ट्रंप ने मेट्रो हमले को लेकर पुतिन को पूरा समर्थन देने का रखा प्रस्ताव

न्यूयार्क: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन से फोन पर बात की और सेंट पीटर्सबर्ग मेट्रो स्टेशन में हुए घातक हमले का जवाब देने और अपराधियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए रूस को पूरा समर्थन देने का प्रस्ताव रखा। ट्रंप ने सेंट पीटर्सबर्ग में हुए विस्फोट को एक भयानक घटना करार देते हुए इसकी निंदा की है।




ट्रंप ने सोमवार को संवाददाताओं से कहा कि भयानक। भयानक घटना। दुनिया में सभी जगह ऐसा हो रहा है। यह एक अत्यंत भयानक घटना है। इस दौरान ट्रंप के साथ मिस्र के राष्ट्रपति अब्दुल अल सीसी भी थे। ट्रंप और पुतिन की फोन पर हुई बातचीत के बाद जारी एक बयान में व्हाइट हाउस ने कहा कि राष्ट्रपति ने पीड़ितों एवं उनके परिजन और रूसी लोगों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है। व्हाइट हाउस ने कहा कि ट्रंप ने हमले का जवाब देने और अपराधियों को न्याय के दायरे में लाने के लिए अमेरिका सरकार के पूर्ण सहयोग का प्रस्ताव रखा।




उसने बताया कि दोनों नेताओं ने इस बात पर सहमति जताई कि आतंकवाद को निर्णायक तरीके से और शीघ्र हराया जाना चाहिए। व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने कहा कि अमेरिका हिंसा के इस कृत्य की निंदा करता है। उन्होंने मृतकों के परिजन के प्रति संवेदना प्रकट की। स्पाइसर ने सोमवार को नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि राष्ट्रपति को सेंट पीटर्सबर्ग मेट्रो में हुए हमले की जानकारी दी गई।

अमेरिका इस निंदनीय हमले और हिंसा के इस कृत्य की आलोचना करता है। उन्होंने कहा कि अमेरिका रूस को सहायता देने को तैयार है जिसकी उसे इस अपराध की जांच में आवश्यकता हो सकती है।