आतंकी धमाके से दहला सोमालिया, 276 की मौत 250 से ज़्यादा घायल

नई दिल्ली। सोमालिया की राजधानी मोगादिशू में शनिवार को एक होटल और बाजार के बाहर हुए ट्रक बम विस्फोट में मृतकों की संख्या बढ़कर 276 हो गई है। सोमालिया के अधिकारियों ने इस ब्लास्ट को अबतक का सबसे घातक आतंकी हमला बताया है। इस हमले में 250 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। प्रेसिडेंट अब्दुल्लाही मोहम्मद फरमाजो ने इस घटना को लेकर तीन दिन के राष्ट्रीय शोक का एलान किया है। मंत्रालयों के नजदीक वाले देश के महत्वपूर्ण इलाके में विस्फोटक भरे ट्रक से धमाका किया गया।

अक्सर हमले झेलने वाले सोमालिया में यह सबसे बड़ा आतंकी हमला था। अस्पताल में घायलों की जो दशा है, उसके चलते मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। मारे गए लोगों की लाशें इस तरह से जली और क्षत-विक्षत हुई हैं कि उन्हें पहचानना मुश्किल हो रहा है। तमाम लोगों को बिना पहचान के ही दफन करना पड़ सकता है।

सोमालिया की सरकार ने इस बम धमाके के लिए चरमपंथी आतंकी संगठन अल-शबाब को जिम्मेदार बताया है। अल-शबाब का नाम पहले कई बार अल-कायदा जैसे आतंकी संगठनों से जुड़ता रहा है। प्रेसिडेंट अब्दुल्लाही मोहम्मद फरमाजो ने इस घटना पर अफसोस जताते हुए रविवार से तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। उन्होंने पूरे देश से इस दुख के समय में आतंकवाद के खिलाफ साथ खड़े होने की अपील भी की।

Truck Bomb Blast In Somalia Capital Mogadishu :

देखें दिल दहला देने वाली तस्वीरें…

नई दिल्ली। सोमालिया की राजधानी मोगादिशू में शनिवार को एक होटल और बाजार के बाहर हुए ट्रक बम विस्फोट में मृतकों की संख्या बढ़कर 276 हो गई है। सोमालिया के अधिकारियों ने इस ब्लास्ट को अबतक का सबसे घातक आतंकी हमला बताया है। इस हमले में 250 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। प्रेसिडेंट अब्दुल्लाही मोहम्मद फरमाजो ने इस घटना को लेकर तीन दिन के राष्ट्रीय शोक का एलान किया है। मंत्रालयों के नजदीक वाले देश के महत्वपूर्ण इलाके में विस्फोटक भरे ट्रक से धमाका किया गया। अक्सर हमले झेलने वाले सोमालिया में यह सबसे बड़ा आतंकी हमला था। अस्पताल में घायलों की जो दशा है, उसके चलते मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। मारे गए लोगों की लाशें इस तरह से जली और क्षत-विक्षत हुई हैं कि उन्हें पहचानना मुश्किल हो रहा है। तमाम लोगों को बिना पहचान के ही दफन करना पड़ सकता है। सोमालिया की सरकार ने इस बम धमाके के लिए चरमपंथी आतंकी संगठन अल-शबाब को जिम्मेदार बताया है। अल-शबाब का नाम पहले कई बार अल-कायदा जैसे आतंकी संगठनों से जुड़ता रहा है। प्रेसिडेंट अब्दुल्लाही मोहम्मद फरमाजो ने इस घटना पर अफसोस जताते हुए रविवार से तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है। उन्होंने पूरे देश से इस दुख के समय में आतंकवाद के खिलाफ साथ खड़े होने की अपील भी की। देखें दिल दहला देने वाली तस्वीरें...