मध्य प्रदेश : बीजेपी के दो विधायकों ने कमल के पक्ष में डाला वोट, मचा हड़कंप

CM Kamalnath
नागरिकता संशोधन कानून: भोपाल में CM कमलनाथ ने निकाला शांति मार्च, शिवराज ने कही ये बात

भोपाल। कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी की सरकार गिराने के बाद अब सत्ता के गलियारों में चर्चाएं हैं, कि अब मध्य प्रदेश में भी कुछ बड़ा उलटफेर होने वाला है। हालांकि, बुधवार को जो खबर सामने आई है, उसने भारतीय जनता पार्टी के होश उड़ा दिए।

Two Bjp Mlas Voted For Kamals Vote :

मध्य प्रदेश विधानसभा में अपराध कानून (संशोधन) पर वोटिंग के दौरान बुधवार को भारतीय जनता पार्टी के दो विधायकों ने कमलनाथ सरकार के पक्ष में वोट किया। इस बात का खुलासा खुद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पत्रकार वार्ता के दौरान किया। जिससे बीजेपी में खलबली मच गई है।

बता दें कि कमलनाथ सरकार के पक्ष में बिल पर वोट कर बीजेपी की किरकिरी करनेवाले दो विधायकों में से एक नारायण त्रिपाठी ने कहा- यह मेरी घर वापसी है। वो कांग्रेस के विधायक थे, जिन्होने 2014 में बीजेपी का दामन थाम लिया था। विधायक ने दावा किया कि इस बिल पर बीजेपी के जिस दूसरे विधायक ने कमलनाथ सरकार का समर्थन किया वो शरद कौल हैं।

इस वोटिंग के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- ‘’रोजाना भारतीय जनता पार्टी कहती है कि हमारी सरकार अल्पमत वाली सरकार है और यह किसी भी दिन गिर जाएगी, आज विधानसभा में वोटिंग के दौरान भारतीय जनता पार्टी के 2 विधायकों ने हमारी सरकार के पक्ष में वोट डाला है।”

भोपाल। कर्नाटक में एचडी कुमारस्वामी की सरकार गिराने के बाद अब सत्ता के गलियारों में चर्चाएं हैं, कि अब मध्य प्रदेश में भी कुछ बड़ा उलटफेर होने वाला है। हालांकि, बुधवार को जो खबर सामने आई है, उसने भारतीय जनता पार्टी के होश उड़ा दिए। मध्य प्रदेश विधानसभा में अपराध कानून (संशोधन) पर वोटिंग के दौरान बुधवार को भारतीय जनता पार्टी के दो विधायकों ने कमलनाथ सरकार के पक्ष में वोट किया। इस बात का खुलासा खुद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने पत्रकार वार्ता के दौरान किया। जिससे बीजेपी में खलबली मच गई है। बता दें कि कमलनाथ सरकार के पक्ष में बिल पर वोट कर बीजेपी की किरकिरी करनेवाले दो विधायकों में से एक नारायण त्रिपाठी ने कहा- यह मेरी घर वापसी है। वो कांग्रेस के विधायक थे, जिन्होने 2014 में बीजेपी का दामन थाम लिया था। विधायक ने दावा किया कि इस बिल पर बीजेपी के जिस दूसरे विधायक ने कमलनाथ सरकार का समर्थन किया वो शरद कौल हैं। इस वोटिंग के बाद मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा- ‘’रोजाना भारतीय जनता पार्टी कहती है कि हमारी सरकार अल्पमत वाली सरकार है और यह किसी भी दिन गिर जाएगी, आज विधानसभा में वोटिंग के दौरान भारतीय जनता पार्टी के 2 विधायकों ने हमारी सरकार के पक्ष में वोट डाला है।”