नाबालिग छात्र का MMS बनाकर वसूले 30 लाख, ट्यूटर बहनों ने रची पूरी साजिश

आगरा। अक्सर आपने कई ऐसे मामले सुने होंगे, जहां किसी लड़की ने खुद का एमएमएस लीक करने और उसे इंटरनेट पर वायरल करने का आरोप लगाया होगा। यूपी के आगरा से बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है, यहां ट्यूशन टीचर की बहनों ने एक नाबालिग छात्र का एमएमएस बनाकर उससे करीब 30 लाख रुपये हड़प लिये। आरोपियों ने छात्र का एमएमएस वायरल करने की धमकी देते हुए पीड़ित को 10 महीने तक ब्लैकमेल किया। मामले का खुलासा होते ही हरकत में आई पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर पैसों की बरामदगी भी कर ली है।

मिली जानकारी के मुताबिक हरीपर्वत क्षेत्र के सर्राफ की किनारी बाजार क्षेत्र में मशहूर दुकान है। उनका 15 वर्षीय बेटा कचहरी घाट क्षेत्र में ट्यूशन पढऩे जाता था। पीड़ित के मुताबिक छात्र जिस ट्यूटर के पास पढ़ने जाता है उसकी बहनें भी ट्यूशन पढ़ाती हैं। जब उन्हें पता चला कि वह अमीर परिवार से है तो उन्होंने पैसे ऐंठने के लिए साजिश रची।

{ यह भी पढ़ें:- महकमा मेहरबान तो सरकारी भवन बना प्राइवेट 'गोदाम' }

साजिश के तहत ट्यूटर की बड़ी बहन छात्र को ट्यूशन पढ़ाने लगी। एक दिन उसके कोल्डड्रिंक में नशे की गोलियां मिला दीं और छात्र को पोर्न मूवी दिखाई। फिर नाबालिग के साथ बहनों ने कैमरे के सामने यौन संबंध बनाए। बाद में आरोपियों ने छात्र को एमएमएस क्लिप दिखाकर धमकी दी गई कि अगर वह पैसे नहीं लाएगा तो यह क्लिप व्हाट्सएप और फेसबुक पर डाल दिया जाएगा।

10 महीने तक चला खेल-

{ यह भी पढ़ें:- ब्लड कैंसर पीड़िता से तीन नहीं छह लोगों ने किया था गैंगरेप, मंत्री ने इंस्पेक्टर को लगाई फटकार }

एमएमएस क्लिप को लेकर ट्यूटर बहनों ने छात्र को करीब 10 महीने तक ब्लैकमेल किया। छात्र ने 10 लाख रुपये और 20 लाख के जेवरात घर से चोरी कर इन लोगों को सौंप दिये। इसके बाद आरोपियों ने छात्र पर 15 लाख रुपये देने का दबाव बनाया, तो वह तनाव में आ गया। उसकी हालत बिगड़ती देख दादी ने पांच दिन पहले उससे बातचीत की। ब्लैकमेलिंग की कहानी बताने पर परिवार के लोगों के होश उड़ गए। उन्होंने ट्यूटर और उसकी बहनों से पूछताछ की, तो वे धमकी देने लगीं।

सर्राफ ने पूरे मामले की शिकायत एडीजी अजय आनंद से की। उसके बाद ट्यूटर और उसकी दोनों बहनों पर हरीपर्वत थाने में वसूली एवं पॉक्सो एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस ने ब्लैकमेलिंग की रकम से खरीदी कार, एक्टिवा स्कूटर आदि सामान अपने कब्जे में ले लिया है।

कई छात्रों से हुई ब्लैकमेलिंग-

{ यह भी पढ़ें:- खबर का असर: 1000 करोड़ की बंद अमृत योजनाओं की पुनर्समीक्षा करेगा जल निगम }

ब्लैकमेलिंग के शिकार छात्र ने पुलिस को बताया, ट्यूशन पढऩे वाले कई और छात्र भी युवतियों के चंगुल में हैं। वह दहशत के चलते परिजनों को अपने साथ हो रही घटना की जानकारी नहीं दे पा रहे।

Loading...