ग्रेटर नोएडा में गिरीं दो इमारतें, 3 की मौत बचावकार्य जारी

नई दिल्ली। दिल्ली एनसीआर के ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना क्षेत्र के शाहबेरी में मंगलवार रात एक 6 मंजिला इमारत और एक 4 मंजिला इमारत भरभराकर कर गिर गई। बताया जा रहा है कि शाहबेरी में निर्माणाधीन बिल्डिंग के बगल में पहले से ही एक बिल्डिंग बनी हुई थी। निर्माणाधीन इमारत पुरानी इमारत पर गिर गई। इस दुर्घटना से 3 लोगों की मौत हो गयी वहीं मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है जिन्हें निकालने का काम प्रशासन कर रहा है। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच चुकी है और बचाव कार्य तेजी से चल रहा है हालांकि इसके लिए जेसीबी मिशीनों की भी मदद ली जा रही है।

Two Buildings Collapsed In Greater Noida :

यह है पूरा मामला

यह घटना मंगलवार रात साढ़े आठ बजे हुई वहीं घटना के बाद मुख्य बिल्डर समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार हुआ व्यक्ति बिल्डर गंगा शरण द्विवेदी जमीन का मालिक है। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा घटनास्थल पर पहुंचे, उन्होंने कहा कि लोगों की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है। बताया जा रहा है 4 मंजिला इमारत में कुल 18 परिवार रह रहे थे, जिनमें 30 से 32 लोगों के होने की बात कही जा रही है।

बचाव कार्य में जुटी टीम

एनडीआरएफ की टीम के साथ डॉग स्क्वॉड की टीम भी मौके पर बचाव कार्य में जुट गई है जबकि मलबा हटाने के लिए जीसीबी की भी मदद ली जा रही है। घटना के बाद घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए 12 एंबुलेंस भी मौके पर मौजूद हैं।

नई दिल्ली। दिल्ली एनसीआर के ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना क्षेत्र के शाहबेरी में मंगलवार रात एक 6 मंजिला इमारत और एक 4 मंजिला इमारत भरभराकर कर गिर गई। बताया जा रहा है कि शाहबेरी में निर्माणाधीन बिल्डिंग के बगल में पहले से ही एक बिल्डिंग बनी हुई थी। निर्माणाधीन इमारत पुरानी इमारत पर गिर गई। इस दुर्घटना से 3 लोगों की मौत हो गयी वहीं मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है जिन्हें निकालने का काम प्रशासन कर रहा है। एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंच चुकी है और बचाव कार्य तेजी से चल रहा है हालांकि इसके लिए जेसीबी मिशीनों की भी मदद ली जा रही है। यह है पूरा मामला यह घटना मंगलवार रात साढ़े आठ बजे हुई वहीं घटना के बाद मुख्य बिल्डर समेत तीन लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार हुआ व्यक्ति बिल्डर गंगा शरण द्विवेदी जमीन का मालिक है। वहीं घटना की जानकारी मिलते ही केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा घटनास्थल पर पहुंचे, उन्होंने कहा कि लोगों की जान बचाना हमारी प्राथमिकता है। बताया जा रहा है 4 मंजिला इमारत में कुल 18 परिवार रह रहे थे, जिनमें 30 से 32 लोगों के होने की बात कही जा रही है। बचाव कार्य में जुटी टीम एनडीआरएफ की टीम के साथ डॉग स्क्वॉड की टीम भी मौके पर बचाव कार्य में जुट गई है जबकि मलबा हटाने के लिए जीसीबी की भी मदद ली जा रही है। घटना के बाद घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए 12 एंबुलेंस भी मौके पर मौजूद हैं।