पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव: अब तक टीएमसी ने दर्ज की सबसे ज्यादा सीटों पर जीत, मतगणना जारी

west bengal panchayat chunao1
पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव: अब तक टीएमसी ने दर्ज की सबसे ज्यादा सीटों पर जीत, मतगणना जारी
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में हुए पंचायत चुनावों के बाद आज मतगणना चल रही है। सुबह आठ बजे से हुई मतगणना में सुरक्षाव्यवस्था के चाकचौबंध व्यवस्था की गई थी। इसकी मुख्य वजह मतदान के दौरान प्रदेश में हुई हिंसा बताई जा ही है। मतगणना स्थल पर किसी प्रकार को कोई विवाद न होने पाए, इसके लिए इसके लिए लोकल पुलिस के अलावा कई सुरक्षाबलों को मतगणना स्थल के आसपास तैनात किया गया है। बता दें कि कुल 31,814 सीटों के शुरुआती…

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में हुए पंचायत चुनावों के बाद आज मतगणना चल रही है। सुबह आठ बजे से हुई मतगणना में सुरक्षाव्यवस्था के चाकचौबंध व्यवस्था की गई थी। इसकी मुख्य वजह मतदान के दौरान प्रदेश में हुई हिंसा बताई जा ही है। मतगणना स्थल पर किसी प्रकार को कोई विवाद न होने पाए, इसके लिए इसके लिए लोकल पुलिस के अलावा कई सुरक्षाबलों को मतगणना स्थल के आसपास तैनात किया गया है।

बता दें कि कुल 31,814 सीटों के शुरुआती नतीजों में तृणमूल कांग्रेस ने 2,467 सीटें जीती हैं। वहीं बीजेपी ने 386 सीटें और माकपा ने 94 सीटों पर जीत दर्ज करा दी है। शुरुआती रूझानों के मुताबिक तृणमूल कांग्रेस ने 2,683 सीटों पर बढ़त बना ली है, जबकि भाजपा 231 सीटों और माकपा 163 सीटों पर आगे चल रही हैं। बता दें कि प्रदेश में 14 मई को 621 जिला परिषद, 6,123 पंचायत समितियों और 31,802 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान प्रक्रिया सम्पन्न कराई गई थी, जिसमें बड़े पैमाने पर हिंसा भी हुई थी।

{ यह भी पढ़ें:- परिषदीय स्कूलों के स्वेटर टेंडर पर निर्वाचन आयोग की आपत्ति }

बता दें कि 3,358 ग्राम पंचायतों की 48,650 सीटों में से 16,814 सीटों पर, इसी तरह 341 पंचायत समितियों की 9,217 सीटों में से 3059 सीटों पर जबकि 20 जिला परिषदों की 825 सीटों में से 203 सीटों पर निर्विरोध ही फैसला हो गया था। बताया जा रहा है कि पंचायत चुनाव के शुरुआती रूझानों को ही देखकर तृणमूल कांग्रेस के समर्थक और कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाना शुरु कर दिया था।

बता दें कि मतगणना जलपाईगुड़ी के पॉलीटेक्निक इंस्‍टीट्यूट में चल रही है। पुलिस ने मतगणना केंद्र से 40 मोबाइलों को सीज किया है। बता दें कि पूरे पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) को जिन 568 मतदान केन्द्रों पर हिंसा की शिकायतें मिली थीं, वहां 16 मई को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच फिर से मतदान कराए गए थे। बताया जा रहा है कि जहां पुनर्मतदान हुआ है वो मतदान केन्द्र राज्य के सभी बीस जिलों में है।

{ यह भी पढ़ें:- मुकुल रॉय भाजपा में शामिल, ममता के खिलाफ भगवा राजनीति को देंगे धार }

बता दें कि पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा के बाद उम्मीदवारों ने चुनाव आयोग के अधिकारियों के सामने पुनर्मतदान की मांग की थी। मतदान के दौरान हुई हिंसा में 12 लोगों की मौत के साथ ही दर्जनों लोग घायल हुए थे। हिंसा के बाद विपक्षी दलों ने तृणमूल के आतंक का राज उजागर होने का आरोप लगाया था, हालांकि बाद में तृणमूल इन आरोपों को विरोधियों को उनकी छवि खराब करने की साजिश बताई थी।

Loading...