शर्मनाक: 15 साल की सगी बहन से चार साल तक रेप करते रहे दो दरिंदे

meerat rape case
शर्मनाक: 15 साल की सगी बहन से चार साल तक रेप करते रहे दो दरिंदे

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक ऐसी घटना सामने आई, जिसने भाई—बहन के रिश्ते को शर्मसार कर कर दिया। दरअसल यहां रहने वाली 15 साल की किशोरी के साथ उसके ही दो सगे भाइयों ने कथित रुप से कई बार दुष्कर्म किया। बताया जा रहा है कि 15 साल की लड़की के साथ उसके दो भाइयों ने चार साल तक उसका बलात्कार किया।

Two Boys Raped His Sister Till Four Years :

एसपी सिटी रणविजय सिंह का कहना है कि पीड़ित किशोरी ने काफी हिम्मत के बाद इसकी शिकायत पुलिस से की। जिसके बाद जांच पड़ताल शुरु कर ​की। फिलहाल दोनों आरोपी भाइयों के खिलाफ साक्ष्य के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन्होंने पूछताछ में अपने गुनाह को कुबूल भी कर लिया है।

बता दें कि घटना थाना सिविल लाइन क्षेत्र की है। यहां रहने वाली पीड़िता के अनुसार उसके दो सगे भाई धर्मेश और प्रशान्त पिछले 4 साल से उसके साथ बलात्कार कर रहे थे। विरोध करने पर मां को जान से मारने की धमकी देने के साथ दोनों उससे मारपीट भी करते हैं।

पीड़िता के मुताबिक उसके पिता दिल के मरीज थे, जिनकी पिछले साल ही मौत हुई है। घर पर मां और दो भाई हैं। मानसिक और शारारिक रुप से बहुत ज्यादा पीड़ित होने के बाद वो मेरठ की सामाजिक संस्था सर्वोदय के पदाधिकारियों से मिली। संस्था का साथ मिलने के बाद फिर उसने हिम्मत करके पुलिस को घटना के संबंध में तहरीर दी।

मेरठ। उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में एक ऐसी घटना सामने आई, जिसने भाई—बहन के रिश्ते को शर्मसार कर कर दिया। दरअसल यहां रहने वाली 15 साल की किशोरी के साथ उसके ही दो सगे भाइयों ने कथित रुप से कई बार दुष्कर्म किया। बताया जा रहा है कि 15 साल की लड़की के साथ उसके दो भाइयों ने चार साल तक उसका बलात्कार किया।एसपी सिटी रणविजय सिंह का कहना है कि पीड़ित किशोरी ने काफी हिम्मत के बाद इसकी शिकायत पुलिस से की। जिसके बाद जांच पड़ताल शुरु कर ​की। फिलहाल दोनों आरोपी भाइयों के खिलाफ साक्ष्य के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन्होंने पूछताछ में अपने गुनाह को कुबूल भी कर लिया है।बता दें कि घटना थाना सिविल लाइन क्षेत्र की है। यहां रहने वाली पीड़िता के अनुसार उसके दो सगे भाई धर्मेश और प्रशान्त पिछले 4 साल से उसके साथ बलात्कार कर रहे थे। विरोध करने पर मां को जान से मारने की धमकी देने के साथ दोनों उससे मारपीट भी करते हैं।पीड़िता के मुताबिक उसके पिता दिल के मरीज थे, जिनकी पिछले साल ही मौत हुई है। घर पर मां और दो भाई हैं। मानसिक और शारारिक रुप से बहुत ज्यादा पीड़ित होने के बाद वो मेरठ की सामाजिक संस्था सर्वोदय के पदाधिकारियों से मिली। संस्था का साथ मिलने के बाद फिर उसने हिम्मत करके पुलिस को घटना के संबंध में तहरीर दी।