पूर्व बीजेपी विधायक के बेटे के हत्यारोपी गिरफ्तार, सरेंडर की जुगत में थे हिस्ट्रीशीटर

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में शनिवार रात पूर्व बीजेपी विधायक जिप्पी तिवारी के बेटे वैभव तिवारी (36) की हजरतगंज स्थित कसमंडा हाउस परिसर में गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। पुलिस ने हत्या करने वाले हिस्ट्रीशीटर विक्रम सिंह और सूरज शुक्ला को मंगलवार दोपहर को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक दोनों आरोपी कोर्ट में आत्मसमर्पण करने के लिए आए हुए थे।

पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान लखनऊ में स्थानीय अदालतों के आसपास में कड़ा पहरा लगाया गया था। सादे वेश में भी पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई थी जिससे कि हत्या के आरोपियों को पकड़ा जा सके।

{ यह भी पढ़ें:- लखनऊ में बदमाशों का तांडव, डकैती के बाद तीन को मारी गोली, दो बहनों का अपहरण }

सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज विधान सभा से बीजेपी के पूर्व विधायक प्रेम प्रकाश उर्फ जिप्पी तिवारी के ग्राम प्रधान बेटे वैभव तिवारी (30) की शनिवार रात हजरतगंज में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। वैभव को उसके दोस्त ने फोन कर बुलाया था। एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक कसमंडा हाउस के गेट के बाहर ही परिचित ने हजरतगंज के हिस्ट्रीशीटर संग मिलकर वैभव के सीने में गोली मार दी।

भाजपा के विधायक रहे जिप्पी तिवारी ने विक्रम सिंह व सुरज शुक्ला पर हत्या का आरोप लगाया था। यह दोनों उनके पुत्र वैभव के पुराने परिचित हैं।

{ यह भी पढ़ें:- ब्राइटलैंड स्कूल केस: मासूम की निशानदेही पर छात्रा से हुई पूछताछ, KGMU पहुंचे सीएम योगी }

Loading...