ट्रंप की प्रेस वार्ता: CAA-दिल्ली हिंसा के सवाल पर ट्रंप बोले-ये भारत का अंदरूनी मामला

trump press confrence
ट्रंप की प्रेस वार्ता: CAA-दिल्ली हिंसा के सवाल पर ट्रंप बोले-ये भारत का अंदरूनी मामला

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे का आज दूसरा दिन है। दूसरे दिन हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी के साथ ट्रंप की डेढ़ घंटे वार्ता हुई। इस दौरान दोनो के बीच डिफेंस डील पर चर्चा हुई जिसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ने प्रेस के सामने ऐलान किया कि भारत अमेरिका के बीच 3 बिलियन डॉलर की डिफेंस डील पक्की हुई है। वहीं शाम को ट्रंप जब प्रेस वार्ता करने आये तो पत्रकारों ने भारत में हो रहे सीएए विरोध और दिल्ली हिंसा पर उनसे सवाल पूछ लिया। लेकिन डोनाल्ड ट्रंप ने इसे भारत का अंदरूनी मामला बताते हुए टाल दिया।

Trumps Press Talk Trump On Caa Delhi Violence Question Indias Internal Matter :

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि ये यात्रा मेरे और मेरे परिवार के लिए यादगार रहेगी। भारत में हमारे दो दिन बहुत शानदार गुजरे हैं। इस दौरान पीएम मोदी के साथ सकारात्म बातचीत हुई। पत्रकारों से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा कि भारत एक सचमुच महान देश है। इस वक्त भारत-अमेरिका के रिश्ते सबसे अच्छे हैं। दोनों देशों के द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा हुई है। हमने कई मुद्दों पर विचार किया है। हम भारत के साथ आपसी संबंधों को बढ़ावा देना चाहते हैं। हम पूरे विश्व में शांत चाहते हैं। अफगानिस्तान में शांति लाने की दिशा में काम जारी है। कोई बेगुनाह नहीं मारा जाना चाहिए।

ट्रंप ने कहा इस्लामिक आतंकवाद ना फैले इस दिशा में हम प्रयासरत है। सीरिया में जो हुआ उसे पूरे विश्व ने देखा। हम इसे रोकने के दिशा में काम कर रहे हैं। आतंकवाद पर नकेल कसने के लिए हमने कई कदम उठाए हैं। रेडिकल इस्लाम जड़ से खत्म करने का प्रयास जारी है। इसके लिए सभी देशों को मदद के लिए आगे आना चाहिए। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रंप से दिल्ली हिंसा पर भी सवाल पूछा गया। इस पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से इस मसले पर कोई बात नहीं हुई। ट्रंप ने कहा कि बाकी देशों के मुकाबले भारत ज्यादा धार्मिक है। इस पीएम मोदी से बातचीत भी हुई है।

ट्रंप ने कहा कि भारत में कई कंपनियां निवेश कर रही हैं। भारत का बाजार बड़ा है। भारत आने वाले समय में बहुत सशक्त होने जा रहे हैं। आर्थिक रूप से भारत आगे बढ़ रहा है। पीएम मोदी इस्लाम और ईसाई के लिए भी काम कर रहे हैं। आर्टिकल-370 भारत-पाकिस्तान के बीच का मामला है। ये लंबे वक्त से चला आ रहा है। CAA पर ट्रंप ने कहा कि इस पर भारत खुद फैसला करेगा। ये उसका अंदरूनी मामला है। इस पर पीएम मोदी से कोई बातचीत नहीं हुई है।

H-1B वीजा पर ट्रंप ने कहा कि इसको लेकर पीएम मोदी से बातचीत हुई थी। आतंकवाद के खिलाफ भारत-अमेरिका एक हैं। आतंकवाद को लेकर पीएम मोदी काफी सशक्त हैं। हम चाहते हैं कि भारत-पाकिस्तान करीब आएं। इसके लिए मैं मध्यस्थता के लिए भी तैयार हूं। पाक प्रधानमंत्री इमरान खान से मेरे अच्छे संबंध हैं।

नई दिल्ली। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे का आज दूसरा दिन है। दूसरे दिन हैदराबाद हाउस में पीएम मोदी के साथ ट्रंप की डेढ़ घंटे वार्ता हुई। इस दौरान दोनो के बीच डिफेंस डील पर चर्चा हुई जिसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ने प्रेस के सामने ऐलान किया कि भारत अमेरिका के बीच 3 बिलियन डॉलर की डिफेंस डील पक्की हुई है। वहीं शाम को ट्रंप जब प्रेस वार्ता करने आये तो पत्रकारों ने भारत में हो रहे सीएए विरोध और दिल्ली हिंसा पर उनसे सवाल पूछ लिया। लेकिन डोनाल्ड ट्रंप ने इसे भारत का अंदरूनी मामला बताते हुए टाल दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि ये यात्रा मेरे और मेरे परिवार के लिए यादगार रहेगी। भारत में हमारे दो दिन बहुत शानदार गुजरे हैं। इस दौरान पीएम मोदी के साथ सकारात्म बातचीत हुई। पत्रकारों से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा कि भारत एक सचमुच महान देश है। इस वक्त भारत-अमेरिका के रिश्ते सबसे अच्छे हैं। दोनों देशों के द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा हुई है। हमने कई मुद्दों पर विचार किया है। हम भारत के साथ आपसी संबंधों को बढ़ावा देना चाहते हैं। हम पूरे विश्व में शांत चाहते हैं। अफगानिस्तान में शांति लाने की दिशा में काम जारी है। कोई बेगुनाह नहीं मारा जाना चाहिए। ट्रंप ने कहा इस्लामिक आतंकवाद ना फैले इस दिशा में हम प्रयासरत है। सीरिया में जो हुआ उसे पूरे विश्व ने देखा। हम इसे रोकने के दिशा में काम कर रहे हैं। आतंकवाद पर नकेल कसने के लिए हमने कई कदम उठाए हैं। रेडिकल इस्लाम जड़ से खत्म करने का प्रयास जारी है। इसके लिए सभी देशों को मदद के लिए आगे आना चाहिए। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रंप से दिल्ली हिंसा पर भी सवाल पूछा गया। इस पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से इस मसले पर कोई बात नहीं हुई। ट्रंप ने कहा कि बाकी देशों के मुकाबले भारत ज्यादा धार्मिक है। इस पीएम मोदी से बातचीत भी हुई है। ट्रंप ने कहा कि भारत में कई कंपनियां निवेश कर रही हैं। भारत का बाजार बड़ा है। भारत आने वाले समय में बहुत सशक्त होने जा रहे हैं। आर्थिक रूप से भारत आगे बढ़ रहा है। पीएम मोदी इस्लाम और ईसाई के लिए भी काम कर रहे हैं। आर्टिकल-370 भारत-पाकिस्तान के बीच का मामला है। ये लंबे वक्त से चला आ रहा है। CAA पर ट्रंप ने कहा कि इस पर भारत खुद फैसला करेगा। ये उसका अंदरूनी मामला है। इस पर पीएम मोदी से कोई बातचीत नहीं हुई है। H-1B वीजा पर ट्रंप ने कहा कि इसको लेकर पीएम मोदी से बातचीत हुई थी। आतंकवाद के खिलाफ भारत-अमेरिका एक हैं। आतंकवाद को लेकर पीएम मोदी काफी सशक्त हैं। हम चाहते हैं कि भारत-पाकिस्तान करीब आएं। इसके लिए मैं मध्यस्थता के लिए भी तैयार हूं। पाक प्रधानमंत्री इमरान खान से मेरे अच्छे संबंध हैं।