उत्तराखंड में रहना है तो वन्देमातरम कहना होगा: धन सिंह रावत

ऋषिकेश| उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने एक कार्यक्रम के दौरान विवादित बयान दिया है| उन्होंने कहा कि अगर उत्तराखंड में रहना है तो वन्देमातरम कहना होगा| उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के सभी स्कूलों में सुबह 10 बजे राष्ट्रगान होगा जबकि शाम 4 बजे वन्देमातरम गाना अनिवार्य होगा| मंत्री ने यह भी कहा कि सभी विश्वविद्यालयों में 100 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया जाएगा| रावत रुड़की काॅलेज आॅफ इंजीनिरिंग में छात्रों को संबोधित कर रहे थे|




उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा में बहुत जल्द बदलाव नजर आने लगेगा| सरकार विवि व महाविद्यालयों में अनुशासन का स्तर सुधारने को सभी के लिए ड्रेस कोड व 180 दिन की अनिवार्य उपस्थिति के लिए विधेयक लाने जा रही है|

To Live In Uttarakhand Then To Say Vande Mataram Says Dhan Singh Rawat :

उन्होंने कहा कि जिन बीएड कालेजों की उपस्थिति 180 दिन से कम होगी, उनकी मान्यता रद कर दी जाएगी| विवि व महाविद्यालयों में सुबह 10 बजे राष्ट्रगान व शाम चार बजे राष्ट्रगीत वंदेमातरम गान जरूरी होगा| इनका उल्लंघन करने पर कठोर कार्यवाई की जाएगी|




उन्होंने कहा कि सरकार सभी शिक्षण केंद्रों को हर तरह के नशे से मुक्त करने की दिशा में काम कर रही है| जल्द ही इसके लिए मजबूत कानून लाया जाएगा जिसकी जद में शिक्षण संस्थाएं, उनके परिसर तो होंगे ही, साथ ही उनके आसपास के इलाकों में इस तरह की गतिविधियों पर रोक लगाई जाएगी|

ऋषिकेश| उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने एक कार्यक्रम के दौरान विवादित बयान दिया है| उन्होंने कहा कि अगर उत्तराखंड में रहना है तो वन्देमातरम कहना होगा| उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के सभी स्कूलों में सुबह 10 बजे राष्ट्रगान होगा जबकि शाम 4 बजे वन्देमातरम गाना अनिवार्य होगा| मंत्री ने यह भी कहा कि सभी विश्वविद्यालयों में 100 फीट ऊंचा तिरंगा फहराया जाएगा| रावत रुड़की काॅलेज आॅफ इंजीनिरिंग में छात्रों को संबोधित कर रहे थे| उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा में बहुत जल्द बदलाव नजर आने लगेगा| सरकार विवि व महाविद्यालयों में अनुशासन का स्तर सुधारने को सभी के लिए ड्रेस कोड व 180 दिन की अनिवार्य उपस्थिति के लिए विधेयक लाने जा रही है|उन्होंने कहा कि जिन बीएड कालेजों की उपस्थिति 180 दिन से कम होगी, उनकी मान्यता रद कर दी जाएगी| विवि व महाविद्यालयों में सुबह 10 बजे राष्ट्रगान व शाम चार बजे राष्ट्रगीत वंदेमातरम गान जरूरी होगा| इनका उल्लंघन करने पर कठोर कार्यवाई की जाएगी| उन्होंने कहा कि सरकार सभी शिक्षण केंद्रों को हर तरह के नशे से मुक्त करने की दिशा में काम कर रही है| जल्द ही इसके लिए मजबूत कानून लाया जाएगा जिसकी जद में शिक्षण संस्थाएं, उनके परिसर तो होंगे ही, साथ ही उनके आसपास के इलाकों में इस तरह की गतिविधियों पर रोक लगाई जाएगी|