के साथ जमकर शराब पी। नशे में होने के बाद उनमें से एक ने असलहा निकालकर लोड किया और फिर उससे खिलवाड़ करने लगे। इसी दौरान तमंचे से गोली चल गई। गोली टाइल्स कारोबारी को लगी और वो वही लहूलुहान होकर गिर पड़ा। घबराए साथियो ने उसे पहले लोहिया पहुंचाया और फिर ट्रामा लेकर गए। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। फ़िलहाल पुलिस ने मृतक के दोनों साथियो को गिरफ्तार कर तमंचा बरामद कर लिया है।मूल रूप से बाराबंकी, देवा के मऊ निवासी राजेश सिंह का 22 वर्षीय बेटा नीरज रावत टाइल्स का काम करता था। गुरुवार वह राजधानी के चिनहट क्षेत्र में निजी काम से आया था। देर शाम नीरज खून से लथपथ हालात में मुरलीपुरवा क्षेत्र में पड़ा हुआ था। बताया जा रहा है कि इसी बीच अमन और मोहित नाम के युवकों ने उसे खून से लथपथ देख इन्दिरानगर पुलिस को सूचना दी। इन्दिरानगर पुलिस की मदद से नीरज को लोहिया अस्पताल में ले गये। उसकी हालत गंभीर देख डॉक्टरों ने ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।वहीं पुलिस ने अमन और मोहित को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पता चला कि ये सभी आपस में दोस्त हैं। गुरुवार रात इन लोगो ने साथ में बैठकर शराब पी और इसके बाद पास रखा असलहा निकालकर उसके साथ खिलवाड़ करने लगे। इसी दौरान ज्यादा नशे में होने के चलते फायर हो गया और गोली नीरज को लग गई। दोस्त को लहूलुहान देख अमन और मोहित के होश उड़ गए। वो लोग पहले तो उसे लेकर लोहिया पहुंचे। नीरज की हालत नाजुक देख डाक्टरों ने उसे ट्रामा रेफर कर दिया। जहां नीरज की इलाज के दौरान मौत हो गई।फिलहाल इस मामले में इंदिरानगर पुलिस ने आरोपियों के पास से दो अवैध तमंचे, जिन्दा कारतूस और एक खोखा बरामद कर लिया है।