1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. Tokyo Olympics 2020 : सेमीफाइनल में पीवी सिंधु का कमाल, भारत एक और मेडल के करीब

Tokyo Olympics 2020 : सेमीफाइनल में पीवी सिंधु का कमाल, भारत एक और मेडल के करीब

Tokyo Olympics 2020 news टोक्यो ओलंपिक में  आज 8वें दिन बैडमिंटन महिला क्वार्टर फाइनल में पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने जापान की अकाने यामागुची ( Akane Yamaguchi) को 21-13, 22-20 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया (move into semifinals) है। सिंधु ने यामागुची के बीच कांटे का ये मुकाबला 56 मिनट तक चला। सिंधु ने ये मैच जीतकर सेमीफाइनल में जगह बना ली है। वह मेडल से एक जीत दूर हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। Tokyo Olympics 2020 news टोक्यो ओलंपिक में  आज 8वें दिन बैडमिंटन महिला क्वार्टर फाइनल में पीवी सिंधु (PV Sindhu) ने जापान की अकाने यामागुची ( Akane Yamaguchi) को सीधे गेम में  21-13, 22-20 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया (move into semifinals) है। सिंधु ने यामागुची के बीच कांटे का ये मुकाबला 56 मिनट तक चला। सिंधु ने ये मैच जीतकर सेमीफाइनल में जगह बना ली है। वह मेडल से एक जीत दूर हैं।

पढ़ें :- एक सच्चे खिलाड़ी में हमेशा एक सैनिक मौजूद होता है : Defense Minister Rajnath Singh
Jai Ho India App Panchang

सिंधु ने सुस्त शुरुआत करते हुए बाद में लय पकड़ी है। पहले गेम में जापान की अकाने यामागुची ने जोरदार टक्कर दी। दोनों खिलाड़ियों के बीच जबदस्त मुकाबला देखने को मिला है। पीवी सिंधु ने पहला गेम 21-13 से जीता। बैडमिंटन महिला क्वार्टर फाइनल (Badminton, Women’s Singles, Quarterfinal) कर यह गेम 23 मिनट तक चला। पीवी  सिंधु ने पहला गेम जीतकर 1-0 की बढ़त बनाई।  दूसरे गेम में भी पीवी सिंधु ने जोरदार खेल दिखाते हुए 22-20 से गेम जीत लिया है। इसी के साथ सिंधु सेमीफाइनल में पहुंच गई हैं। कांटे का ये मुकाबला 56 मिनट तक चला।

सिंधु का रिकॉर्ड यामागुची के खिलाफ है शानदार

पीवी सिंधु का अकाने यामागुची के खिलाफ शानदार रिकॉर्ड रहा है। उन्होंने यामागुची के खिलाफ 18 में से 11 मुकाबले जीते हैं, जबकि 7 में उन्हें हार का सामना करना पड़ा है। दोनों खिलाड़ियों के बीच मार्च में ऑल इंग्लैंड चैम्पियनशिप में हुए पिछले मुकाबले में सिंधु ने बाजी मारी थी।

डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को हराकर क्वॉर्टर फाइनल में पीवी सिंधु बनाई थी जगह

पढ़ें :- Olympic medalists का योगी सरकार ने किया सम्मान, खिलाड़ियों के लिए खोला अपना खजाना

गुरुवार को पीवी सिंधु ने डेनमार्क की मिया ब्लिचफेल्ट को हराकर क्वॉर्टर फाइनल में जगह बनाई थी। सिंधु ने 41 मिनट तक चले मुकाबले में मिया के खिलाफ 21-15, 21-13 से जीत दर्ज की थी। यामागुची की बात की जाए तो उन्होंने प्री-क्वार्टर फाइनल में दक्षिण कोरिया की गायुन किम को 2-0 से हराया। यामागुची ने यह मैच 21–17, 21-18 से जीता था।

पीवी सिंधु ने हमेशा बड़े टूर्नामेंटस में अच्छा प्रदर्शन किया

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (Indian badminton player PV Sindhu) ने हमेशा बड़े टूर्नामेंटस में अच्छा प्रदर्शन किया है, जो पांच साल पहले रियो डी जनेरियो (Rio de Janeiro) में जीते गए रजत पदक और विश्व चैंपियनशिप में उनके प्रदर्शन से स्पष्ट है। विश्व चैम्पियनशिप में उन्होंने 2019 में स्वर्ण पदक जीता था। इससे पहले 2017 और 18 में सिंधु ने रजत और 2013 तथा 2014 में कांस्य पदक जीता था।

टूर्नामेंट में मैच दर मैच की रणनीति पर चलना बेहतर होगा

गुरुवार को मैच के बाद सिंधु ने कहा कि कई लोगों ने उन्हें टूर्नामेंट के महत्व को समझाया है। उन्होंने यह भी कहा कि इस टूर्नामेंट में मैच दर मैच की रणनीति पर चलना बेहतर होगा। एक वेबसाइट से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा था कि बहुत से लोगों ने मुझसे जो कहा है। मैं इसे एक तारीफ के रूप में लूंगी, लेकिन मेरे लिए हर मैच महत्वपूर्ण है। हर बिंदु पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है, न कि सिर्फ मैच पर।

पढ़ें :- Tokyo Olympics खिलाड़ियों से मिले पीएम मोदी, नीरज चोपड़ा को खिलाया चूरमा और सिंधु के साथ खाई आइसक्रीम

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...