जापानी क्रूज में सवार दो भारतीय सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित

जापानी क्रूज
जापानी क्रूज में सवार दो भारतीय सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित

नई दिल्ली। जापान (Japan) के तट पर खड़े क्रूज जहाज डायमंड प्रिंसेस (Cruise ship Diamond Princess) पर मौजूद चालक दल के भारतीय सदस्यों में से दो के नमूने जांच में कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित पाए गए हैं। क्रूज पर 3711 लोग सवार हैं जिनमें 2666 गेस्ट और 1045 चालक दल के सदस्य हैं। इसमें 132 चालक दल के सदस्य और 6 यात्री भारतीय नागरिक हैं। भारत के क्रू मेंबर्स ने प्रधानमंत्री मोदी से खुद को बचाने की गुहार लगाई है।

Two Indian Members Aboard Japanese Cruise Infected With Corona Virus :

जहाज में 1387 भारतीय मौजूद

जहाज पर कुल 138 भारतीय मौजूद हैं जिनमें यात्री और चालक दल के सदस्य शामिल हैं। दूतावास ने एक बयान में कहा, “कोरोना वायरस संक्रमण के संदेह में जापानी अधिकारियों ने जहाज को 19 फरवरी, 2020 से ही पृथक रखा हुआ है।” उसने कहा, “अभी तक चालक दल के दो भारतीय सदस्यों सहित 174 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।”

इससे पहले पोत सवार चालक दल के भारतीय सदस्य बिनय कुमार सरकार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर कहा था कि पोत पर चालक दल के सदस्यों में 160 भारतीय हैं और आठ भारतीय मुसाफिर हैं। उन्होंने सरकार ने पोत पर से वीडियो रिकॉर्ड करके भारत सरकार और संयुक्त राष्ट्र से भारतीयों को तत्काल अलग करने की अपील की थी।

चालक दल के सदस्य ने बताई थी हालत

बंगाल के रहने वाले और खानसामा का काम करने वाले सरकार ने कहा, “उनमें से किसी की भी (कोरोना वायरस) जांच नहीं की गई है।” उन्होंने कहा, “कृपया जल्द से जल्द हमें किसी तरह से बचा लें। अगर (हमें) कुछ हो गया तो क्या होगा… मैं भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से आग्रह करता हूं कि कृपया हमें अलग कराएं और वापस सुरक्षित घर ले जाएं.।”इसके बाद भारतीय दूतावास ने मंगलवार को कहा था कि वह उस जापानी क्रूज जहाज पर सवार 138 भारतीयों के संपर्क में है जिसे कोरोना वायरस संक्रमण के कुछ मामले सामने आने के बाद जापान के पास पृथक करके रखा गया है।  

नई दिल्ली। जापान (Japan) के तट पर खड़े क्रूज जहाज डायमंड प्रिंसेस (Cruise ship Diamond Princess) पर मौजूद चालक दल के भारतीय सदस्यों में से दो के नमूने जांच में कोरोना वायरस (Corona Virus) से संक्रमित पाए गए हैं। क्रूज पर 3711 लोग सवार हैं जिनमें 2666 गेस्ट और 1045 चालक दल के सदस्य हैं। इसमें 132 चालक दल के सदस्य और 6 यात्री भारतीय नागरिक हैं। भारत के क्रू मेंबर्स ने प्रधानमंत्री मोदी से खुद को बचाने की गुहार लगाई है। जहाज में 1387 भारतीय मौजूद जहाज पर कुल 138 भारतीय मौजूद हैं जिनमें यात्री और चालक दल के सदस्य शामिल हैं। दूतावास ने एक बयान में कहा, "कोरोना वायरस संक्रमण के संदेह में जापानी अधिकारियों ने जहाज को 19 फरवरी, 2020 से ही पृथक रखा हुआ है।" उसने कहा, "अभी तक चालक दल के दो भारतीय सदस्यों सहित 174 लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है।" इससे पहले पोत सवार चालक दल के भारतीय सदस्य बिनय कुमार सरकार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर एक वीडियो जारी कर कहा था कि पोत पर चालक दल के सदस्यों में 160 भारतीय हैं और आठ भारतीय मुसाफिर हैं। उन्होंने सरकार ने पोत पर से वीडियो रिकॉर्ड करके भारत सरकार और संयुक्त राष्ट्र से भारतीयों को तत्काल अलग करने की अपील की थी। चालक दल के सदस्य ने बताई थी हालत बंगाल के रहने वाले और खानसामा का काम करने वाले सरकार ने कहा, "उनमें से किसी की भी (कोरोना वायरस) जांच नहीं की गई है।" उन्होंने कहा, "कृपया जल्द से जल्द हमें किसी तरह से बचा लें। अगर (हमें) कुछ हो गया तो क्या होगा... मैं भारत सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से आग्रह करता हूं कि कृपया हमें अलग कराएं और वापस सुरक्षित घर ले जाएं.।"इसके बाद भारतीय दूतावास ने मंगलवार को कहा था कि वह उस जापानी क्रूज जहाज पर सवार 138 भारतीयों के संपर्क में है जिसे कोरोना वायरस संक्रमण के कुछ मामले सामने आने के बाद जापान के पास पृथक करके रखा गया है।