रिलायंस जियो को इंटरकनेक्शन पोर्ट उपलब्ध न कराने पर तीन कंपनियों पर लगा करोड़ों का जुर्माना

नई दिल्ली। ट्राई ने रिलायंस जियो को पर्याप्त इंटरकनेक्शन मुहैया नहीं कराने के लिए तीन दूरसंचार कंपनियों एयरटेल, आइडिया और वोडाफोन पर कुल 3,050 करोड रूपये का जुर्माना लगाया है। भारती एयरटेल और वोडाफोन पर प्रति सर्किल (21 सर्किल) के हिसाब से 50 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है, जबकि आइडिया पर भी इसी हिसाब से 19 सर्किल के लिए जुर्माना लगाया गया है।

Trai Fines Airtel Vodafone Idea For Denial Of Interconnection To Jio :

5 सितम्बर से रिलाएंस जियो की सेवायें शुरू हुई है। कम्पनी ने ट्राई से शिकायत करते हुए कहा कि मौजूदा दूसरी कम्पनियां उसे पर्याप्त संख्या में इंटरकनेक्शन पोर्ट उपलब्ध नहीं करा रही हैं जिसके चलते और दूसरे नेटवर्क पर कॉल लगने में समस्या आ रही है और कॉल फेल हो जा रही है।

ट्राई ने पाया है कि ये ऑपरेटर लाइसेंस शर्तों का अनुपालन नहीं कर रहे हैं इसलिए ट्राई ने दूरसंचार विभाग से इन तीन बड़ी कंपनियों पर जुर्माना लगाने की सिफारिश की है। इस मामले में रिलायंस जियो का कहना है कि उसके ग्राहकों को एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया सेल्युलर के नेटवर्क पर 75 फीसदी कॉल फेल होनी की परेशानी झेलनी पड़ रही है।

मौजूदा ऑपरेटरों ने पर्याप्त इंटरकनेक्शन सुविधा उपलब्ध नहीं कराई है। बता दें कि सेवा गुणवत्ता नियमों के अनुसार, इंटरकनेक्शन के मामले में 1,000 में से पांच से अधिक कॉल्स फेल नहीं होनी चाहिए। जुर्माने के बारे में जब तीनों कंपनियों से पूछा गया तो तीनों कोई जवाब देने से इनकार कर दिया।

आस्था सिंह की रिपोर्ट

नई दिल्ली। ट्राई ने रिलायंस जियो को पर्याप्त इंटरकनेक्शन मुहैया नहीं कराने के लिए तीन दूरसंचार कंपनियों एयरटेल, आइडिया और वोडाफोन पर कुल 3,050 करोड रूपये का जुर्माना लगाया है। भारती एयरटेल और वोडाफोन पर प्रति सर्किल (21 सर्किल) के हिसाब से 50 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है, जबकि आइडिया पर भी इसी हिसाब से 19 सर्किल के लिए जुर्माना लगाया गया है। 5 सितम्बर से रिलाएंस जियो की सेवायें शुरू हुई है। कम्पनी ने ट्राई से शिकायत करते हुए कहा कि मौजूदा दूसरी कम्पनियां उसे पर्याप्त संख्या में इंटरकनेक्शन पोर्ट उपलब्ध नहीं करा रही हैं जिसके चलते और दूसरे नेटवर्क पर कॉल लगने में समस्या आ रही है और कॉल फेल हो जा रही है। ट्राई ने पाया है कि ये ऑपरेटर लाइसेंस शर्तों का अनुपालन नहीं कर रहे हैं इसलिए ट्राई ने दूरसंचार विभाग से इन तीन बड़ी कंपनियों पर जुर्माना लगाने की सिफारिश की है। इस मामले में रिलायंस जियो का कहना है कि उसके ग्राहकों को एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया सेल्युलर के नेटवर्क पर 75 फीसदी कॉल फेल होनी की परेशानी झेलनी पड़ रही है। मौजूदा ऑपरेटरों ने पर्याप्त इंटरकनेक्शन सुविधा उपलब्ध नहीं कराई है। बता दें कि सेवा गुणवत्ता नियमों के अनुसार, इंटरकनेक्शन के मामले में 1,000 में से पांच से अधिक कॉल्स फेल नहीं होनी चाहिए। जुर्माने के बारे में जब तीनों कंपनियों से पूछा गया तो तीनों कोई जवाब देने से इनकार कर दिया। आस्था सिंह की रिपोर्ट