जुर्माने के लिए नहीं हैं ट्रैफिक रूल, सुरक्षा के लिए जरूरी हैं ये नियम : सीएम योगी

cm yogi
जुर्माने के लिए नहीं हैं ट्रैफिक रूल, सुरक्षा के लिए जरूरी हैं ये नियम : सीएम योगी

लखनऊ। प्रदेश में नए व्हीकल रूल से लोगों की नाराजगी को देखते हुए सीएम योगी ने कहा कि यातायात नियम जुर्माने के लिए नहीं हैं, बल्कि ये सुरक्षा के लिए जरूरी हैं। वो एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आगरा गए थे, जहां उन्होंने जनता के सवालों के भी जवाब दिए। इस कड़ी में किसी ने यूपी में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं को लेकर सीएम योगी से कोई अभियान चलाने को कहा।

Traffic Rules Are Not For Fines These Rules Are Necessary For Safety Cm Yogi :

वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इसके लिए हमने जागरुकता बचाव और उपचार तीनों पहलुओं पर काम किया है। उन्होने आगे कहा कि अक्सर देखा जाता है कि जनता ट्रैफिक रूल्स का पालन नहीं करती हैं, बल्कि ट्रैफिक पुलिस से झगड़ा करते हैं। जब हमने सरकारी बस ड्राइवरों का हेल्थ चेकअप किया तो बड़ूी संख्या में ऐसे लोग ती जिन्हें आंखों से ठीक से दिखाई नहीं पड़ता था।

सीएम योगी ने आगे कहा कि ‘साथ ही सड़क दुर्घटना होने पर जल्द से जल्द उपचार मुहैया हो इसके लिए हर बड़े जनपथ को चार और छोटे जनपथ को हमने तीन लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस दी हैं। कई मोड़ ऐसे होते हैं जहां दुर्घटनाएं अधिक होती हैं। उन ब्लैक स्पॉट को चिन्हित कर इसके कारण पता कर निवारण के उपाय कर रहे हैं।

लखनऊ। प्रदेश में नए व्हीकल रूल से लोगों की नाराजगी को देखते हुए सीएम योगी ने कहा कि यातायात नियम जुर्माने के लिए नहीं हैं, बल्कि ये सुरक्षा के लिए जरूरी हैं। वो एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आगरा गए थे, जहां उन्होंने जनता के सवालों के भी जवाब दिए। इस कड़ी में किसी ने यूपी में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं को लेकर सीएम योगी से कोई अभियान चलाने को कहा। वहीं सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इसके लिए हमने जागरुकता बचाव और उपचार तीनों पहलुओं पर काम किया है। उन्होने आगे कहा कि अक्सर देखा जाता है कि जनता ट्रैफिक रूल्स का पालन नहीं करती हैं, बल्कि ट्रैफिक पुलिस से झगड़ा करते हैं। जब हमने सरकारी बस ड्राइवरों का हेल्थ चेकअप किया तो बड़ूी संख्या में ऐसे लोग ती जिन्हें आंखों से ठीक से दिखाई नहीं पड़ता था। सीएम योगी ने आगे कहा कि 'साथ ही सड़क दुर्घटना होने पर जल्द से जल्द उपचार मुहैया हो इसके लिए हर बड़े जनपथ को चार और छोटे जनपथ को हमने तीन लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस दी हैं। कई मोड़ ऐसे होते हैं जहां दुर्घटनाएं अधिक होती हैं। उन ब्लैक स्पॉट को चिन्हित कर इसके कारण पता कर निवारण के उपाय कर रहे हैं।