भारत की इस बेटी ने अकेले कर डाला पाकिस्तान का छीछालेदर, सिखाया सबक

नई दिल्ली। पाक अपने नापाक मंसूबों को आजमाने की कोशिश तो करता है लेकिन कही न कही चूक हो ही जाती है। पाकिस्तान अक्सर अपने प्रोपेगेंडा के तरह भारत को निशाना बनाना तो चाहता है लेकिन उसका यह डाव कई बार उल्टा पड़ जाता है। ऐसा ही एक बार फिर हुआ है। मामले की शुरुआत कवलप्रीत कौर के ट्विटर हैंडल पर मौजूद एक तस्वीर से हुई। दरअसल कवलप्रीत ने भारत में मॉब लिन्चिंग की घटनाओं पर जून 2017 में चले कैंपेन नॉट इन माय नेम में हिस्सा लिया था। दिल्ली विश्वविद्यालय की इस स्टूडेंट ऐक्टिविस्ट ने अपने ट्विटर हैंडल से हाथों में प्लेकार्ड लिए हुए अपनी एक तस्वीर पोस्ट की थी।

इस तस्वीर पर लिखा था, ”मैं एक भारतीय नागरिक हूं जो अपने धर्मनिर्पेक्ष संविधान के साथ खड़ी हूं, मैं मुस्लिमों के सांप्रदायिक मॉब लिंचिंग के खिलाफ लिखूंगी। #citizensagainstmoblynching”

{ यह भी पढ़ें:- संसद पर हमले की 16वीं बरसी: श्रद्धांजलि सभा में पीएम मोदी और विपक्ष के नेता रहे मौजूद }

पाक डिफेंस नाम के ट्विटर हैंडल से कवलप्रीत कौर की इस तस्वीर को भारत के खिलाफ मॉर्फ कर के इस्तेमाल किया और कवलप्रीत के संदेश को बदल दिया। छेड़छाड़ की गई तस्वीर में में लिखा था, ”मैं भारतीय हूं लेकिन मुझे भारत से नफरत है, क्योंकि यह औपनिवेशिक इकाई है जिसने नागा, कश्मीर, मणिपुरी आदि राज्यों पर कब्जा किया है।”

पाकिस्तान अपने प्रोपेगेंडा में कामयाब हो पाता उससे पहले ही कवलप्रीत ने इस प्रोपेगेंडा की शिकायत ट्विटर से कर दी। जिस पर कड़ी कार्रवाई करते हुए ट्विटर ने पाक डिफेंस नाम के इस ट्विटर हैंडल को बंद कर दिया।

{ यह भी पढ़ें:- जम्मू कश्मीर: मुठभेड़ में तीन आतंकी ढेर, एक महिला की मौत }

ये पहला मौका नहीं है जब पाकिस्तान ने हिंदुस्तान के खिलाफ दुष्प्रचार के लिए फर्जी तस्वीर का इस्तेमाल किया हो। इससे पहले भी यूएन में मलीहा लोधी ने फिलिस्तीन की महिला की फर्जी तस्वीर दिखा कर कश्मीर का बताया था, जिस पर पाकिस्तान की थू-थू हुई थी।

Loading...