अगरतला। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की त्रिपुरा इकाई के अध्यक्ष बिपल्ब कुमार देब राज्य के नए मुख्यमंत्री होंगे। साथ ही पार्टी के जनजातीय नेता जिष्णु देबबर्मा उप मुख्यमंत्री होंगे। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को इसकी घोषणा की। भाजपा के नवनिर्वाचित विधायक यहां मंगलवार को केंद्रीय पर्यवेक्षकों की मौजूदगी में मिले और देब को भाजपा विधायक दल का नेता चुना।

गडकरी ने संवाददाताओं को बताया, “बिपल्ब कुमार देब नए मुख्यमंत्री होंगे और जिष्णु देबबर्मा उपमुख्यमंत्री।” घोषणा के तुरंत बाद देब, गडकरी के साथ राजभवन पहुंचे और राज्यपाल तथागत रॉय से मिलकर भाजपा सरकार बनाने का दावा पेश किया। आरएसएस कार्यकर्ता से भाजपा नेता बने 48 वर्षीय देब ने राज्यपाल से मुलाकात से पहले मीडिया से कहा, “त्रिपुरा में हम अच्छा शासन देंगे।”

{ यह भी पढ़ें:- ममता बनर्जी बोलीं- BJP आतंकी संगठन, मुस्लिमों को ही नहीं हिन्दुओं को भी लड़वा रही }

भाजपा और उसकी सहयोगी इंडिजनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) ने 18 फरवरी को हुए चुनाव में 59 में से 43 सीटें जीती हैं। भाजपा ने 60 सदस्यीय विधानसभा में 35 सीटें हासिल कीं वहीं जनजातीय पार्टी आईपीएफटी ने आठ सीटों पर कब्जा जमाया है। माकपा ने 16 सीटें जीती हैं जबकि कांग्रेस अपना खाता खोलने में नाकाम रही।

जानिए कौन है बिप्लब देव?

{ यह भी पढ़ें:- अलगाववादियों पर ऐक्शन तेज, यासीन मलिक हिरासत में, मीरवाइज नजरबंद }

48 वर्षीय बिप्लब कुमार देव त्रिपुरा भाजपा अध्यक्ष हैं, उन्होंने पहली बार 2018 में चुनाव लड़ा है

बिप्लब का जन्म 25 नवंबर, 1969 को त्रिपुरा के गोमती जिले के राजधर नगर गांव में हुआ

बिप्लब देब ने त्रिपुरा के उदयपुर कॉलेज से 1999 में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की

{ यह भी पढ़ें:- चार आतंकियों के लिए मारे जाते हैं 20 सिविलियन्स : गुलाम नबी आजाद }

इसके बाद वे आगे की पढ़ाई के लिए दिल्ली चले गए

शुरुआत से ही बिप्लब का नाता जनसंघ से रहा है, उनके पिता हराधन देब जनसंघ के स्थानीय नेता थे

दिल्ली में पढ़ाई के दौरान वे राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से जुड़े और करीब 16 साल तक वे संघ के कार्यकर्ता बने रहे

उन्होंने संघ के दिग्गज नेताओं गोविंद आचार्य और कृष्णगोपाल शर्मा के संरक्षण में काम किया

{ यह भी पढ़ें:- राज्यसभा उपसभापति चुनाव: क्षेत्रीय दलों को लुभाने में लगा सत्ता पक्ष-विपक्ष }

बिप्लब देब की पत्नी नीति स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में अधिकारी हैं, उनके दो दो बच्चे एक बेटा और एक बेटी है

साफ-सुथरी छवि वाले बिप्लब को पीएम मोदी के कहने पर त्रिपुरा भेजा

उन्हें त्रिपुरा में भाजपा की ऐतिहासिक जीत का किंगमेकर कहा जा रहा है