बंगाल में TMC नेता ने महिला टीचर व उसकी बहन को रस्सी से बांधकर घसीटा, वीडियो वायरल

mahilao ko ghaseeta
बंगाल में TMC नेता ने महिला टीचर व उसकी बहन को रस्सी से बांधकर घसीटा, वीडियो वायरल

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में टीएमसी कार्यकर्ताओं की दंबगई का वीडियो तेजी के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। टीएमसी नेता ने जमीन के विवाद में एक महिला टीचर और उसकी बहन को जमकर पीटवाया, इसके बाद दोनो को रस्सी सें बांधकर सड़को पर घसीटवाया। घटना के बाद महिलाओं को अस्पताल ले जाया गया। बड़ी बहन प्राथमिक उपचार के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया जबकि छोटी बहन को दूसरे दिन घर भेजा गया।

Tmc Leader Drags Female Teacher And Her Sister By Rope In Bengal Video Goes Viral :

मामला दक्षिणी दिनापुर जिले के गंगरामपुर का है। महिला टीचर के मुताबिक, उसका कसूर सिर्फ इतना था कि उसने सड़क निर्माण के लिए जबरन उसकी जमीन का अधिग्रहण करने का विरोध किया था। इससे नाराज लोगों ने पहले महिला को धक्का देकर गिरा दिया और फिर करीब 30 फीट तक पैरों में रस्सी बांधकर घसीटा। इतना ही नहीं, आरोपियों ने महिला को घर में ताला लगाकर बंद भी कर दिया। मारपीट करने वाले लोगों की अगुवाई टीएमसी व पंचायत नेता अमल सरकार कर रहा था। रविवार को टीएमसी के जिला प्रमुख अर्पिता घोष ने पंचायत नेता अमल सरकार को पार्टी से निलंबित कर दिया है। वहीं महिलाओं की तरफ से मुकदमा भी दर्ज करवा दिया गया है।

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है, वीडियो में देखा जा सकता है कि मैरून रंग की मैक्सी पहने अध्यापिका स्मृतिकोना दास को जमीन पर गिराकर पीटा जा रहा है। एक आदमी उसके पैरों में रस्सी बांधता है और बाकी लोग उसे सड़क पर घसीटना शुरू कर देते हैं। जब उसकी बड़ी बहन सोमा दास वहां पहुंची तो उसने भीड़ पर चिल्लाना शुरू किया। इसके बाद उसे भी जमीन पर गिराकर घसीटा गया और उसकी बहन के पास लाकर गिरा दिया।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में टीएमसी कार्यकर्ताओं की दंबगई का वीडियो तेजी के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। टीएमसी नेता ने जमीन के विवाद में एक महिला टीचर और उसकी बहन को जमकर पीटवाया, इसके बाद दोनो को रस्सी सें बांधकर सड़को पर घसीटवाया। घटना के बाद महिलाओं को अस्पताल ले जाया गया। बड़ी बहन प्राथमिक उपचार के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया जबकि छोटी बहन को दूसरे दिन घर भेजा गया। मामला दक्षिणी दिनापुर जिले के गंगरामपुर का है। महिला टीचर के मुताबिक, उसका कसूर सिर्फ इतना था कि उसने सड़क निर्माण के लिए जबरन उसकी जमीन का अधिग्रहण करने का विरोध किया था। इससे नाराज लोगों ने पहले महिला को धक्का देकर गिरा दिया और फिर करीब 30 फीट तक पैरों में रस्सी बांधकर घसीटा। इतना ही नहीं, आरोपियों ने महिला को घर में ताला लगाकर बंद भी कर दिया। मारपीट करने वाले लोगों की अगुवाई टीएमसी व पंचायत नेता अमल सरकार कर रहा था। रविवार को टीएमसी के जिला प्रमुख अर्पिता घोष ने पंचायत नेता अमल सरकार को पार्टी से निलंबित कर दिया है। वहीं महिलाओं की तरफ से मुकदमा भी दर्ज करवा दिया गया है। घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है, वीडियो में देखा जा सकता है कि मैरून रंग की मैक्सी पहने अध्यापिका स्मृतिकोना दास को जमीन पर गिराकर पीटा जा रहा है। एक आदमी उसके पैरों में रस्सी बांधता है और बाकी लोग उसे सड़क पर घसीटना शुरू कर देते हैं। जब उसकी बड़ी बहन सोमा दास वहां पहुंची तो उसने भीड़ पर चिल्लाना शुरू किया। इसके बाद उसे भी जमीन पर गिराकर घसीटा गया और उसकी बहन के पास लाकर गिरा दिया।