अब वातानुकूलित क्रूज से कर सकेंगे बनारस दर्शन, इस दिन से होगी शुरुआत

cruze banaras
अब वातानुकूलित क्रूज से कर सकेंगे बनारस दर्शन, इस दिन से होगी शुरुआत

वाराणसी। स्वतंत्रता दिवस के बाद से बनारस में गंगा घांटों के दर्शन वातानुकूलित क्रूज से कर सकेंगे। बताया जा रहा है कि इस क्रूज में पांच सितारा होटल जैसी सारी सुविधाएं रहेगी। दुनिया में अनोखे गंगा घाटों का मुख्य आकर्षण सुबह-ए-बनारस और शाम की गंगा आरती को क्रूज पर बैठकर देखना पर्यटकों के लिए अलग अनुभव होगा। इस क्रूज के संचालन के लिए ​वन विभाग ने अनुमति दे दी है।

बता दें कि स्टार्टअप इंडिया के तहत नार्डिक क्रूजलाइन अस्सी घाट से पंचगंगा घाट के बीच डबल डेकर क्रूज चलाने जा रहा है। फिलहाल इसे अस्सी से पंचगंगा घाट तक चलाया जायेगा। इसके लिए अस्सी पर जेट्टी बनाई जा रही है। बाद में पर्यटकों की मांग व गंगा में जलस्तर ठीक रहने पर इसे कैथी स्थित मार्कंडेय महादेव से लेकर मिर्जापुर के चुनार तक चलाया जायेगा। इस क्रूज के संचालन में आईडब्ल्यूएआई सहयोग करेगा। नॉर्डिक क्रूजलाइन के निदेशक विकास मालवीय ने बताया कि काशी में यह पहला क्रूज है। इसका संचालन अस्सी घाट से पंचगंगा तक प्रतिदिन होगा। हालाकि बाद में पर्यटकों की मांग पर इसका दायरा बढ़ाया जा सकता है।

{ यह भी पढ़ें:- वाराणसी : मुख्यमंत्री योगी ने काशी में की पंचकोशी परिक्रमा }

बताया जा रहा है कि डबल डेकर क्रूज का प्रथम तल वातानुकूलित होगा। इसके साथ ही द्वितीय तल पर रेस्टोरेंट और फोटोग्राफी के लिए ओपेन एरिया है। इसमें लगी बड़ी स्क्रीन पर काशी व घाटों की महत्ता का वीडियो दिखाया जायेगा। यही नही क्रूज में संगीत संध्या का भी आयोजन होगा। धार्मिक आयोजनों के लिए क्रूज के पिछले हिस्से पर रैंप बना हुआ है। सूत्रों के मुताबिक इस क्रूज में 125 लोगों के बैठने की व्यवस्था है, जहां बनारसी खाने की व्यवस्था भी रहेगी। इस क्रूज पर सफर करने के लिए सिर्फ 750 रूपए अदा करने होंगे।

{ यह भी पढ़ें:- पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र से कोलकाता की सीधी विमान सेवा शुरू }

वाराणसी। स्वतंत्रता दिवस के बाद से बनारस में गंगा घांटों के दर्शन वातानुकूलित क्रूज से कर सकेंगे। बताया जा रहा है कि इस क्रूज में पांच सितारा होटल जैसी सारी सुविधाएं रहेगी। दुनिया में अनोखे गंगा घाटों का मुख्य आकर्षण सुबह-ए-बनारस और शाम की गंगा आरती को क्रूज पर बैठकर देखना पर्यटकों के लिए अलग अनुभव होगा। इस क्रूज के संचालन के लिए ​वन विभाग ने अनुमति दे दी है। बता दें कि स्टार्टअप इंडिया के तहत नार्डिक क्रूजलाइन अस्सी…
Loading...