1. हिन्दी समाचार
  2. जीवन मंत्रा
  3. weekend में स्वयं की देखभाल के लिए टिप्स

weekend में स्वयं की देखभाल के लिए टिप्स

स्वयं की देखभाल के लिए weekend से बेहतर समय क्या हो सकता है

By प्रीति कुमारी 
Updated Date

अपने बिजी शेड्यूल के बीच हम अक्सर खुद को प्राथमिकता देना भूल जाते हैं। जबकि अल्पावधि में यह ज्यादा मायने नहीं रखता, लंबी अवधि में, यह अस्थिर हो सकता है। इसलिए हर किसी को जितना हो सके अपने लिए समय निकालना चाहिए। और सप्ताहांत से बेहतर समय क्या हो सकता है

पढ़ें :- दीवाली की रौनक बयां करती हैं ये सभी चीजें

खुद की देखभाल का महत्‍व आज के समय में कहीं खो गया है। दुनिया अब ज्‍यादा और मुश्किल काम करने की बन गई हैं। इसके लिए आपको टेक्नोलॉजी और स्मार्टफोन्स को धन्‍यवाद देना चाहिए। जिनके कारण हम दिन के 24 घंटे काम करने के लिए सुलभ हैं। लेकिन इन सबके कारण आप बहुत ज्‍यादा थका हुआ और आसानी से कुंठित महसूस करते हैं। अगर आप भी बहुत ज्‍यादा काम करते हैं, तो आपको खुद की देखभाल को प्राथमिकता देनी चाहिए।

अगर आप भी बहुत ज्‍यादा काम करते हैं, तो आपको खुद की देखभाल को प्राथमिकता देनी चाहिए। यहां पर स्‍वयं की देखभाल के कुछ टिप्‍स को अपने नियमित दिनचर्या का हिस्‍सा बनाकर आप आसानी से खुद की देखभाल के बारे में अच्‍छा महसूस कर सकते हैं।

पर्याप्त नींद लें
यदि आप पर्याप्‍त नींद नहीं सो रहे हैं या आपको अच्‍छी नींद नहीं मिल रही हैं तो आपके व्‍यवहार में चिड़चिड़ाहट या सनकीपन आ सकता है। इसका असर यह होगा कि अन्‍य लोगों आपको शायद अपने आसपास ज्‍यादा पसंद नहीं करेंगे।

अच्‍छी किताबें पढ़ें
पढ़ने से आप अपने दिमाग की स्‍वयं देखभाल कर सकते है। अपनी मनपसंद किताबें पढ़ने से आपका मन खुश रहता है। खुश रहने से दिमाग स्वस्थ रहता ही है, साथ ही तनाव नहीं होता है जिससे दिमागी पर दबाव नहीं बनता है।

पढ़ें :- Skin Care Routine: गर्मियों में त्वचा को रखिये मुलायम, ये चीजें जरूरी लगाएं

ध्यान
यह वास्‍तव में आराम देता है और कहीं भी किया जा सकता है – पांच मिनट अपनी सांस पर ध्यान केंद्रित कर आप फर्क महसूस कर सकते है।

व्यायाम करें
खुद को अच्‍छा महसूस करने के लिए आपको नियमित रूप से एक्‍सरसाइज करने की जरूरत होती है। इससे न सिर्फ शारीरिक रूप से स्वस्थ रहने में मदद मिलती है, बल्कि मानसिक शांति भी प्राप्त होती है।

कुछ समय बाहर बिताओ
अगर आप ऑफिस में काम कड़ी मेहनत से करते हैं तो आपको शायद ताजी हवा या धूप में जाने का समय नहीं मिलता होगा। इसलिए इन सब के अलावा स्‍वयं की देखभाल करें और कुछ समय निकाल कर प्रकृति में बिताये।

 

पढ़ें :- जानिए हमारे शरीर के लिए कितना हानिकारक है एसी
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...